कंगना रनौत की खुली चेतावनी- पीठ पीछे वार किया, दुश्‍मनों में ह‍िम्‍मत है तो सामने आएं

महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने अदाकारा कंगना रनौत के ऑफ‍िस को अवैध न‍िर्माण बताते हुए तोड़ द‍िया है। इस कार्रवाई को बदले की भावना बताते हुए हर तरफ निंदा हो रही है।

Kangana Ranaut
Kangana Ranaut  

मुख्य बातें

  • श‍िवसेना की धमकी के बावजूद मुंबई पहुंच गईं कंगना रनौत
  • बीएमसी के सहारे महाराष्ट्र सरकार ने ऑफ‍िस तोड़ा
  • कार्रवाई को बदले की भावना बताते हुए हो रही न‍िंदा

महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने अदाकारा कंगना रनौत के ऑफ‍िस को अवैध न‍िर्माण बताते हुए तोड़ द‍िया है। जेसीबी मशीन और बीएमसी के दर्जनभर से अधिक कर्मियों ने इस ऑफ‍िस को अंदर और बाहर से तहस नहस कर दिया है। यह कार्रवाई तक की गई जब कंगना रनौत हिमाचल प्रदेश से मुंबई के रास्‍ते में थीं। इस कार्रवाई को बदले की भावना बताते हुए हर तरफ निंदा हो रही है। सोशल मीडिया पर उद्धव ठाकरे सरकार का खूब विरोध हो रहा है और कंगना के समर्थन में लोग जुट गए हैं। 

वहीं इस कार्रवाई से आहत अदाकारा कंगना रनौत ने भी अपना गुस्‍सा जाहिर किया है। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा, 'मैं अपनी मुंबई में हूं, अपने घर में हूं। मुझपे वार भी हुआ तो पीठ पीछे जब मैं फ़्लाइट में थी। सामने नोटिस देने की या वार करने की हिम्मत नहीं है मेरे दुश्मनों में ये जानकर अच्छा लगा। बहुत लोग मुझे पहुंचाई हुई हानि से दुखी और चिंतित हैं। मैं उनके आशीर्वाद और स्नेह की आभारी हूं।' कंगना रनौत ने ट्वीट में साफ किया है कि शिवसेना की सरकार ने पीठ पीछे उन पर वार किया है जबकि सामने आने की हिम्‍मत उनमें नहीं है।

ऑफ‍िस गिराने पर बीएमसी को कहा था बाबर

ऑफ‍िस को गिराने की कार्रवाई पर कंगना रनौत ने बीएमसी और सरकार की तुलना बाबर से की थी। उन्‍होंने कहा था, 'मणिकर्णिका फ़िल्म्ज़ में पहली फ़िल्म अयोध्या की घोषणा हुई, यह मेरे लिए एक इमारत नहीं राम मंदिर ही है, आज वहां बाबर आया है। आज इतिहास फिर खुद को दोहराएगा राम मंदिर फिर टूटेगा। मगर याद रख बाबर यह मंदिर फिर बनेगा। यह मंदिर फिर बनेगा, जय श्री राम , जय श्री राम , जय श्री राम'

ना डरूंगी और ना झुकूंगी: कंगना रनौत

महाराष्ट्र सरकार की इस कार्रवाई और लगातार मिल रही धमकियों पर कंगना रनौत ने कहा कि ना उन्‍हें कोई डरा पाएगा और ना कोई झुका पाएगा। उन्‍होंने ट्वीट किया- रानी लक्ष्मीबाई के साहस, शौर्य और बलिदान को मैंने फ‍िल्‍म के जरिए जिया है। दुख की बात यह है मुझे मेरे ही महाराष्ट्र में आने से रोका जा रहा है। मैं रानी लक्ष्मीबाई के पद चिन्हों पर चलूंगी। ना डरूंगी, ना झुकूंगी। गलत के ख़िलाफ़ मुखर होकर आवाज उठाती रहूंगी। जय महाराष्ट्र, जय शिवाजी। 

Bollywood News in Hindi (बॉलीवुड न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर । साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) केअपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर