कोरियोग्राफर गणेश हिवारका का खुलासा, सुशांत सिंह राजपूत ने मुझे एक बार आत्महत्या करने से रोका

Ganesh Hiwarka on Sushant Singh Rajput: कोरियोग्राफर गणेश हिवारका ने खुलासा किया है कि दिवंगत बालीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने एक बार उन्हें आत्महत्या करने से रोका था।

Sushant Singh Rajput
सुशांत सिंह राजपूत 
मुख्य बातें
  • सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को खुदकुशी कर ली थी
  • उनका शव मुंबई में अपार्टमेंट में पंखे से लटका मिला था
  • जांच में पता चला कि सुशांत को बायपोलर डिसऑर्डर था

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को आत्महत्या कर ली थी। सुशांत के यूं दुनिया से चले जाने से हर कोई हैरान है। सभी के जेहन में यही सवाल है कि सुशांत ने ऐसा जानलेवा कदम क्यों उठाया? खुदकुशी के मामले में मुंबई पुलिस लगातार जांच कर रही है। पुलिस पता लगाने में जुटी है कि आखिर किन परिस्थितियों के कारण सुशांत ने अपनी जान दी। इस बीच सुशांत के कोरियोग्राफर दोस्त गणेश हिवारका ने खुलासा किया है कि दिवंगत एक्टर ने एक मर्तबा उन्हें आत्महत्या करने से रोका था। गणेश ने कहा कि मुझे आत्महत्या से रोकने वाला खुद कैसे ऐसा कदम उठा सकता है।

sushant singh rajput death case

एक न्यूज चैनल से बात करते हुए गणेश हिवारका ने कहा कि उनकी सुशांत सिंह राजपूत से मुलाकात साल 2007 में हुई थी। गणेश ने कहा कि सुशांत के साथ बातचीत के दौरान उन्होंने अपनी गर्लफ्रेंड के साथ ब्रेकअप के बाद मन में आने वाले आत्महत्या के ख्यालों का जिक्र किया था। गणेश ने कहा कि उस समय सुशांत उनके साथ कई घंटों बैठे थे और समझाया था कि ऐसा कदम नहीं उठाना चाहिए। गणेश ने कहा कि एक ऐसा शख्स आखिर कैसे खुद ऐसा जानलेवा कदम उठा सकता है। 

वहीं, हाल ही में सुशांत सिंह राजपूत की एक्स गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे ने टाइम्स नाऊ से बात करते हुए कहा था कि वह एक खुशमिजाज शख्स थे। वह  ऐसे इंसान नहीं थे जो डिप्रेस हो जाएं और अपनी ही जान ले लें। अंकिता ने कहा कि वह इस बात पर कभी विश्वास नहीं कर सकतीं कि सुशांत आत्महत्या कर सकते हैं।

Sushant Singh Rajput

गौरतलब है कि मुंबई के पुलिस कमिश्‍नर परमबीर सिंह ने सोमवार को कहा, 'जांच में पता चला कि सुशांत सिंह राजपूत को बायपोलर डिसऑर्डर था। उनके साइकेट्रिस्ट उनका इलाज कर रहे थे और वो निरंतर दवाईयां लेते थे। 'क्या परिस्थितियां थी कि उन्होंने अपनी जान ली' यही हमारा जांच का विषय है।' उन्होंने कहा, 'अब तक 56 लोगों के बयान दर्ज किए जा चुके हैं, जितने भी एंगल आ रहे हैं हम हर एंगल से जांच कर रहे हैं, चाहे वो पेशेवर प्रतिद्वंद्विता, फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन या हेल्थ से संबंधित जांच हो।' 

Times Now Navbharat पर पढ़ें Entertainment News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर