67th National Film Awards: सुपरस्‍टार रजनीकांत का 'महासम्‍मान', उपराष्ट्रपति ने दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से नवाजा

67th National Film Awards: सुपरस्‍टार रजनीकांत को भारतीय सिनेमा जगत में अतुलनीय योगदान के लिए दादा साहब फाल्‍के अवार्ड से सम्‍मानित किया गया। यह पुरस्‍कार उन्‍हें 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह के दौरान दिया गया।

Rajinikanth, Dadasaheb Phalke award
Rajinikanth 
मुख्य बातें
  • 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह में का किया गया आयोजन
  • रजनीकांत को दादा साहब फाल्‍के अवार्ड से नवाजा गया
  • सोशल मीडिया पर बधाई देने का सिलसिला हुआ शुरू

67th National Film Awards, Dadasaheb Phalke award to Rajinikanth: सुपरस्टार रजनीकांत को भारतीय सिनेमा के सर्वोच्च सम्मान यानिन दादा साहब फाल्के पुरस्कार से नवाजा गया है। 67वें फ‍िल्‍म पुरस्‍कार समारोह में उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू और केंद्रीय मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने उन्‍हें इस महासम्‍मान से सम्‍मानित किया। इस खास पल में रजनीकांत के साथ उनके गुरु दिवंगत फिल्म निर्माता के. बालाचंदर के न होने पर वह मायूस नजर आए लेकिन उनके चाहने वाले बेहद खुश हैं। अप्रैल 2021 में तत्‍कालीन केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दादा साहेब फाल्‍के पुरस्‍कार के लिए रजनीकांत के नाम की घोषणा की थी। 5 सदस्यों की ज्यूरी आशा भोसले, सुभाष घई, मोहन लाल, शंकर महादेवन और बिस्‍वजीत चटर्जी ने रजनीकांत का नाम तय किया था। 

दादा साहेब फाल्‍के पुरस्‍कार यह हिंदी स‍िनेमा का सबसे प्रतिष्ठित पुरस्‍कार माना जाता है ज‍िसकी शुरुआत सन 1969 में हुई थी। सिनेमा के पितामह कहे जाने वाले दादा साहब फाल्के के नाम पर यह सर्वोच्च पुरस्कार दिया जाता है। दादा साहेब फाल्‍के पुरस्‍कार के तहत दस लाख रुपए नगद और स्वर्ण कमल पदक व एक शाल प्रदान की जाती है। दादा साहेफ फाल्‍के ने पहली फ‍िल्‍म राजा हरिश्चन्द्र का निर्माण किया था।

साउथ के सुपरस्‍टार और बॉलीवुड मूवीज में भी अपना परचम लहरा चुके रजनीकांत को उनकी इस उपलब्धि पर उनके फैंस और सेलेब्‍स बधाइयां दे रहे हैं। समारोह का आयोजन नई दिल्ली में किया गया। इस 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह में विजेताओं को ने उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू पुरस्‍कार प्रदान किया और शुभकामनाएं दीं। रजनीकांत अवार्ड समारोह में अपनी पत्नी लता और दामाद धनुष के साथ कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे थे। उन्‍होंने सफेद कपड़े पहने।

दादा साहब फाल्के पुरस्कार के अलावा, रजनीकांत ने चार बार तमिलनाडु राज्य फिल्म पुरस्कार जीते हैं। उन्हें 2000 में प्रतिष्ठित पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था और 2016 में पद्म विभूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। इसके अलावा, रजनीकांत को गोवा में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के 45 वें संस्करण में भारतीय फिल्म व्यक्तित्व के लिए शताब्दी पुरस्कार दिया गया था। 

गुरु के साथ न होने पर हुए मायूस 

हाल ही में एक इंटरव्‍यू में रजनीकांत ने बताया कि उन्हें अपने गुरु दिवंगत फिल्म निर्माता के. बालाचंदर की याद आती है। “मैं दादा साहब फाल्के पुरस्कार प्राप्त करके बेहद खुश हूं, जो भारतीय सिनेमा का सर्वोच्च सम्मान है। मगर मुझे दुख होता है कि केबी सर [बालाचंदर] हमारे साथ नहीं हैं।”

इन्‍हें भी मिला अवार्ड 

अभिनेत्री कंगना रनौत को फिल्म 'मणिकर्णिका' और 'पंगा' के लिए बेस्ट एक्ट्रेस के अवॉर्ड से नवाजा गया। इसके अलावा रजनीकांत के दामाद धनुष, विजय सेतुपति, मनोज वाजपेयी और नवीन नूली को भी अलग अलग अवार्ड से नवाजा गया।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Entertainment News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर