दिल्ली पुलिस के इंस्पेक्टर की कोरोना से मौत, अमेरिका से लाई दवा और इंजेक्शन से भी नहीं बच सकी जान

दिल्ली में कोरोना वायरस की वजह से लगातार मौत का आंकड़ा बढ़ रहा है। इस बीच दिल्ली पुलिस के एक इंस्पेक्टर की कोरोना वायरस के चलते मौत हो गई है।

Delhi Police Inspector Sanjeev Kumar Yadav dies from coronavirus
दिल्ली पुलिस के इंस्पेक्टर की कोरोना से मौत 

मुख्य बातें

  • कोरोना वायरस के चलते दिल्ली पुलिस के एक और पुलिसर्मी की मौत
  • दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के इंस्पेक्टर संजीव कुमार यादव की मंगलवार देर रात कोरोना से मौत
  • पिछले 14 दिनों से कोरोना से जंग लड़ रहे थे संजीव यादव

नई दिल्ली: दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं और इससे मरने वालों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है। बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली पुलिस के एक इंस्पेक्टर की कोरोना वायरस के चलते मौत हो गई है। इसी साल 26 जनवरी को पुलिस मेडल पाने वाले दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के इंस्पेक्टर संजीव यादव की कल देर रात कोरोना ने जान ले ली। संजीव पिछले 2 हफ्तों से कोरोना से जंग लड़ रहे थे और मैक्स अस्पताल, साकेत में वेटिंलेटर पर थे।

अमेरिका से लाई गई थी दवा

खबरों के मुताबिक, संजीव कुमार को दो बार प्लाज्मा भी दिया गया लेकिन उसका असर नहीं हुआ। यहां तक कि विशेष अनुमित लेकर एक दवा और इंजेक्शन अमेरिका से लाकर दिया गया। लेकिन संजीव को बचाने की तमाम कोशिशें नाकाफी साबित हुई और उनकी जान चले गई। इससे पहले 26 मई को ही दिल्ली पुलिस के असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर (ASI)शेषमणि पांडेय भी कोरोना वायरस के चलते मौत हो गई है थी। शेषमणि को आर्मी के बेस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था।

पहले भी जा चुकी है कई पुलिसकर्मियों की जान

 जून माह में ही दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा में तैनात  एएसआई संजीव कुमार की कोरोना संक्रमण के कारण मौत हो गई। वह जीटीबी अस्पताल में भर्ती थे। इसके अलावा आदर्श नगर इलाके में तैनात कांस्टेबल अमित राणा, सिपाही राहुल, एसआई रामलला की भी कोरोना वायरस के चलते मौत हो गई थी। दिल्ली में दिन प्रतिदिन कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं।

1 लाख के करीब पहुंचे मामले

राजधानी दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में कोरोना के मामले एक लाख के करीब पहुंचने वाले हैं। ताजा आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में अभी तक कोरोना के 87360 मामले सामने आ चुके हैं जिनमें से 2742 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 58348 लोग स्वस्थ्य होकर घर लौट चुके हैं जबकि 26270 लोगों का इलाज चल रहा है। केंद्र और राज्य सरकार कोरोना के मामलों को रोकने के लिए तमाम प्रयास कर रहे हैं।

अगली खबर