Delhi:ज्यादा 'ई व्हीकल' और 'महिला ड्राइवरों' के साथ दिल्ली में 'सार्वजनिक परिवहन' में सुधार में जुटी केजरीवाल सरकार 

E-Vehicles in Delhi:दिल्ली सरकार राष्ट्रीय राजधानी में ई-वाहनों और उन्हें संचालित करने वाली महिला चालकों की संख्या बढ़ाने के लिए पूरी तरह तैयार है।

E Vehicle Delhi
प्रतीकात्मक फोटो 

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार दिल्ली की सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को बदलने के लिए और अधिक महिला ड्राइवरों और इलेक्ट्रिक वाहनों को इसमें शामिल करने के लिए तैयार है। अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली पार्टी ने यह भी कहा कि वह राष्ट्रीय राजधानी में परिवहन प्रणाली में "क्रांतिकारी बदलाव" (revolutionise) करने के लिए कई अन्य पहल शुरू करने की योजना बना रही है।

मीडिया से बात करते हुए, दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने पुष्टि की कि कोविड महामारी से प्रेरित लॉकडाउन के कारण नए वाहनों की डिलीवरी में कुछ देरी हुई थी, लेकिन अब दिल्ली के पास जनवरी 2022 तक 300 बसों का पहला बेड़ा होगा।

उन्होंने यह भी घोषणा की कि दिल्ली सरकार दो बैचों में 800 सीएनजी बसों का ऑर्डर देगी - पहले में 450 और दूसरे में 350। सीएनजी बसों के आने के बाद सरकार सार्वजनिक परिवहन के लिए केवल इलेक्ट्रिक बसों की खरीद करेगी। इस बीच, सरकार ने 100 इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशनों के लिए निविदाएं जारी की हैं और दूसरे चरण में ऐसे 100 और स्टेशन होंगे।

दिल्ली में हर 3 किलोमीटर के दायरे में चार्जिंग स्टेशन होंगे

डीटीसी स्टेशनों के अलावा, सरकार द्वारका सेक्टर -8, द्वारका सेक्टर 2 डिपो, महरौली टर्मिनल, नेहरू प्लेस टर्मिनल, ओखला सीडब्ल्यू- II, सुखदेव विहार डिपो और कालकाजी डिपो में ऐसे स्टेशन स्थापित करने की योजना बना रही है। परिवहन मंत्री ने आगे कहा कि अगले साल दिल्ली में हर तीन किलोमीटर के दायरे में चार्जिंग स्टेशन होंगे यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि दिल्ली में पहले से ही 100 चार्जिंग स्टेशन हैं।

'आने वाली ई-बसों में भी महिला ड्राइवर होंगी'

डीटीसी में अधिक महिला ड्राइवरों को शामिल करने के बारे में बात करते हुए, कैलाश गहलोत ने कहा, 'अब तक हमें ई-ऑटो के लिए कुल 11,522 आवेदन प्राप्त हुए हैं, जिनमें से 326 महिलाएं हैं। दिल्ली सरकार ने 33 प्रतिशत महिला रिजर्वेशन के साथ इलेक्ट्रिक ऑटो परमिट का ऑनलाइन पंजीकरण शुरू किया है।' दिल्ली के परिवहन मंत्री ने कहा, 'आने वाली ई-बसों में भी महिला ड्राइवर होंगी। महिलाओं के पास पहले से ही हैवी ड्राइविंग लाइसेंस (heavy driving licences) हैं, पूरा करने के लिए पैरामीटर 5 फीट की ऊंचाई आवश्यक है।'

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर