Delhi Luxury Car Theft:दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ा 'लग्जरी कार' चुराने वाला 'गैंग',100 से ज्यादा गाड़ियां लगाईं ठिकाने 

क्राइम
मोहित ओम
मोहित ओम | Senior correspondent
Updated Oct 17, 2021 | 13:21 IST

आरोपी ने पुलिस को बताया कि वो 2015 से कर चोरी के धंधे में लिप्त है और असली चाबियों से कार को चोरी करता था। इसको एक कार की चोरी के बदले महज 3-4 लाख रुपए ही मिलते थे।

car theft gang Delhi
दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ा 'लग्जरी कार' चुराने वाला गैंग 
मुख्य बातें
  • 'सरकार' नाम के इस गैंग ने दिल्ली पुलिस की नाक में दम कर रखा था
  • इनके पास चोरी की 8 लग्जरी गाड़ियां बरामद
  • गैंग का सरगना दिल्ली एनसीआर में 110 कार चोरी के मामलों में शामिल था

दिल्ली पुलिस के साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक की टीम ने सरकार गैंग का भंडाफोड़ कर उसके सरगना को गिरफ्तार किया है यह गैंग पिछले कुछ सालों में दिल्ली के अंदर 100 से ज्यादा गाड़ियों को चोरी कर ठिकाने लगा चुका है इस बैंक के टारगेट पर पार्किंग बाजारों और सर्विस सेंटर पर खड़ी गाड़ियां होती थी।

ये गैंग उन गाड़ियों को चोरी करता था जिन गाड़ियों की चाबियां कार मालिक पार्किंग गार्ड्स को थमाकर चले जाते थे, उस वक्त गैंग के एक्टिव गुर्गो की निगाह गार्ड के ऊपर होती थी, जब गार्ड्स पार्किंग में आयी गाड़ियों की चाबी अपने गार्ड रूम में रख देते थे तब इस गैंग के सदस्य गाड़ियों की असली चाबी को चुरा लेते और पार्किंग में खड़ी कार पर अपना हाथ साफ कर के रफू चक्कर हो जाते थे।

दिल्ली एनसीआर से गाड़ी को चुराकर गाड़ियों की सप्लाई नॉर्थ ईस्ट इंडिया के अलग-अलग राज्यों से मणिपुर इंफाल असम में करते थे यह गैंग ऑन डिमांड कार चुराकर दिल्ली एनसीआर से महज 48 घंटे के भीतर में नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों में गाड़ी को ठिकाने लगा देते थे इनके पास से रिकवर हुई 8 गाड़ियों में से 6 गाड़ियां इंफाल से ही पुलिस ने जब्त की है।

सरकार गैंग के सरगना के थे कई नाम

पुलिस गिरफ्त में आए सरकार गैंग के सरगना का असली नाम तो नीरज शर्मा है लेकिन ये कभी अपना नाम राजकुमार रखता कभी विनय, तो कभी सरकार। विनय पुलिस को चकमा देने के लिए ही अपने-अलग अलग नाम रखता था और पुलिस इससे पहले जब भी इसके ठिकानों पर पहुंचती उससे पहले ये वहां से रफू चक्कर हो जाता था।

कैसे पकड़ा गया सरकार 

पुलिस को एक गुप्त सूचना मिली कि विनय शर्मा दिल्ली के सरिता विहार में मौजूद अपने घर आने वाला है पुलिस ने इसको पकड़ने के लिए ट्रैप लगाया, देर रात विनय एक कार में सवार होकर जब सरिता विहार इलाके में पहुंचा उस दौरान पुलिस टीम ने उसे रुकने के लिए कहा लेकिन ये कार लेकर वहां से फरार होने लगा पुलिस ने इसका पीछा करके इसे गिरफ्तार किया।

8 लग्ज़री कार बरामद

इसकी गिरफ्तारी पुलिस ने एक कार मौके से जबकि इसकी निशानदेही पर दिल्ली के दूसरे इलाके से एक और कार को पुलिस ने बरामद किया। पुलिस जांच में आरोपी ने बताया कि इसने दिल्ली से चोरी अधिकतर गाड़ियों को नार्थ ईस्ट इंडिया के इलाकों में ठिकाने लगाया है पुलिस ने इसकी निशानदेही पर  सितारा, इंफाल ,मणिपुर, सिलीगुड़ी मे रेड की और इंफाल से 6 गाड़ियों को जब्त किया। इसकी गिरफ्तारी से पुलिस में 8 लग्ज़री कर बरामद की और 10 मुकद्दमे सुलझाने में पुलिस को सफलता मिली है। बताते हैं कि आरोपी दिल्ली से महज 48 घंटो के भीतर ही चोरी की गाड़ी रिसीवर तक पहुंचा देता था। इसके गैंग में फिलहाल दो लोग और एक्टिव है जो अभी पुलिस की पकड़ से बाहर है।
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर