KP Gosavi Arrested: आर्यन खान Drugs Case में गवाह केपी गोसावी गिरफ्तार, कई दिनों से चल रहा था फरार

क्राइम
किशोर जोशी
Updated Oct 28, 2021 | 08:38 IST

KP Gosavi Arrested: क्रूज ड्रग्स मामले में एनसीबी के मुख्य गवाह केपी गोसावी को पुणे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गोसावी के बॉडीगार्ड प्रभाकर ने गोसावी पर वसूली के कई आरोप लगाए थे।

Aryan Khan Drug Bust Case NCB Witness KP Gosavi arrested in Pune
ड्रग्स केस में NCB का गवाह केपी गोासावी गिरफ्तार  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • आर्यन खान से जुड़े ड्रग्स केस में गवाह किरण गोसावी गिरफ्तार
  • किरण गोसावी को पुणे पुलिस ने धोखाधड़ी के मामले में किया गिरफ्तार
  • पुलिस लगातार कर रही है किरण गोसावी से पूछताछ

पुणे: क्रूज ड्रग्स मामले और आर्यन केस में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB)के मुख्य गवाह केपी गोसावी को पुणे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गोसावी पर धोखाधड़ी के कई मामले दर्ज हैं और उसी में से एक मामले में पुलिस को उसकी तलाश थी।  किरण गोसावी के खिलाफ लुक आउट नोटिस भी जारी किया गया था। गोसावी की गिरफ्तारी के लिए पुणे पुलिस की दो टीमें उत्तर प्रदेश भी गई थीं। किरण गोसावी उस समय सुर्खियों में आ गया था जब आर्यन खान के साथ उसकी सेल्फी सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी।

गिरफ्तारी से पहले जारी किया वीडियो

गिरफ्तारी से पहले केपी गोसावी ने एक वीडियो जारी किया है। गोसावी ने इस वीडियो में प्रभाकर सेल और उसके भाई पर गंभीर आरोप लगाते हुए साजिश रचने का आरोप लगाया है। गोसावी ने कहा है कि प्रभाकर सेल की पूरी कॉल डिटेल्स निकाली जाए तो सारी सच्चाई सामने आ जाएगी।  गौर करने वाली बात ये है कि केपी गोसावी को पुराने केस में गिरफ्तार किया है।

पुणे पुलिस कमिश्नर ने कही ये बात

पुणे पुलिस कमिश्नर अमिताभ गुप्ता ने टाइम्स नाउ नवभारत से बात करते हुए कहा, 'अभी ये हम नहीं बता सकते है कि इसे कहां से उठाया गया है।ये जारी जगह घूम रहा था, कई राज्यों में यह घूमा था। केपी गोसावी ने सरेंडर करने के लिए कभी किसी को कॉनटेक्ट नहीं किया था। हमने उसके पास से कोई सामान बरामद नहीं किया है। हमारी उससे पूछताछ जारी है और अभी हम किसी को हैंडओवर नहीं कर रहे हैं।  अभी हम उससे तहकीकात कर रहे हैं और कानूनी कार्रवाई कर रहे हैं।'

आपको बता दें कि आर्यन खान से संबंधित ड्रग्स के मामले में स्वतंत्र चश्मदीद गवाह प्रभाकर सैल ने मंगलवार को कहा कि वह स्वापक नियंत्रण ब्यूरो के जोनल निदेशक समीर वानखेड़े और अन्य के खिलाफ उगाही के अपने आरोप पर कायम हैं। वानखेड़े ने इस आरोप का खंडन किया है। सैल ने यहां संवाददाताओं को मोबाइल फोन पर चैट के कुछ चित्र दिखाए जिनमें मामले में एक अन्य प्रत्यक्षदर्शी के पी गोसावी ने कथित तौर पर उनसे हाजी अली से धन की उगाही करने को कहा।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर