मुंबई इंडियंस के हाथों शर्मनाक हार के बाद वीरेंद्र सहवाग ने दो खिलाड़‍ियों की सोच पर खडे़ किए सवाल

IPL 2021: वीरेंद्र सहवाग ने केकेआर के बल्‍लेबाजों आंद्रे रसेल और दिनेश कार्तिक की सोच पर सवाल खड़े किए, जो मुंबई इंडियंस के खिलाफ 28 गेंदों में 31 रन नहीं बना पाए।

virender sehwag
वीरेंद्र सहवाग 

मुख्य बातें

  • मुंबई इंडियंस ने आईपीएल 2021 में केकेआर को 10 रन से मात दी
  • पूर्व भारतीय ओपनर वीरेंद्र सहवाग ने आंद्रे रसेल और दिनेश कार्तिक की सोच पर सवाल उठाए
  • केकेआर को 28 गेंदों में 31 रन की दरकार थी, लेकिन वह हार गई

चेन्‍नई: पूर्व भारतीय ओपनर वीरेंद्र सहवाग ने अनुभवी फिनिशर्स आंद्रे रसेल और दिनेश कार्तिक की बल्‍लेबाजी सोच पर सवाल खड़े किए हैं। ये दोनों बल्‍लेबाज कोलकाता नाइटराइडर्स को जीत दिलाने में कामयाब नहीं हुए जबकि मुंबई इंडियंस के खिलाफ जीत के लिए उसे 28 गेंदों में 31 रन की जरूरत है। यह मैच चेन्‍नई के एमए चिदंबरम स्‍टेडियम में खेला गया था।

कोलकाता नाइटराइडर्स की टीम मैच में 35 ओवर तक हावी थी, लेकिन अंतिम चरण में वह फिसली और सीधे मुकाबला 10 रन से गंवा बैठी। केकेआर तब भी नियंत्रण में थी जब अपने दो क्रीज पर जम चुके बल्‍लेबाजों नितिश राणा और शाकिब अल हसन को जल्‍दी-जल्‍दी गंवा दिया। अपने सबसे विश्‍वसनीय दो मैच फिनिशर्स रसेल और कार्तिक क्रीज पर थे जब केकेआर को गेंद और रन बराबरी के चाहिए थे। मगर खराब बल्‍लेबाजी और मुंबई की शानदार गेंदबाजी की बदौलत, केकेआर लक्ष्‍य का पीछा नहीं कर पाया।

रसेल ने 15 गेंदों में 9 रन बनाए जबकि दिनेश कार्तिक 11 गेंदों में 8 रन बनाकर नाबाद रहे और एक भी बाउंड्री नहीं जमाई। सहवाग ने कहा कि रसेल और कार्तिक क्रीज पर जमे रहना चाहते थे, लेकिन मैच फिनिश करना नहीं चाहते थे। क्रिकबज से बातचीत करते हुए वीरू ने कहा, 'इयोन मोर्गन ने पहला मैच जीतने के बाद बयान दिया था कि वह इसी तरह सकारात्‍मक क्रिकेट खेलेंगे, लेकिन जब आंद्रे रसेल और दिनेश कार्तिक क्रीज पर आए तो ऐसा बिलकुल भी नहीं लगा।'

सहवाग ने आगे कहा, 'रसेल और कार्तिक ने जिस अंदाज में बल्‍लेबाजी की, उससे महसूस हुआ कि उन्‍होंने मैच अंत तक ले जाने की योजना बनाई, लेकिन जीतने की नहीं। शाकिब अल हसन, इयोन मोर्गन, शुभमन गिल और नितिश राणा सभी ने सकारात्‍मक इरादे के साथ बल्‍लेबाजी की।' वीरू का मानना है कि अगर केकेआर को मैच जीतना था तो राणा या गिल में से किसी एक को अंत तक खेलना था।

शर्मनाक हार कोई केकेआर से सीखे: वीरू

सहवाग ने कहा, 'राणा या गिल में से किसी को अंत तक बल्‍लेबाजी करना चाहिए थी। उन्‍होंने देखा था कि मुंबई इंडियंस की पारी का क्‍या हाल हुआ, जबकि उनकी शुरूआत अच्‍छी रही थी।' 153 रन के लक्ष्‍य का पीछा करते समय केकेआर की टीम 15 ओवरम में 122/4 के स्‍कोर पर सुखद स्थिति में थी। हालांकि, फिर मुंबई के गेंदबाजों ने बाजी पलटी और केकेआर को 142/7 के स्‍कोर पर रोक दिया।

सहवाग ने आगे कहा कि केकेआर ने दिखाया कि जीती हुई बाजी कैसे हारी जाती है। उन्‍होंने कहा, 'केकेआर ने वो मैच हारा जो एक समय आसानी से जीता जा सकता था। जब रसेल बल्‍लेबाजी करने आए तो केकेआर को 27 गेंदों में 30 रन की जरूरत थी। दिनेश कार्तिक ने अंत तक बल्‍लेबाजी की, लेकिन मैच नहीं जीत पाए, यह शर्मनाक हार है।'

IPL(आईपीएल) 2021 से जुड़ी सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर