आईपीएल-13 : यूएई क्रिकेट बोर्ड ने बीसीसीआई के सामने रखा मेजबानी का प्रस्ताव 

आईपीएल 2020
आईएएनएस
Updated Jun 07, 2020 | 08:57 IST

UAE confirms offer to host IPL 13: कोरोना संकट के बीच यूएई क्रिकेट बोर्ड ने बीसीसीआई के सामने आईपीएल 2020 की मेजबानी का प्रस्ताव रखा है।

IPL
IPL 

मुख्य बातें

  • यूएई क्रिकेट बोर्ड ने भारत के सामने रखा आईपीएल 13 की मेजबानी का प्रस्ताव
  • कोरोना संकट के कारण अनिश्चितकाल के लिए रद्द कर दिया गया आईपीएल 2020
  • बीसीसीआई कोरोना संकट के बीच तलाश रहा है आयोजन के रास्ते

नई दिल्ली: बीसीसीआई ने शनिवार को ही आईएएनएस से इस बात की पुष्टि की कि बोर्ड आईपीएल के 13वें सीजन की मेजबानी भारत और भारत के बाहर करने के मुद्दे पर 3-2 में बंटा हुआ है। इसी बीच अमीरात क्रिकेट बोर्ड ने कहा है कि उसने बीसीसीआई के सामने आईपीएल की मेजबानी का प्रस्ताव रखा है।

अमीरात क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के महासचिव मुबाशिर उस्मानी ने गल्फ न्यूज से कहा है, हमने कई सीरीजों की एक तटस्थ आयोजन स्थल के रूप में मेजबानी की है। हमारी सुविधाएं सभी तरह के क्रिकेट की मेजबानी के लिए इसे उपयुक्त बताती हैं। उन्होंने कहा, हम आगे आकर भारत और इंग्लैंड को अपने यहां खेलने का प्रस्ताव देते हैं। पहले भी ईसीबी ने यूएई में आईपीएल मैचों की मेजबानी की है। हमने इंग्लैंड टीम के कई मैचों की मेजबानी की है। अगर कोई भी बोर्ड हमारा प्रस्ताव मंजूर करता है तो हम उनके मैचों की मेजबानी कर खुश होंगे।

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने आईएएनएस से शनिवार को कहा कि आईपीएल के आयोजन को लेकर आम सोच यह है कि लीग भारत में ही हो। लेकिन कुछ ऐसे भी हैं जो चाहते हैं कि परिस्थिति की मांग को देखते हुए अगर जरूरत पड़ती है तो लीग को भारत के बाहर भी ले जाया जा सकता है।

अधिकारी ने कहा, देखिए, अगर आप इस तरह से वर्तमान परि²श्य को समझना चाहते हैं तो यह निर्णय लेने वालों का 3-2 से विभाजित होने का मामला है। किसने क्या कहा, के नाम पर न जाते हुए, मैं आपको बता सकता हूं कि आम धारणा यह है कि भारत में लीग होना न केवल देश के लोगों में सकारात्मकता का प्रतीक होगा, बल्कि हमारी मदद भी करेगा क्योंकि हमें भी विदेश जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

उन्होंने कहा, लेकिन, यहां कुछ लोग ऐसा भी मानते हैं कि हर हाल में टूर्नामेंट का आयोजन होना चाहिए और यह उनकी प्राथमिकता है और इसका मतलब इसे देश से बाहर ले जाने की है। इसलिए ऐसे में जब हम सभी योजनाओं पर काम कर रहे हैं, तो आयोजन स्थल एक ऐसा क्षेत्र है जिसपर और ज्यादा विचार-विमर्श की आवश्यकता होगी। इसके अलावा खिलाड़ियों की सुरक्षा और सभी लोगों की सुरक्षा भी हमारी प्राथमिकता है।

फ्रेंचाइजी के एक अधिकारी ने कहा कि देश में टूर्नामेंट का आयोजन हमेशा प्राथमिकता होनी चाहिए। उन्होंने कहा, देखिए, अगर लीग का आयोजन देश में होती है तो इससे न केवल विश्व का एक सकारात्मक संदेश जाएगा, बल्कि भारत के लोगों को भी यह विश्वास हो जाएगा कि हम चीजों को फिर से सामान्य करने में सफल रहे। साथ ही अगर आप बाहर जाते हैं तो यह थोड़ा महंगा भी होगा। इसलिए मेरा मानना है कि अधिकतर टीमें भारत को अपनी प्राथमिकता देगी।

बीसीसीआई ने कोरोनावायरस महामारी के कारण आईपीएल को अनिश्चितकाल तक के लिए स्थगित कर रखा है।


 

अगली खबर