रोहित शर्मा की कहानी महान सचिन तेंदुलकर से मिलती-जुलती है, सुनाया था ये मजेदार किस्‍सा

Rohit Sharma: टीम इंडिया के रोहित शर्मा आधुनिक युग के दिग्‍गज बल्‍लेबाजों में शामिल हैं। रोहित शर्मा के क्रिकेटर बनने की कहानी महान सचिन तेंदुलकर से काफी मिलती-जुलती है। इसका खुलासा उन्‍होंने खुद किया था।

sachin tendulkar and rohit sharma
सचिन तेंदुलकर और रोहित शर्मा 

मुख्य बातें

  • रोहित शर्मा ने सुनाई थी अपनी क्रिकेटर बनने की दास्‍तां
  • रोहित शर्मा ने दादा-दादी के घर में रहकर शुरू की थी क्रिकेट प्रैक्टिस
  • रोहित शर्मा ने बताया कि तेंदुलकर के बारे में एक किताब पढ़कर क्‍या सीखा

मुंबई: टीम इंडिया के 'हिटमैन' रोहित शर्मा आधुनिक युग के सर्वश्रेष्‍ठ बल्‍लेबाजों में से एक हैं। कई क्रिकेट विशेषज्ञों का कहना है कि अन्‍य बल्‍लेबाजों की तुलना में रोहित शर्मा के पास किसी भी शॉट को खेलने के लिए एक सेकंड एक्‍स्‍ट्रा है। रोहित शर्मा मुंबई के हैं और यही वजह है कि उन्‍हें तकनीकी क्रिकेट का धनी माना जाता है। रोहित शर्मा का ताल्‍लुक आर्थिक रूप से कमजोर परिवार से रहा, लेकिन आज वे बुलंदियों पर पहुंच चुके हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि रोहित शर्मा के क्रिकेटर बनने की कहानी महान सचिन तेंदुलकर के समान कैसे है।

रोहित शर्मा को बचपन में माता-पिता ने अपने दादा-दादी के घर छोड़ दिया था, जहां से उन्‍होंने क्रिकेट की प्रैक्टिस शुरू की थी। रोहित शर्मा ने गौरव कपूर के साथ बातचीत में खुलासा किया था कि महान सचिन तेंदुलकर से उनकी कहानी काफी मिलती-जुलती है। सचिन तेंदुलकर भी अपने रिश्‍तेदार के घर में रुके थे, जहां से क्रिकेट प्रैक्टिस शुरू की। रोहित शर्मा ने कहा, 'मैंने सचिन तेंदुलकर के बारे में 'द मेकिंग ऑफ क्रिकेटर' किताब पढ़ी थी। उसको पढ़कर मैं अपनी जिंदगी से कनेक्‍ट कर पा रहा था।'

सचिन तेंदुलकर से अपनी जिंदगी मिलने-जुलने के बारे में बात करते हुए रोहित ने आगे कहा, 'सचिन तेंदुलकर ने भी बचपन में खूब खिड़कियां तोड़ी। मैंने भी बचपन में आस-पास के काफी कांच तोड़े। हम तीन-चार लड़के थे, जो कॉलोनी में ही खेलते थे। एक बार तो पुलिस वालों ने आकर धमकी भी दी कि अब अगर कांच तोड़ा तो जेल में बंद कर देंगे।'

सचिन तेंदुलकर से बेहतर आदर्श कोई नहीं: रोहित शर्मा

रोहित शर्मा ने आगे कहा, 'मेरे लिए सचिन तेंदुलकर सबसे बड़े आदर्श हैं। उन्‍हें ही देखकर मैंने क्रिकेट खेलना शुरू किया। सचिन तेंदुलकर को देखकर काफी कुछ सीखा। जब मैंने उनके सामने पहुंचा तो उन्‍हें ऑब्‍जर्व किया। वह मैदान में खुद को किस तरह पेश करते हैं, मैदान के बाहर वह निजी जिंदगी में किस तरह बर्ताव करते हैं। यह सबकुछ उनसे ही सीखने को मिला। वाकई सचिन तेंदुलकर मेरे लिए सबकुछ हैं।'

बता दें कि रोहित शर्मा इस समय ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ तीसरा टेस्‍ट खेलने में व्‍यस्‍त हैं। वह एक वर्ल्‍ड रिकॉर्ड के बेहद करीब खड़े हैं। 33 साल के रोहित शर्मा ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में 100 छक्‍के लगाने से महज एक कदम दूर हैं। हिटमैन ने अब तक इंटरनेशनल क्रिकेट में 423 छक्‍के जमाए और सर्वाधिक छक्‍के जमाने वाले बल्‍लेबाजों की लिस्‍ट में तीसरे स्‍थान पर हैं। भारतीय ओपनर ने ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ 99 छक्‍के जमाए हैं, जो कोई और अन्‍य बल्‍लेबाज नहीं कर पाया। रोहित शर्मा के बाद ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ सबसे ज्‍यादा छक्‍के लगाने के मामले में इयोन मॉर्गन दूसरे स्‍थान पर काबिज हैं।

भारत की तरफ से महान सचिन तेंदुलकर ने ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ 60 छक्‍के जड़े हैं। वह ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ सबसे ज्‍यादा छक्‍के जड़ने वाले दूसरे भारतीय बल्‍लेबाज हैं।

IPL(आईपीएल) 2020 से जुड़ी सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर