स्‍टुअर्ट ब्रॉड को दूसरे टेस्‍ट में इनहेलर की जरूरत क्‍यों पड़ी थी? जानिए किस बीमारी के हैं शिकार

Stuart Broad using inhaler: इंग्‍लैंड और पाकिस्‍तान के बीच गुरुवार को दूसरे टेस्‍ट के पहले दिन तेज गेंदबाज स्‍टुअर्ट ब्रॉड को इनहेलर का उपयोग करते देखा गया था। ब्रॉड की बीमारी किसी से छिपी नहीं है।

stuart broad using inhaler during the match
स्‍टुअर्ट ब्रॉड ने मैच के बीच में इनहेलर का उपयोग किया  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • इंग्‍लैंड के तेज गेंदबाज स्‍टुअर्ट ब्रॉड दूसरे टेस्‍ट में कुछ असहज नजर आए
  • चौथा ओपर करते हुए स्‍टुअर्ट ब्रॉड ने इनहेलर का उपयोग किया
  • ब्रॉड को बचपन से अस्‍थमा की परेशानी है और यह किसी से छिपा नहीं है

लंदन: इंग्‍लैंड और पाकिस्‍तान के बीच गुरुवार से शुरू हुए दूसरे टेस्‍ट के पहले दिन तेज गेंदबाज स्‍टुअर्ट ब्रॉड कुछ असहज नजर आए। चौथा ओवर करते समय ब्रॉड ने इनहेलर मांगा, लेकिन सहायता प्राप्‍त करने से पहले उन्‍हें कुछ देर इंतजार करना पड़ा। बाद में ब्रॉड ने इस इनहेलर का उपयोग किया और मैदान पर डटे रहे। ब्रॉड ने आखिर मैदान पर इनहेलर का उपयोग क्‍यों किया? चलिए इसकी असली वजह आपको बताते हैं।

दरअसल, ब्रॉड अस्‍थमा से ग्रस्‍त हैं, और यह राज किसी से छिपा नहीं है। इंग्‍लैंड के तेज गेंदबाज ने 2015 में खुलासा किया था कि प्री-मैच्‍योर जन्‍म की वजह से उनके साथियों की तुलना में उनका आधा फेफड़ा कम है और अस्‍थमा से बचने के लिए उन्‍हें इनहेलर की जरूरत पड़ती है। बहरहाल, संघर्ष करने के बावजूद ब्रॉड ने पहला गेंदबाजी स्‍पेल शानदार किया, जहां उन्‍होंने पांच ओवर में दो मेडन सहित केवल 7 रन खर्च किए। तब उन्‍हें कोई सफलता नहीं मिली थी। दाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने पाकिस्‍तान के कप्‍तान अजहर अली को लगभग अपना शिकार बना लिया था, लेकिन स्लिप के फील्‍डर ने वो आसान कैच टपका दिया।

9 साल छिपाए रखी बीमारी

स्‍टुअर्ट ब्रॉड को अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में 14 साल हो चुके हैं। उन्‍होंने 500 से ज्‍यादा टेस्‍ट विकेट चटकाए हैं। हालांकि, तेज गेंदबाज ने 9 साल तक अपनी बीमारी को राज बनाए रखा और पांच साल पहले एशेज सीरीज में प्री-ट्रेनिंग कैंप के दौरान ब्रॉड ने अपने साथी को बताया कि उनका पास डेढ़ फेफड़ा है। ब्रॉड ने डेली मेल के लिए लिखे अपने एक कॉलम में कहा, 'एक रात हमसे पूछा गया कि अपने बारे में कोई एक बात ऐसी बताओ, जो किसी को नहीं पता हो। यह एक-दूसरे को जानने के लिए गतिविधि कराई गई थी। जब मैंने बताया कि मेरे पास कुल डेढ़ फेफड़े हैं क्‍योंकि मेरा जन्‍म तीन महीने पहले हुआ तो हमारी टीम के लड़के हैरान रह गए।'

उन्‍होंने आगे कहा, 'मैंने उस बात को समझाया क्‍योंकि जब मैं पैदा हुआ तो बहुत छोटा था। मैं मौत के करीब था, मेरा एक फेफड़ा कभी पूरा विकसित नहीं हुआ। इसलिए मैं अस्‍थमा की चपेट में आया और अपने साथ इनहेलर लेकर चलता हूं। हालांकि, कभी खिलाड़ी के रूप में मुझे इसका फर्क नहीं पड़ा, लेकिन मैंने अपना पूरा करियर अन्‍य की तुलना में आधे कम फेफड़े के साथ खेला, जो शानदार अनुभव रहा।'

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर