Bhopal में EOW का एक्शनः करोड़पति क्लर्क के यहां पड़ा छापा तो पी लिया फिनाइल, घर से 35 लाख रुपए मिले कैश

Bhopal Eow: आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ (ईओडब्ल्यू) ने एक साथ भोपाल और जबलपुर में छापेमारी की है। इसमें नगर निगम का असिस्टेंट क्लर्क और मेडिकल डिपार्टमेंट का क्लर्क करोड़पति निकला है। छापे के बाद क्लर्क ने जहर पी लिया। अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है।

EOW raids in Bhopal and Jabalpur stirred up bribery officials
भोपाल और जबलपुर में ईओडब्ल्यू के छापे से घूसखोर अधिकारियों में हड़कंप  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • भोपाल के बैरागढ़ में छापेमारी के दौरान क्लर्क हीरो केसवानी ने जहर पी लिया
  • क्लर्क को हमीदिया अस्पताल में कराया गया है भर्ती
  • क्लर्क सतपुड़ा भवन में है कार्यरत, ईओडब्ल्यू ने कोर्ट से आदेश लेकर मारा है छापा

Bhopal Eow: आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ (ईओडब्ल्यू) ने बड़ी कार्रवाई की है। ईओडब्ल्यू की टीम ने एक साथ भोपाल और जबलपुर में छापेमारी की है। टीम ने भोपाल में स्वास्थ्य विभाग के क्लर्क और जबलपुर में नगर निगम के सहायक इंजीनियर के घर छापा मारा है। 

भोपाल के बैरागढ़ में ईओडब्ल्यू टीम की छापेमारी के बाद क्लर्क हीरो केसवानी ने जहर पी लिया। हीरो को हमीदिया अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। क्लर्क की हालत गंभीर बनी हुई है। यह सतपुड़ा भवन में कार्यरत है। 

क्लर्क के घर से 35 लाख कैश और 8 से अधिक संपत्ति के मिले कागजात

दरअसल, आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में स्वास्थ्य विभाग के क्लर्क हीरो केसवानी के घर छापेमारी के लिए ईओडब्ल्यू की टीम ने कोर्ट से ऑर्डर लिया था। टीम को अब तक की जांच में 35 लाख रुपए नगद मिले हैं। इसके पांच कमरों की जांच की जा रही है। इसने अपने तीन मंजिले मकान में बेसमेंट बना रखा है, जिसमें एक कमरा बना रखा है। इसी कमरे में संपत्ति से संबंधित सभी कागजात रखे हैं।  

सहायक इंजीनियर ने आय से 203% अधिक संपत्ति बनाई

ईओडब्ल्यू की टीम ने जबलपुर के नगर निगम के सहायक इंजीनियर के घर छापेमारी में करोड़ों रुपए की संपत्ति की जानकारी पाई है। इस बारे में ईओडब्ल्यू के एसपी देवेंद्र सिंह का कहना है कि सहायक इंजीनियर आदित्य शुक्ला के विरुद्ध आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिली थी। शिकायत की जांच में मामले की पुष्टि की गई, जिसके बाद छापेमारी की गई। अब तक की जांच में पता चला है कि इंजीनियर ने अपनी आय से 203 प्रतिशत अधिक संपत्ति बनाई है। अब तक की जांच में पता चला है कि इंजीनियर का रतन नगर में 3900 स्क्वायर फीट में आलीशान बंगला, पैतृक जमीन 1500 स्क्वायर फीट में बने पुराने मकान को तोड़कर नया आलीशान मकान, तीन लग्जरी कार, बुलेट बाइक और एक्सेस स्कूटर, बैंक में 6.40 लाख जमा है। इसके खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है।

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर