Jaypee Hospital News: भोपाल के जेपी अस्पताल में एक हफ्ते तक नहीं होगा आंखों का ऑपरेशन, जानें क्या है वजह

Bhopal Jaypee Hospital News: शहर के जेपी अस्पताल में अब कुछ समय तक आंखों से जुड़े ऑपरेशन नहीं हो सकेंगे। ऐसे में नेत्र रोगियों को दूसरे अस्पताल में जाना होगा। इसकी वजह से हर दिन सैकड़ों मरीज मायूस होकर लौट रहे हैं। इसका कारण जलभराव बताया जा रहा है।

Eye operation closed for a week in Jaypee Hospital
जेपी अस्पताल में एक हफ्ते तक आंखों का ऑपरेशन बंद (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • अस्पताल के ऑपरेशन थिएटर में पानी भरने से ऑपरेशन हुआ बंद
  • गुरुवार को आई ऑपरेशन थिएटर की पानी सप्लाई लाइन में हुई थी गड़बड़ी
  • शुक्रवार की सुबह अस्पतालकर्मी पहुंचा तो देखा कि ऑपरेशन थिएटर में लबालब पानी भरा है

Bhopal Jaypee Hospital News: अगले एक सप्ताह तक जय प्रकाश (जेपी) अस्पताल में आंखों से जुड़े ऑपरेशन नहीं होंगे। आई ऑपरेशन थिएटर में पानी भरने की वजह से ऑपरेशन बंद कर दिए गए हैं। मरीजों को हफ्ते भर बाद आने की जानकारी दी जा रही है। बता दें गुरुवार को आई ऑपरेशन थिएटर की पानी सप्लाई लाइन में कुछ गड़बड़ी हुई थी। इसको ठीक करने के लिए प्लंबर बुलाया गया था। 

प्लंबर ने नल बदलने के साथ और कुछ सुधार के कार्य किए थे। शुक्रवार की सुबह जब अस्पताल कर्मचारी ऑपरेशन थिएटर पहुंचा तो देखा कि वह कमरा पानी से भरा है। हालांकि कुछ समय बाद पानी उतर गया, लेकिन ऑपरेशन थिएटर के संक्रमित होने की आशंका बनी है। कर्मचारियों के मुताबिक प्लंबर ने जो नल लगाया था, वह उखड़ गया, जिससे ऑपरेशन थिएटर में पानी भर गया। 

एक दिन में 4 से 5 मरीजों की होती है सर्जरी

इस अस्पताल के आई डिपार्टमेंट में सामान्य दिनों में हर दिन 4 से 5 मरीजों की सर्जरी की जाती है। फिलहाल हर दिन ऐसे मरीज आ रहे हैं, जिनको आंखों संबंधी सर्जरी की जरूरत है पर ऑपरेशन थिएटर बंद है। इधर, अस्पताल के आई डिपार्टमेंट में पानी भरने की समस्या पहले भी हो चुकी है। इस विभाग की बिल्डिंग काफी पुरानी है। बरसात के दिनों में यहां पूर्व में कई बार पानी भरने की समस्या होती रही है। 

ऑपरेशन थिएटर का सैंपल तीन दिन भेजा जाएगा

अब ऑपरेशन थिएटर में तीन दिनों तक लगातार संक्रमण मुक्त करने की कार्रवाई होगी। संक्रमण का स्तर जांच करके पता लगाया जाएगा। इसके लिए कल्चर एम्स भेजा गया है। तीन दिनों तक अलग-अलग कल्चर भेजकर जांच कराई जाएगी। जब ऑपरेशन थिएटर पूरी तरह संक्रमण मुक्त हो जाएगा। उसके बाद ही ऑपरेशन शुरू किए जाएंगे। इसको लेकर अस्पताल के मुख्य गेट एवं अन्य सूचना पट्ट पर जानकारी भी दे दी गई है, ताकि मरीज या उनके परिजन परेशान नहीं हों। 

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर