मध्‍य प्रदेश से कहां गईं 3000 लड़कियां? बाहर जाने वाली बेटियों का अब होगा रजिस्‍ट्रेशन

भोपाल समाचार
Updated Jan 09, 2021 | 08:15 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

मध्‍य प्रदेश से तीन हजार लड़कियां लापता हैं। बताया जा रहा है कि इन्‍हें काम-धंधे के सिलसिले में ले जाया गया, पर उसके बाद उनके बारे में कुछ भी पता नहीं चल सका।

मध्‍य प्रदेश से कहां गईं 3000 लड़कियां? बाहर जाने वाली बेटियों का अब होगा रजिस्‍ट्रेशन
मध्‍य प्रदेश से कहां गईं 3000 लड़कियां? बाहर जाने वाली बेटियों का अब होगा रजिस्‍ट्रेशन  |  तस्वीर साभार: ANI

भोपाल : मध्‍य प्रदेश से तीन हजार लड़कियां लापता हैं, यह बात किसी को भी हैरान कर सकती है, पर इसकी तस्‍दीक खुद राज्‍य के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की है और साथ ही लोगों को यह भरोसा भी दिलाया कि पुलिस एक विशेष अभियान चलाकर इनकी तलाश करेगी। उन्‍होंने यह भी कहा कि काम धंधे के सिलसिले में प्रदेश से बाहर जाने वाली बेटियों का अब रजिस्ट्रेशन होगा, ताकि उनके बारे में रिकॉर्ड रखा जा सके।

मुख्‍यमंत्री भोपाल के मिंटो हॉल में क्रेडिट कैम्प महिला स्व-सहायता समूहों के एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे, जब उन्‍होंने राज्‍य से 3000 लड़कियों के लापता होने की बात कही और यह भी बताया कि उन्‍हें इसकी जानकारी हाल ही में मिली है, जिसके बाद उन्‍होंने पुलिस को इस संबंध में विशेष निर्देश दिए हैं। इस कार्यक्रम के माध्‍यम से सीएम ने प्रदेशभर की महिला समूहों से वर्चुअल संवाद भी किया।

'मध्‍य प्रदेश से गायब हैं 3000 लड़कियां'

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा, 'प्रदेश से 3000 बच्चियां गायब हुई हैं। आखिर कहां गईं ये बेटियां? इन्हें खोजने के लिए अभियान चलाया जाएगा। मैंने पुलिस को टारगेट दिया है कि गायब बेटियों को कहीं से भी ढूंढ कर लाओ। काम धंधे के लिए प्रदेश से बाहर जाने वाली बेटियों के रजिस्ट्रेशन के लिए एक व्‍यवस्‍था बनाई जाएगी। मेहनत मजदूरी के नाम पर बाहरी लोग मय प्रदेश की बेटियों को लेकर जाते हैं और फिर उनका पता नहीं चलता।'

सीएम ने महिला स्वयं-सहायता समूह से इसका खास तौर पर ध्‍यान रखने के लिए कहा और यह आधी आबादी की जिंदगी बदलने का अभियान है। अपने संबोधन के दौरान सीएम ने मध्‍य प्रदेश की बेटियों के जीवन से खिलवाड़ करने वालों के साथ सख्‍ती से निपटने की बात भी कही और यह भी कहा कि ऐसे लोगों ने लिए उनकी सरकार ने कानून लाया है। उन्‍होंने यह भी कहा कि ऐसे लोगों को फांसी पर लटका दिया जाना चाहिए।

'संपत्तियां तबाह कर दो, मकान तोड़ दो'

सीएम ने कड़े लहजे में कहा कि उन्‍होंने पुलिस-प्रशासन को साफ तौर पर निर्देश दिए हैं कि अगर ऐसे लोगों के बारे में पता चलता है कि वे उनकी संपत्तियां तबाह कर दें, उनके मकान हैं तो उन्‍हें तोड़ दें। वे जहां भी मिलें, उन्‍हें पकड़कर ले आएं। उन्‍होंने इस बात पर जोर दिया कि अब काम के सिलसिले में राज्‍य से बाहर जाने वाली लड़कियों का रजिस्ट्रेशन किया जाए, ताकि उनके बारे में जानकारी रखी जा सके।

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर