Jyotiraditya scindia: राहुल गांधी के CM वाले बयान पर ज्योतिरादित्य सिंधिया का जवाब, अगर यही बात पहले बोले होते

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के बयाव पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पलटवार किया है। यहां हम बताएंगे कि राहुल गांधी ने क्या कहा था और उसका जवाब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किस तरह दिया।

Jyotiraditya scindia:राहुल गांधी के बैकबेंचर वाले बयान पर ज्योतिरादित्य सिंधिया का जवाब, अगर यही बात पहले बोले होते
ज्योतिरादित्य सिंधिया, सांसद, बीजेपी 

मुख्य बातें

  • राहुल गांधी का कहना है कि बीजेपी में ज्योतिरादित्य सिंधिया बैकबेंच बन कर रह गए हैं
  • ज्योतिरादित्य सिंधिया का जवाब, सीएम बनने का सपना उनका कभी नहीं था
  • कांग्रेस ने कभी योग्य और कर्मठ लोगों का कद्र नहीं किया

 भोपाल: राहुल गांधी ने कहा था कि  ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा में "बैकबेंचर" बन गए। अगर वो कांग्रेस में बने रहे होते तो सीएम बनने की संभावना रही होती। लेकिन उनके बयान पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने समाचार कहा कि यह एक अलग स्थिति होती जब राहुल गांधी उसी तरह चिंतित हुए होते  जैसे कि अब वो हैं। कांग्रेस का इतिहास रहा है कि योग्य लोगों का पार्टी ने कभी कद्र नहीं किया। 

19 साल की सेवा के बाद सिंधिया ने छोड़ी थी कांग्रेस
श्री सिंधिया ने पिछले साल मार्च में अपनी 19 साल की सेवा के बाद कांग्रेस छोड़ दी थी। ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस का छोड़ने का असर यह हुआ कि मध्य प्रदेश कांग्रेस में भगदड़ मच गई और कमलनाथ की ना सिर्फ सरकार गिरी बल्कि बीजेपी राज्य की सत्ता पर काबिज हो गई।  सोमवार को, राहुल गांधी ने कांग्रेस के यूथ विंग की बैठक में पार्टी के महत्व का एक बिंदु बनाते हुए स्पष्ट रूप से अपने एक बार के करीबी सहयोगी के बारे में बात की।

बीजेपी में सिंधिया बैकबेंंचर
वह (सिंधिया) मुख्यमंत्री बन गए होते अगर कांग्रेस के साथ रहे होते लेकिन भाजपा में बैकबेंचर बन गए। सिंधिया के पास कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ काम करके संगठन को मजबूत करने का विकल्प था। मैंने उनसे कहा - एक दिन आप मुख्यमंत्री बन जाएंगे। मंत्री। लेकिन उन्होंने एक और रास्ता चुना, "राहुल गांधी ने कथित तौर पर कहा। श्री सिंधिया ने भाजपा में शामिल होने से पहले, एक साल से अधिक समय तक काम किया था और उनके करीबी सूत्रों ने दावा किया कि वह महीनों तक सोनिया गांधी या राहुल गांधी के साथ मिल पाने में नाकाम रहे। 

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर