Bhopal Driving License: भोपाल के लोगों के लिए अच्छी खबर, अब ड्राइविंग लाइसेंस मिलना होगा आसान, जानिए कैसे

Bhopal Driving License: ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अब लोगों को ट्रांस्पोर्ट विभाग के टेस्ट ड्राइव ट्रेक पर कार नहीं दौड़ानी पड़ेगी। राजधानी के यातायात विभाग ने ड्राइविंग लाइसेंस के नियमों में एक खास बदलाव किया है।

Bhopal Driving licence
भोपाल में अब ड्राइविंग लाइसेंस के लिए नहीं देना होगा टेस्ट (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अब लोगों को टेस्ट ड्राइव ट्रेक पर कार नहीं दौड़ानी पड़ेगी
  • यातायात विभाग ने ड्राइविंग लाइसेंस के नियमों में एक खास बदलाव किया है
  • ड्राइविंग संस्थाओं को अलग से मान्यता दी जाएगी

Bhopal Driving License: राजधानी भोपाल के वाशिंदो के लिए एक अच्छी खबर है। खासकर कार चलाना सीखने वालोंं के लिए। ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अब लोगों को ट्रांस्पोर्ट विभाग के टेस्ट ड्राइव ट्रेक पर कार नहीं दौड़ानी पड़ेगी। राजधानी के यातायात विभाग ने ड्राइविंग लाइसेंस के नियमों में एक खास बदलाव किया है। नए नियम का फायदा उन्हें मिलेगा जो लोग ड्राइविंग स्कूलों और सेंटरों के जरिए कार चलाना सीखते हैं।

ऐसे में अब उन्हें यातायात महकमे में ड्राइविंग लाइसेंस के लिए टेस्ट नहीं देना होगा। विभाग के नए नियमों के मुताबिक राजधानी भोपाल में कार ड्राइविंग सीखाने वाले सभी स्कूलों व केंद्रों को मान्यता दिए जाने की योजना का ड्राफ्ट तैयार किया जा रहा है। जिसे जल्द लागू कर दिया जाएगा। महकमे के अधिकारियों के मुताबिक सभी ड्राइविंग सीखाने वाले संस्थाओं को अलग से मान्यता दिए जाने के बाद संस्थाएं अपने यहां कार चलाना सीखने वाले प्रतिभागियों को उनकी ट्रेनिंग पूरी होने के बाद खुद ही प्रमाण पत्र जारी करेंगे। जिसके बाद यातायात विभाग की ओर से उन्हें लाइसेंस जारी कर दिया जाएगा।  

आरटीओ की नजर में रहेंगे सभी ड्राइविंग सेंटर

भोपाल आरटीओ के अधिकारियों ने बताया कि, विभाग की ओर से मान्यता मिलने के बाद उनकी ओर से जारी किए गए प्रमाण - पत्र के आधार पर केंडिडेट को अलग से टेस्ट ड्राइव नहीं देना होगा। उन्होंने बताया कि, इस योजना का जल्द खाका खींचने के लिए सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय मसौदा तैयार कर रहा है। इसे लेकर मध्यप्रदेश सरकार से भी सुझाव मांगे गए हैं। सभी सुझाव मिलने के बाद मंत्रालय जल्द मसौदे को अंतिम रूप देगा। उन्होंने बताया कि, भोपाल के सभी ड्राइविंग स्कूल क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय की निगरानी में रहेंगे। वर्तमान में राजधानी में लाइसेंसशुदा करीब 25 ड्राइविंग स्कूल हैं। इसके अलावा अन्य 25 स्कूल गैर लाइसेंस प्राप्त हैं। सवा सौ के करीब बिना लाइसेंस के कार ड्राइविंग स्कूल हैं। शहर में प्रतिमाह के हिसाब से फिलहाल दो सौ के करीब लोग कार चलाना सीख रहे हैं। 


 

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर