Bhopal Student Suicide Case: भोपाल के वीआईटी कॉलेज में एमटेक के छात्र ने किया सुसाइड, वजह जान चौंक जाएंगे

Bhopal Crime: भोपाल के वीआईटी कॉलेज के हॉस्टल के कमरे में एमटेक छात्र ने फांसी लगाकर जान दे दी। पुलिस मामले की जांच कर रही है। प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि छात्र परीक्षा के पेपर सही नहीं होने पर तनाव में था। इसी वजह से उसने यह कदम उठाया।

Bhopal Crime News
भोपाल के वीआईटी कॉलेज में इंजीनियरिंग के छात्र ने की आत्महत्या (प्रतीकात्मक)  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • वीआईटी के हॉस्टल के कमरे में इंजीनियरिंग के छात्र ने लगा ली फांसी
  • बिहार का रहने वाला छात्र एमटेक सेकेंड ईयर का था छात्र
  • पुलिस मामला दर्ज कर प्रकरण की जांच में जुटी

Bhopal News: वेल्लोर प्रोद्योगिकी संस्थान (वीआईटी) भोपाल का सीहोर परिसर हमेशा चर्चा में बना रहता है। अब इस विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले एमटेक के एक छात्र ने फांसी लगाकर जान दे दी है। इससे सीहोर के कोठरी में स्थित इसके परिसर में सनसनी फैल गई है। घटना के पीछे वजह परीक्षा को लेकर तनाव बताया जा रहा है। पुलिस इस सुसाइड की गहनता से जांच कर रही है।

बता दें कि एमटेक सेकेंड ईयर के छात्र ने वीआईटी विश्वविद्यालय के हॉस्टल में अपने कमरे में फांसी लगाकर कर आत्महत्या कर ली। पुलिस की प्रारंभिक जांच में यह सामने आया है कि छात्र तनाव में रहता था। उसी के चलते उसने इतना बड़ा कदम उठाया है। पुलिस तनाव के कारणों का पता लगाने में भी जुटी है। पुलिस को मृतक छात्र के दोस्तों से कई जानकारियां मिली हैं।

रूम पार्टनर ने हास्टल प्रबंधन को दी घटना की सूचना

मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने बताया है कि बिहार के सिवान निवासी नैतिक आनंद पिता नागेंद्र प्रसाद उम्र 21 साल कोठरी वीआईटी यूनिवर्सिटी में एमटेक एंट्रीग्रेटेड फाइव ईयर की पढ़ाई कर रहा था। अभी छात्र सेकंड ईयर में था। बता दें कि वह परीक्षा देकर अपने हॉस्टल के रूम नंबर 222 में वापस आया। इसके बाद उसके रूम पार्टनर ने आकर देखा तो अंदर से दरवाजा बंद कर लिया गया था। रूम पार्टनर ने काफी देर तक दरवाजा खटखटाया लेकिन फिर भी कोई जवाब नहीं आया। इसके बाद उसने इसकी सूचना हॉस्टल के सुपरवाइजर को दी। गार्ड को सूचना देकर मौके पर बुलाया गया। सुपरवाइजर और गार्ड ने दरवाजा तोड़ दिया तो अंदर नैतिक रस्सी से फंदे पर लटकता हुआ पाया गया। इससे वीआईटी कॉलेज के पूरे कैंपस में हड़कंप मच गया।

प्रारंभिक जांच में ये वजह आई सामने

ज्ञात हो कि पुलिस ने बताया है कि प्रारंभिक जांच में यह जरूर पता चला है कि वह काफी तनाव में रहता था। पुलिस को नैतिक के दोस्तों ने बताया है कि उसके तीन पेपर अच्छे नहीं हुए थे। उसी वजह से वह परेशान रहा करता था और आत्महत्या करने जैसी बात हमेशा बोलता था। नैतिक के पास से एक सुसाइड नोट मिलने की भी जानकारी प्राप्त हुई है। हालांकि सुसाइड नोट में क्या लिखा गया है, उसका पता नहीं चल सका है। घटना की जानकारी होने पर एसपी मयंक अवस्थी भी वीआईटी कॉलेज पहुंचे। पुलिस ने मामला दर्ज कर प्रकरण की जांच शुरू कर दी है।  

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर