State Veterinary Hospital Bhopal: भोपाल का राज्य पशु चिकित्सालय बनेगा हाईटेक, अब मिलेंगी ये नई सुविधाएं

Capital Bhopal: भोपाल के राज्य पशु चिकित्सालय में पशु मालिकों को अब मोटी फाइलें नहीं ढोनीं होंगी। अब राज्य पशु चिकित्सालय सभी कार्य ऑनलाइन मोड में करने की तैयारी में है। 15 अगस्त तक यह प्रक्रिया शुरू होने की संभावना है। पशु मालिकों को इस पहल से अधिक लाभ मिल सकेगा।

State Veterinary Hospital Bhopal
भोपाल में राज्य पशु चिकित्सालय में अब सभी काम होंगे ऑनलाइन  
मुख्य बातें
  • पशु मालिकों को फाइल संभालने की नहीं होगी आवश्यकता
  • सभी काम ऑनलाइन मोड में किए जाएंगे
  • भोपाल के पशु चिकित्सालय में अब मिलेंगी ये सुविधाएं

Bhopal News: राजधानी भोपाल समेत राज्य के अन्य पशु मालिकों के लिए बड़ी खबर है। राज्य पशु चिकित्सालय में लोगों को अपने जानवरों के इलाज के दौरान ओपीडी पर्चा, जांच रिपोर्ट और इलाज से संबंधित दूसरे दस्तावेजों की फाइल को संभालने की परेशानी से अब निजात मिलने जा रही है। अस्पताल जल्द ही ऑनलाइन मोड पर सभी काम करने वाला है। इस कवायद के बाद ओपीडी के पर्चे से लेकर तमाम तरह के दस्तावेज एक से दूसरी जगह ऑनलाइन पहुंचेंगे।

बता दें कि देश डिजिटलाइजेशन की ओर तेजी से बढ़ रहा है। सरकारी कार्यालयों में इसके अनुसार कार्य करने की प्रक्रिया धीरे-धीरे प्रचलन में आ रही है। अब मोटी-मोटी फाइलों की जगह स्मार्ट डेटाशीट और डाक्यूमेंट ऑनलाइन तरीके से संरक्षित किए जा रहे हैं। इसी दिशा में कदम बढ़ाते हुए भोपाल के राज्य पशु चिकित्सालय में सभी कार्य ऑनलाइन करने की प्रक्रिया जल्द शुरू की जाएगी।

ऑनलाइन सिस्टम को समझने चेन्नई भेजी जाएगी टीम

जानकारी के लिए बता दें कि राज्य पशु चिकित्सालय में इसका फायदा यह होगा कि पशु मालिकों को फाइल एक से दूसरे स्थान पर ले जाने की जरूरत नहीं होगी। अभी सारी व्यवस्था ऑफलाइन मोड पर चलती आ रही हैं। अभी ऐसी ऑनलाइन व्यवस्था पूरे देश में सिर्फ चेन्नई के सरकारी पशु चिकित्सालय में संचालित हो रही है। ऐसे में यहां नई व्यवस्था को लागू करने के पहले एक टीम का गठन कर उसको चेन्नई भेजा जाएगा। यहां से गई टीम वहां चल रहे सिस्टम को स्टडी करेगी।

15 अगस्त से शुरू हो सकती है ऑनलाइन व्यवस्था

चेन्नई से लौटकर टीम की ओर से ऑनलाइन व्यवस्था राज्य पशु चिकित्सालय में लागू की जाएगी। मिली जानकारी के अनुसार मामले में प्रभारी संयुक्त संचालक डॉ. अजय रामटेक का कहना है कि उम्मीद है कि 15 अगस्त तक यह सुविधा शुरू कर देंगे। बता दें कि ऑनलाइन व्यवस्था के शुरू हो जाने से सभी कार्यों में पारदर्शिता आएगी। इससे पशु मालिकों को बार-बार कार्यालय के चक्कर नहीं काटने होंगे। कई जानकारियां उनको घर बैठे-बैठे फोन से इंटरनेट के जरिए मिल सकेंगी। आपको बता दें इस सुविधा के बाद भोपाल में देश का दूसरा सबसे हाईटेक राज्य पशु चिकित्सालय होगा।

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर