Bhopal Urban Body Election 2022 : भाजपा ने लगाई महापौर पद के इन नामों पर मुहर, जानिए कौनसे हैं वो चेहरे

Bhopal Urban Body Election 2022: राजनीतिक गलियारों के हवाले से कथित तौर पर सामने आई जानकारी के मुताबिक जिन एकल नामों पर सहमति बनी है उनमें रीवा से व्यकंटेश पांडेय, जबलपुर से डॉ. जितेंद्र जामदार व भोपाल से मालती राय का नाम सामने आ रहा है। 

Bhopal Urban Body Election 2022
बैठकों का दौर जारी  |  तस्वीर साभार: Facebook
मुख्य बातें
  • केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात कर भोपाल लौटे सीएम शिवराज सिंह
  • दो बड़े शहरों के महापौर पद के लिए नाम तय करने को लेकर प्रदेश भाजपा ने किया महामंथन
  • भाजपा की ओर से कुछ नामों पर करीब- करीब सहमति बन गई

Bhopal Urban Body Election 2022: राज्य के 16 नगर निगमों के लिए महापौर उम्मीदवारों को लेकर पत्ते खोल चुकी कांग्रेस के बाद भाजपा की ओर से सोमवार देर रात्रि को कुछ नामों पर करीब-करीब सहमति बन गई है। हालांकि नामों की औपचारिक घोषणा होने में अभी देरी है। इनकी सूची अब कभी भी जारी हो सकती है। दिल्ली में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात कर भोपाल लौटे सीएम शिवराजसिंह चौहान उम्मीदवारों के नाम तय करने को लेकर सीधे भाजपा कार्यालय पहुंचे।

इसके बाद प्रदेश भाजपा नेतृत्व के साथ शुरू हुई बैठक देर रात तक चली। बैठक में महामंथन करने के बाद करीब सवा दस बजे सीएम शिवराज सिंह बीजेपी दफ्तर से रवाना हो गए। इसके बाद बीजेपी प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव भी कार्यालय से रवाना हो गए। राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि जिन एकल नामों पर सहमति बनी है उनमें रीवा से व्यकंटेश पांडेय, जबलपुर से डॉ. जितेंद्र जामदार व भोपाल से मालती राय के नाम सामने आ रहे हैं।  

इंदौर ग्वालियर को लेकर फंसा पेच 

भाजपा की बैठकों के कई दौर चलने व सीएम शिवराज सिंह के दिल्ली दौर के बाद भी प्रदेश के दो बड़े शहरों के महापौर पद के लिए नाम तय करने में प्रदेश भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। क्लीन स्मार्ट सीटी इंदौर से पुष्यमित्र भार्गव व मधु वर्मा में से किसी एक को प्रत्याशी बनाए जाने की चर्चा है। वहीं ग्वालियर में पूर्व मंत्री मायासिंह और सुमन शर्मा के नामों को लेकर विचार किया जा रहा है। आपको बता दें कि ग्वालियर नगर निगम में पिछले 55 साल से भाजपा का कब्जा रहा है। जिसके चलते जहां बीजेपी इस रिकॉर्ड को कायम रखने की कड़ी जुगत में है। वहीं कांग्रेस इस रिकॉर्ड को बदलने को लेकर जोर आजमाइश कर रही है। अब देखना यह है कि चुनाव में कौनसी पार्टी बीजी जीतती है।

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर