Bhopal: प्यार में मिला नाबालिग को फरेब, बांग्लादेश बॉर्डर से किया बरामद तो प्रेमी ने बताई दास्तां, दंग रह गई पुलिस

Bhopal : भोपाल से अपह्रत हुई 17 वर्षीय नाबालिग किशोरी को राजधानी की टीला जमालपुरा पुलिस ने बांग्लादेश के बॉर्डर से बरामद किया है। आरोपी के खिलाफ अपहरण व रेप की धाराओं में मामला दर्ज कर कोर्ट में पेश किया। इसके बाद कोर्ट के आदेश पर उसे जेल भेज दिया गया।

Bhopal News
गत एक जुलाई को अपह्रत हुई 17 वर्षीय नाबालिग किशोरी को राजधानी की पुलिस ने बांग्लादेश के बॉर्डर से बरामद किया  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • 17 वर्षीय नाबालिग किशोरी को पुलिस ने बांग्लादेश के बॉर्डर से बरामद किया
  • आरोपी को कोर्ट के आदेश पर उसे जेल भेज दिया गया
  • नाबालिग की सोशल मीडिया पर आरोपी से दोस्ती हुई थी

Bhopal: राजधानी भोपाल से अपह्रत हुई 17 वर्षीय नाबालिग किशोरी को राजधानी की टीला जमालपुरा पुलिस ने बांग्लादेश के बॉर्डर से बरामद किया है। पुलिस के मुताबिक पीड़िता पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में स्थित एक गांव से मिली है। हालांकि पुलिस ने आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ अपहरण व रेप की धाराओं में मामला दर्ज कर कोर्ट में पेश किया। इसके बाद कोर्ट के आदेश पर उसे जेल भेज दिया गया।

नाबालिग किशोरी ने पुलिस को बताया कि आरोपी ने नाम बदलकर सोशल मीडिया पर उससे दोस्ती की। इसके बाद प्यार में फंसाया व अपहरण कर उसे मालदा ले गया। वहां एक गांव में अपने चाचा के घर में उसे बंधक बनाकर रखा व कई बार रेप किया। पुलिस के मुताबिक पीड़िता 10वीं तक पढ़ी है। 

ऐसे पहुंची पुलिस नाबालिग तक 

टीला जमालपुरा थाने के एसएचओ राधेश्याम रेंगर के मुताबिक गत एक जुलाई को नाबालिग की मां ने थाने में अपनी बेटी की गुमशुदगी दर्ज करवाई थी। इसके साथ ही उसने पंजाब के होशियारपुर (पंजाब) के रहने वाले युवक राहुल पर बेटी के अपहरण का शक जताया था।  गुमशुदगी दर्ज होने के बाद पुलिस पंजाब गई व आरोपी की तलाश की। मगर आरोपी का मोबाइल ऑन नहीं होने के चलते पुलिस को काफी मेहनत के बाद भी उसका पता नहीं चला। इस दौरान एक दिन आरोपी की मां थाने आई व पुलिस को बताया कि उसकी बेटी का कॉल आया है। एसएचओ के मुताबिक नंबरों की जांच की तो पता चला कि मोबाइल की लोकेशन पश्चिम बंगाल में स्थित बांग्लादेश बॉर्डर की आई। मोबाइल की लोकेशन को लगातार ट्रेस कर उसकी सही लोकेशन पश्चिम बंगाल के मालदा जिले के एक गांव की मिली। इसके बाद एक पुलिस टीम को मालदा के लिए रवाना किया गया। जहां पर आरोपी युवक ने पीड़िता को बंधक बना कर रखा हुआ था। 

ये है प्यार के नाम पर फरेब की कहानी

एसएचओ के मुताबिक पूछताछ में हैरान करने वाली जानकारी मिली। नाबालिग किशोरी ने पुलिस को बताया कि सोशल मीडिया पर राहुल से दोस्ती हुई थी। बाद में उसका असली नाम पता लगा कि, यह राहुल नहीं सोजेब अली (20) है, जो कि पठानकोट (पंजाब ) का रहने वाला है। वहां पर मोबाइल रिपेयरिंग का काम करता है। एसएचओ के मुताबिक आरोपी ने पुलिस को अपहरण की पूरी कहानी बताई तो पुलिस खुद हैरान रह गई। नाम बदलकर आरोपी ने पीड़िता को झांसे में लिया। उसका अपहरण करने के बाद वह उसे जम्मू लेकर गया। वहां बात नहीं बनी तो उसे बांग्लादेश के बॉर्डर के पास मालदा जिले में रहने वाले अपने चाचा के घर ले गया। 

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर