भोपाल के हबीबगंज अंडरपास मार्ग पर इस तारीख तक आवागमन रहेगा बंद, जानिए इसके पीछे की वजह

भोपाल में हबीबगंज के रेल अंडरपास की एक लेन को कुछ समय के लिए बंदा किया जाएगा। जिससे इस पर यातायात बंद रहेगा। इस अंडर पास पर निर्माण कार्य के चलते ऐसा कदम उठाया गया है। इन दोनों लेन पर आवागमन दो क्रम में बंद किया जाएगा।

Under Pass in Bhopal
भोपाल के हबीबगंज अंडर पास मार्ग का एक लेन 4 जून तक रहेगा बंद  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • मरम्मत कार्य के चलते आवागमन रहेगा बंद
  • 28 मई तक ईटारसी छोर वाली लेन और 4 जून तक रानी कमलापति रेलवे स्टेशन वाली लेन रहेगी बंद
  • नर्मदापुरम रोड के सिग्नल प्वाइंट स्थाई रूप से होगा बंद

Habibganj Under Pass: हबीबगंज रेल अंडरपास से यात्रा करने वाले लोगों के लिए जरूरी खबर है। रेल अंडर पास की एक लेन पर निर्माण कार्य के चलते आवागमन 4 जून तक बंद रहेगा। इटारसी छोर वाली लेन 28 मई तक बंद रखी जाएगी। 29 मई से इसे आवागमन के लिए पुन: खोल दिया जाएगा। इसी दिन से रानी कमलापति रेलवे स्टेशन की ओर जाने वाली लेन को मरम्मत कार्य के लिए बंद किया जाएगा। यह काम चार जून तक चलेगा।

गौरतलब है कि इस रेल अंडरपास को 27 अप्रैल को ही राहगीरों के आवागमन के लिए खोला गया है। लेकिन कुछ ही दिनों में दोनों लेन की सड़कें उखड़ गई हैं। फैलने वाली गिट्टियों के कारण हादसों का खतरा बढ़ता जा रहा है। इसका निर्माण सवा छह करोड़ रुपए की लागत से किया है।

नर्मादापुरम रोड का सिग्नल प्वाइंट बंद

अंडरपास के सामने नर्मदापुरम रोड पर एक सिग्नल पाइंट था, जिसे यातायात पुलिस ने स्थाई रूप से बंद करवा दिया है। अब अंडरपास से होकर आने-जाने वाले रहागीरों को सावरकर सेतु के नीचे और हबीबगंज नाका तक अतिरिक्त चलना पड़ेगा। जिससे वाहन चालकों को परेशानी होगी। पहले सीधे रास्तों से जाना होता था, अब दूसरे घुमावदार रास्तों से जाना होगा।

निर्माण में लापरवाही, आमजन परेशान

रेल अंडरपास के निर्माण में पहले देर की गई थी, बाद में इसे जल्दबाजी में पूरा कर दिया गया। ऐसे में आम राहगीरों को परेशान होना पड़ रहा है। यदि तय मापदंड के अनुरूप समय पर काम किया जाता तो सड़कें नहीं उखड़तीं। बता दें कि कोरोना महामारी के कारण पूर्व में अंडरपास को बनाने में देरी की गई थी। असल में इस अंडरपास को जून 2020 में चालू किया जाना था। इसके बाद जब अंडरपास बनकर तैयार हो गया तो एप्रोच रोड बनाने के काम के लिए क्षेत्र में पुरानी रेल पुलिया से आवागमन रोकना पड़ा था। इस बीच तेजी से काम किया था, जिसमें जल्दबाजी हुई थी। यह जल्दबाजी तय दिन पर इसका शुभारंभ करने व आवागमन को बहाल करने के लिए की गई थी। इसी के कारण अंडरपास की दोनों लेन की ऊपरी सतह पर किए जाने वाले मेस्टिक असफाल्ट द्वारा वियरिंग कोट (सड़क की ऊपरी सतह पर अलग से सीमेंट कंक्रीट युक्त परत डालना) का काम नहीं किया गया और वाहनों का दबाव पड़ते ही सड़कें उखड़नी शुरू हो गई।

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर