Bhopal में फार्मेसी छात्र निकले शातिर जालसाज, दो साल में ठगी से बना लिए सवा करोड़ रुपए, यूं बनाते थे शिकार

Bhopal Cyber Thug Arrested: भोपाल में दो और साइबर ठग पुलिस की गिरफ्त में आए हैं। दोनों ने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया है। पुलिस को बताया है कि, दोनों ने मिलकर दो साल में सवा करोड़ रुपए की ठगी की है। छत्तीसगढ़ की पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार किया है। दोनों फार्मेसी के छात्र हैं।

Those who cheated in the name of lottery arrested
लॉटरी के नाम पर ठगी करने वाले गिरफ्तार  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • शहर की इंद्रपुरी के मोहिनी विहार में रह रहा था ठगी का मास्टरमाइंड आकाश
  • आकाश मूल रूप से बिहार के गोपालगंज जिले का है रहने वाला
  • बिहार में ही आकाश ने सीखी है ऑनलाइन ठगी

Bhopal Cyber Fraud: छत्तीसगढ़ की बेमेतरा पुलिस ने भोपाल से दो साइबर ठगों को गिरफ्तार किया है। यह दोनों फार्मेसी के छात्र हैं। इन दोनों ने ऑनलाइन ठगी के माध्यम से दो साल में सवा करोड़ रुपए जमा किए हैं। पुलिस की पूछताछ में दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। बता दें शहर की इंद्रपुरी के मोहिनी विहार में रहने वाले फार्मेसी छात्र आकाश उर्फ जय गुप्ता को गिरफ्तर किया गया है। इसके साथी ग्राम करौंदिया जिला उमरिया के ओमप्रकाश यादव की भी गिरफ्तारी हुई है। इन दोनों की दोस्ती दो साल पहले कॉलेज जाने के दौरान बस में हुई थी। 

आकाश ने ऑनलाइन ठगी बिहार से सीखी है। यह मूलरूप से बिहार के गोपालगंज जिले का रहने वाला है। इसका गांव पपरा थाना क्षेत्र अंतर्गत मांझागढ़ है। छत्तीसगढ़ की बेमेतरा पुलिस के अनुसार नवागढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम गानिया निवासी नीराबाई ध्रुवे को फोन कर आरोपियों ने 25 लाख की लॉटरी लगवाने के नाम पर 45 हजार रुपए ठग लिए थे। 

दोनों के खिलाफ 31 जुलाई को दर्ज हुई थी शिकायत

लॉटरी के नाम पर ठगी मामले में इन दोनों के खिलाफ 31 जुलाई को शिकायत दर्ज हुई थी। जांच में पुलिस को पता चला कि ठगी के रुपए ओमप्रकाश यादव और पश्चिम बंगाल के आसनसोल निवासी करतार सिंह अरोरा के खाते में ट्रांफसर हुए हैं। ऐसे में पुलिस ओमप्रकाश तक पहुंची। इसकी गिरफ्तारी के बाद आकाश तक पुलिस पहुंच गई और उसे भी गिरफ्तार कर लिया। 

यह चीजें हुईं बरामद

आकाश के पास से पुलिस ने अलग-अलग बैंकों के 44 डेबिट कार्ड, इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक कार्ड, दो पासबुक, आधार कार्ड, विभिन्न सर्विस प्रोवाइडर से संबंधित 14 मोबाइल सिम कार्ड बरामद किए हैं। इधर, आकाश की गिरफ्तारी होने के बाद मध्य प्रदेश साइबर सेल और भोपाल साइबर क्राइम की टीमें उससे संबंधित जानकारी जुटाने में जुट गईं हैं।

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर