Bhopal: रेलवे स्टेशन पर युवती के साथ गैंग रेप, रेलवे के दो कर्मचारियों पर आरोप

भोपाल समाचार
भाषा
Updated Sep 27, 2020 | 07:26 IST

भोपाल रेलवे स्टेशन के वीआईपी रेस्ट रूम में एक युवती से सामूहिक बलात्कार करने के आरोप में शासकीय रेलवे पुलिस ने रेलवे के एक कर्मचारी को गिरफ्तार किया है जबकि दूसरे कर्मचारी को हिरासत में लिया है।

Rape
मामले की जांच शुरू कर दी गई है 

भोपाल: मध्य प्रदेश में भोपाल रेलवे स्टेशन के वीआईपी रेस्ट रूम में एक युवती से सामूहिक बलात्कार करने के आरोप में शासकीय रेलवे पुलिस ने रेलवे के एक कर्मचारी को गिरफ्तार किया है जबकि दूसरे कर्मचारी को हिरासत में लिया है। भोपाल में रेलवे पुलिस के अधीक्षक हितेश चौधरी ने शनिवार को बताया कि युवती से सामूहिक बलात्कार के आरोप में भोपाल रेल मंडल में सुरक्षा सलाहकार के पद पर कार्यरत 45 वर्षीय राजेश तिवारी को भारतीय दंड संहिता की धारा 376, (बलात्कार) और अन्य संबद्ध धाराओं में गिरफ्तार किया गया है जबकि तिवारी के एक साथी को हिरासत में लिया गया है। वह भी रेलवे में ही कार्यरत है।

उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के महोबा की रहने वाली 22 वर्षीय पीड़िता की तिवारी से फेसबुक पर दोस्ती हुई थी। तिवारी ने उसे नौकरी दिलाने के बहाने भोपाल बुलाया था। युवती आज सुबह जब भोपाल रेलवे स्टेशन पहुंची तो तिवारी ने उसे स्टेशन पर बने रेलवे के वीआईपी रेस्ट रुम में ठहराया।

चौधरी ने बताया कि दोपहर को तिवारी रेलवे में कर्मचारी अपने साथी के साथ युवती से मिलने आया और युवती को पीने के लिए कोई चीज दी जिसमें कथित रूप से नशीला पदार्थ मिला हुआ था। इसके बाद युवती को हल्की बेहोशी आने लगी। फिर दोनों ने युवती से सामूहिक बलात्कार किया। उन्होंने बताया कि युवती ने होश आने पर शाम को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस ने तिवारी को गिरफ्तार कर लिया तथा तिवारी से पूछताछ के आधार पर उसके साथी को हिरासत में ले लिया।

उन्होंने बताया कि पीड़िता से पहचान कराने के बाद हिरासत में लिये गये तिवारी के साथी की भी गिरफ्तारी की जा सकती है। चौधरी ने बताया कि मामले में जांच की जा रही है।

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर