Global COVID19 Summit US: पीएम मोदी बोले-हमें महामारी के आर्थिक प्रभावों को दूर करने पर भी ध्यान देने की जरूरत

दुनिया
रवि वैश्य
Updated Sep 22, 2021 | 22:33 IST

PM Modi in Global COVID19 Summit US:अमेरिका में ग्लोबल COVID-19 शिखर सम्मेलन में पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना महामारी को लेकर कई मुद्दों पर विचार रखे हैं।

pm modi
भारत के  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका दौरे पर हैं 

नई दिल्ली: भारत के  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका दौरे पर हैं, पीएम मोदी ने अमेरिका में ग्लोबल कोविड-19 समिट (Global COVID19 summit) में शिरकत करते हुए कोरोना को लेकर विचार रखे हैं, समिट को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा-COVID19 महामारी एक अभूतपूर्व व्यवधान रहा है और यह अभी खत्म नहीं हुआ है। दुनिया के अधिकांश हिस्सों में अभी भी टीकाकरण होना बाकी है इसलिए राष्ट्रपति बिडेन की यह पहल सामयिक और स्वागत योग्य है।

पीएम मोदी ने कहा -हमें महामारी के आर्थिक प्रभावों को दूर करने पर भी ध्यान देने की आवश्यकता है।इसके लिए, वैक्सीन प्रमाणपत्रों की पारस्परिक मान्यता के माध्यम से अंतर्राष्ट्रीय यात्रा को आसान बनाया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा-भारत ने हमेशा मानवता को एक परिवार के रूप में देखा है। भारत के फार्मास्युटिकल उद्योग ने लागत प्रभावी डायग्नोस्टिक किट, दवाएं, चिकित्सा उपकरण और पीपीई किट का उत्पादन किया है। ये कई विकासशील देशों को किफायती विकल्प प्रदान कर रहे हैं।

पीएम मोदी ने आगे कहा- इस साल की शुरुआत में, हमने अपने वैक्सीन उत्पादन को 95 अन्य देशों और संयुक्त राष्ट्र के शांति सैनिकों के साथ साझा किया और, एक परिवार की तरह, दुनिया भी भारत के साथ खड़ी थी जब हम दूसरी लहर से गुजर रहे थे। भारत को दी गई एकजुटता और समर्थन के लिए, मैं आप सभी का धन्यवाद करता हूं।

पीएम बोले- भारत अब दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान चला रहा है।हाल ही में, हमने एक दिन में लगभग 25 मिलियन लोगों को टीका लगाया।हमारी जमीनी स्तर की स्वास्थ्य सेवा प्रणाली ने अब तक 800 मिलियन से अधिक वैक्सीन खुराक वितरित की हैं। 200 मिलियन से अधिक भारतीय अब पूरी तरह से टीकाकरण ले चुके हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- जैसे-जैसे नए भारतीय टीके विकसित होते हैं, हम मौजूदा टीकों की उत्पादन क्षमता भी बढ़ा रहे हैं, जैसे-जैसे हमारा उत्पादन बढ़ेगा, हम दूसरों को भी वैक्सीन की आपूर्ति फिर से शुरू कर पाएंगे इसके लिए कच्चे माल की सप्लाई चेन खुली रखनी होगी।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर