Taliban news : सेक्‍स वर्कर्स की 'किल लिस्‍ट' बना रहा तालिबान, खंगाले जा रहे पॉर्न साइट्स

अफगानिस्‍तान की सत्‍ता में काबिज तालिबान के राज में महिलाओं के अधिकारों और सुरक्षा को लेकर उठते सवालों के बीच ऐसी जानकारी भी सामने आ रही है, जिसमें कहा गया है कि वे सेक्‍स वर्कर्स को मौत की सजा दे सकते हैं।

Taliban news : सेक्‍स वर्कर्स की 'किल लिस्‍ट' बना रहा तालिबान, खंगाले जा रहे पॉर्न साइट्स
Taliban news : सेक्‍स वर्कर्स की 'किल लिस्‍ट' बना रहा तालिबान, खंगाले जा रहे पॉर्न साइट्स  |  तस्वीर साभार: AP, File Image

काबुल : अफगानिस्‍तान की सत्‍ता में आने के बाद तालिबान को लेकर कई तरह की रिपोर्ट आ रही हैं। अब सामने आई एक रिपोर्ट में बताया गया है कि तालिबान सेक्‍स वर्कर्स के खिलाफ मौत का फरमान जारी कर सकता है। तालिबान के लड़ाके ऐसी महिलाओं की एक लिस्‍ट भी तैयार कर रहे हैं, जो देह व्‍यापार के धंधे में लिप्‍त रही हैं। इसके लिए वे पॉर्न साइट्स भी खंगाल रहे हैं, जहां कई अफगान महिलाओं को पश्चिमी देशों के पुरुषों के साथ देखा जा चुका है।

'द सन' की एक रिपोर्ट के अनुसार, तालिबान के लड़ाके सेक्‍स वर्कर्स का पता लगाने के लिए हर पैंतरा अपना रहे हैं। वे सार्वजनिक रूप से उन्‍हें मौत की सजा दे सकते हैं तो उन्‍हें अपमानित और प्रताड़‍ित भी कर सकते हैं। ऐसी महिलाओं पर तालिबान द्वारा उनका सिर कलम किए जाने, उन्‍हें पत्‍थर से मारने और सूली पर लटकाए जाने और इससे पहले पहले तालिबान के लड़ाकों द्वारा उनके साथ सामूहिक दुष्‍कर्म किए जाने का जोखिम बना हुआ है।

एडल्ट साइट्स की छानबीन

रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि तालिबान लड़ाके सेक्‍स वर्कर्स के बारे में पता लगाने के लिए कई एडल्ट साइट्स की छानबीन कर रहे हैं। उनका मकसद इन्‍हें पकड़कर सजा देना या अपना गुलाम बनाना है। पश्चिमी देशों के पुरुषों के साथ अफगान महिलाओं के कई वीडियो ऐसे भी सामने आए हैं, जिनसे वेश्‍यालय के बारे में साफ पता चलता है। ऐसे में इन महिलाओं को अगवा किए जाने और बर्बर तरीके से उनकी हत्‍या किए जाने का खतरा बना हुआ है।

तालिबान ने 1990 के दशक में भी अफगानिस्तान पर ऐसा ही जुल्‍म ढाया था, जब कई महिलाओं को बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया गया था और उन्‍हें प्रताड़ित भी किया गया था। अब एक बार फिर अफगानिस्‍तान की सत्‍ता में तालिबान के आने के बाद महिलाओं के अधिकारों और उनकी सुरक्षा को लेकर सबसे अधिक चिंता जताई जा रही है। अफगानिस्‍तान में 1996 से 2001 के बीच जब तालिबान का राज था, तब भी ऐसी कई महिलाओं को सार्वजनिक तौर पर खौफनाक और बर्बर सजा दी गई थी।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर