पीएम मोदी पर इमरान खान की गलत बयानी को पाक मीडिया ने पकड़ा, अपने प्रधानमंत्री को दुरुस्त किया

Pak Media on Imran Khan: पाकिस्तान कोरोना वायरस से बुरी तरह चपेट में है। कोरोना वायरस से संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले सिंध प्रांत से आए हैं। पाकिस्तान में कोरोना वायरस के अब तक 1625 केस सामने आए हैं।

Pakistan media corrects Imran Khan remarks on PM modi's
कोरोना वायरस की चपेट में है पाकिस्तान।  |  तस्वीर साभार: AP

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में पाकिस्तान के पीएम इमरान खान की गलत बयानी को वहां के मीडिया ने पकड़ लिया है। दरअसल, इमरान खान ने सोमवार को कोरोना वायरस पर वीडियो के जरिए अपने देश के लोगों को संबोधित किया। अपने इस संबोधन में उन्होंने बताया कि पाकिस्तान में लॉकडाउन लागू करना उनके नजरिए में क्यों ठीक नहीं है। इमरान ने आगे कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन के लिए अपने देश के लोगों से माफी मांगी है और इन्होंने इसे लागू करने के बारे में ठीक तरीके से विचार नहीं किया। 

हालांकि, भारत के लॉकडाउन पर अपने पीएम की गलत बयानी को वहां के मीडिया ने पकड़ लिया। पाकिस्तान के जिओ टीवी ने इमरान को बताया कि भारत के प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन के लिए नहीं बल्कि इससे हुई असुविधाओं एवं परेशानियों के लिए लोगों से माफी मांगी। भारतीय पीएम ने यह नहीं कहा कि लॉकडाउन का फैसला उन्होंने बिना पूरी तरह सोच-विचार के नहीं लिया।

बता दें कि पीएम मोदी ने गत 24 मार्च की रात आठ बजे पूरे देश में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की। इस लॉकडाउन के दौरान लोगों को हो रही असुविधा एवं परेशानियों का जिक्र उन्होंने रविवार को अपने रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' में की। पीएम मोदी ने कहा कि वह इस असुविधा के लिए लोगों से माफी मांगते हैं। पीएम ने कहा, 'लोग यह सोच रहे होंगे कि यह कैसा पीएम है जिसने उन्हें घरों में बंद कर दिया।' प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि भारत 130 करोड़ की आबादी वाला देश है और कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए इस कदम के अलावा उनके पास और कोई विकल्प नहीं था।

पाकिस्तान कोरोना वायरस से बुरी तरह चपेट में है। कोरोना वायरस से संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले सिंध प्रांत से आए हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान में कोरोना वायरस के अब तक 1625 केस सामने आए हैं और इनमें से 18 लोगों की मौत हो गई है। चीन से शुरु होने वाले इस वायरस ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है। विश्व भर में इस वायरस के 697,244 केस सामने आ चुके हैं और 33,257 लोगों की अब तक मोत हो चुकी है। दुनिया के 203 देशों में इस वायरस का असर देखा जा रहा है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर