पीएम मोदी के फैसले का मुरीद हुआ पाकिस्तानी मीडिया, विशेषज्ञ बोले- इमरान को लेनी चाहिए सीख

देश
किशोर जोशी
Updated Mar 31, 2020 | 06:30 IST

भारत ने जब से लॉकडाउन किया हुआ है तब से उसकी चर्चा पाक मीडिया में खूब हो रही है। कई पाकिस्तानी एक्सपर्ट पीएम मोदी के इस फैसले की जमकर तारीफ कर रहे हैं।

Pakistani media praised PM Modi's Lockdown decision, experts says Imran Khan should learn
पीएम मोदी के फैसले का मुरीद हुआ पाकिस्तानी मीडिया 

मुख्य बातें

  • लॉकडाउन पर पीएम मोदी की तारीफ में कसीदे गढ़ रहा है पाक मीडिया
  • टीवी चैनलों पर पीएम मोदी के लॉकडाउन वाले फैसले की खूब हो रही है तारीफ
  • पाकिस्तानी टीवी विशेषज्ञ इमरान को पीएम मोदी से सीख लेने की दे रहे हैं सलाह

नई दिल्ली: विश्वभर में कोरोना अभी तक 30 हजार से अधिक जाने ले चुका हैं और दुनिया की सुपरपावर कहे जाने वाले देश भी इस जानलेवा वायरस के संक्रमण से बच नहीं सके हैं। भारत सरकार ने इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए पहले तो एक दिन जनता कर्फ्यू का आह्वान किया और उसके बाद पीएम मोदी ने 21 दिनों के देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा कर दी। इस अवधि के दौरान सरकार कई महत्वपूर्ण फैसले भी ले रही है ताकि आम जनता को कोई दिक्कत ना हो सके। सरकार के इस फैसले की पड़ोसी मुल्क की मीडिया में भी खूब चर्चा हो रही है। 

मोदी के एक फैसले से एकजुट हुआ भारत

 पाकिस्तान मीडिया तो पीएम मोदी की तारीफ में कसीदे गढ़ रहा है और कह रहा है कि मोदी की एक आवाज पर पूरा भारत एकजुट हो गया जिससे इमरान खान को सीख लेनी चाहिए। पीएम मोदी की तारीफ में एक एक्सपर्ट ने तो ये तक कह दिया कि मोदी जानते हैं कि किस तरह के फेसले लेने की जरूरत देश को है। वहीं एक दूसरे एक्सपर्ट ने कहा कि मोदी सरकार लोगों की जरूरतों का पूरा ध्यान रख रही है जबकि वहां सवा अरब की आबादी है लेकिन हमारे यहां (पाकिस्तान) में ऐसी कोई प्लानिंग ही नहीं है।

इमरान को तो पता ही नहीं करना क्या है

दूसरे पाकिस्तान चैनल में तो पीएम मोदी के संवाद का एक एक्सपर्ट इस कदर मुरीद हुआ कि वो कहने लगा, 'हम तो दुश्मन हैं हिंदुस्तान के लेकिन आपने भारत के वजीरे-आजम (पीएम) की बॉडी लैंग्वेज और उनके संवाद का तरीका देखा था जिसमं उन्होंने लॉकडाउन का ऐलान किया था? यहां के प्रधानंत्री को तो पता ही नहीं है कि करना क्या है।' पाक मीडिया इस बात से काफी आश्चर्यचकित आया कि आखिर कैसे इतने बड़े देश में पीए मोदी के एक आदेश पर सब कैसे एकजुट हो गए।

लॉकडाउन के लिए भी पीएम मोदी की तारीफ

एआरवाई न्यूज चैनल की एंकर बताती हैं विश्व में कई आर्थिक संपन्न देशों ने पहले जहां अपनी अर्थव्यवस्था को इंसानी जान से ज्यादा जरूरी समझा वहीं भारत ने अर्थव्यवस्था से पहले नागरिकों की जान की कीमत को ज्यादा जरूरी समझा। पाक मीडिया ऐसे आंकड़े भी शेयर कर रहा है जिसमें बताया जा रहा है कि विश्व में जिन देशों ने देरी से लॉकडाउन की घोषणा की उन्हें किस कदर नुकसान उठाना पड़ा।

आपको बता दें कि पाकिस्तान में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 1,600 को पार कर गए हैं  जबकि मरने वालों की तादाद भी 20 के पार पहुंच गई हैं। सबसे ज्यादा सिंध प्रांत इस वायरस की चपेट में आया है।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर