Balakot Terror Camp: पाक का एक और झूठ, बालाकोट में टेरर कैंप के फिर सक्रिय होने की रिपोर्टों को नकारा

दुनिया
आलोक राव
Updated Sep 24, 2019 | 15:21 IST

Terror Camp in Balakot: पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ. मोहम्मद फैजल ने कहा है कि भारत कश्मीर से अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान भटकाने के लिए बालाकोट की बात कर रहा है।

Pakistan denies reports of reactivation Balakot terror camp
गत फरवरी में बालाकोट पर आईएएफ ने की थी एयर स्ट्राइक।  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने सोमवार को कहा कि पाक ने बालाकोट टेरर कैंप को फिर सक्रिय किया है
  • गत फरवरी में भारतीय वायु सेना (आईएएफ) ने बालाकोट पर किया था एयर स्ट्राइक, मारे गए थे आतंकी
  • पाकिस्तान ने टेरर कैंप के दोबारा सक्रिय करने की रिपोर्टों को 'पूरी तरह आधारहीन बताया'

नई दिल्ली : पाकिस्तान ने बालाकोट में आतंकवादियों के दोबारा सक्रिय होने के सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत के बयान को खारिज किया है। समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक पाकिस्तान ने सेना प्रमुख के बयान को 'पूरी तरह आधारहीन' बताया है। गत फरवरी में भारतीय वायु सेना (आईएएफ) ने बालाकोट स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े प्रशिक्षण केंद्र को निशाना बनाया था। इस एयर स्ट्राइक में बड़ी संख्या में आतंकवादियों के मारे जाने की बात कही जाती है। कश्मीर मसले पर भारत सरकार के फैसले से तिलमिलाया पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में बड़े पैमाने पर आतंकवादियों की घुसपैठ कराना चाहता है।

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के मुताबिक रिपोर्टों में कहा गया है कि कश्मीर में घुसपैठ के लिए एलओसी के पास बड़ी संख्या में आतंकवादी मौजूद हैं। पाक विदेश मंत्रालय का आरोप है कि जम्मू-कश्मीर में 'मानवाधिकारों के गंभीर उल्लंघन' से अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान भटकाने के लिए भारत की तरफ से इस तरह की बातें कही जा रही हैं। 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ. मोहम्मद फैजल की ओर से जारी बयान में कहा गया, 'भारत के बयान एवं तरीके क्षेत्रीय शांति एवं स्थिरता के लिए खतरा हैं। इन नकारात्मक चालों का इस्तेमाल कर भारत अंतरराष्ट्रीय समुदाय को गुमराह करने में कामयाब नहीं होगा।' बता दें कि सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने सोमवार को चेन्नई में कहा कि पाकिस्तान ने बालाकोट में अपने आतंकवादियों को एक बार फिर सक्रिय कर दिया है और करीब 500 आतंकवादी भारत में घुसपैठ करने की फिराक में हैं। टेरर कैंपों में आतंकवादियों की गतिविधियों के जवाब में भारत बालाकोट से भी बड़ी कार्रवाई कर सकता है।

सेना प्रमुख ने कहा, 'पाकिस्तान ने हाल ही में बालाकोट को फिर से सक्रिय कर दिया है। यह बताता है कि एयर स्ट्राइक से बालाकोट को नुकसान पहुंचा। भारत की कार्रवाई के बाद वहां से लोगों को हटा दिया गया था लेकिन इसे एक बार फिर सक्रिय किया गया है।'

गत 14 फरवरी को एक आत्मघाती आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए। इस हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली। इसके बाद आईएएफ ने 26 फरवरी को बालाकोट में उसके सबसे बड़े प्रशिक्षण केंद्र को निशाना बनाते हुए एयर स्ट्राइक की। इस हमले में सैकड़ों आतंकवादी और ट्रेनर मारे गए। हालांकि, पाकिस्तान ने शुरू में इस हमले से इंकार किया लेकिन इसके बाद प्रधानमंत्री इमरान खान ने सार्वजनिक रूप से माना कि बालाकोट में एयर स्ट्राइक हुआ था।

भारत सरकार ने गत पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को समाप्त कर दिया। भारत सरकार के इस फैसले के बाद पाकिस्तान बौखलाया गया है और चाहता है कि भारत सरकार अपने इस फैसले को वापस ले। वह तब से कश्मीर मसले को दुनिया के देशों एवं अंतरराष्ट्रीय मंचों पर उठाता आ रहा है लेकिन उसकी सभी कूटनीतिक कोशिशें नाकाम हुई हैं। 

पाकिस्तान, भारत पर कश्मीर में मानवाधिकारों के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए इस मसले को संयुक्त राष्ट्र और यूएनएचआरसी में उठा चुका है लेकिन इन दोनों जगहों पर उसे मुंह की खानी पड़ी है। कश्मीर मसले पर पाकिस्तान ने दुनिया को धमकी भी दी है। उसका कहना है कि कश्मीर मुद्दे के समाधान में दुनिया के ताकतवर देशों ने यदि दखल नहीं दिया तो दोनों देशों के बीच युद्ध हो सकता है और यह जंग परमाणु युद्ध की शक्ल अख्तियार कर सकता है।

पाकिस्तान की इस धमकी को दुनिया के देश गीदड़भभकी की तरह ले रहे हैं। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान इस समय संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन में हिस्सा लेने न्यूयॉर्क पहुंचे हैं। इमरान कह चुके हैं कि वह यूएनजीए की बैठक में कश्मीर मसले को उठाएंगे। खान 27 सितंबर को कश्मीर पर क्या बोलते हैं इस पर सभी की नजरें टिकी हैं।

अगली खबर