वो दरवाजा तोड़कर मेरे बिस्तर तक आए.. इमरान खान ने जेल में मेरे बाथरूम में लगाए थे कैमरे- मरियम नवाज

दुनिया
किशोर जोशी
Updated Nov 13, 2020 | 14:38 IST

पाकिस्तान में इन दिनों राजनीतिक घमासान छिड़ा हुआ है। इस बीच पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज ने इमरान सरकार पर गंभीर आरोप लगाए।

 Maryam Nawaz Accused Imran Govt Says Cameras Were Installed In My Jail Cell, Bathroom
इमरान खान ने जेल में मेरे बाथरूम में लगाए थे कैमरे- मरियम  

मुख्य बातें

  • मरियम नवाज ने इमरान सरकार पर लगाए बेहद संगीन आरोप
  • मरियम बोली- जेल में रहने के दौरान मेरे बाथरूम में तक लगा दिए थे सीसीटीवी
  • पाकिस्तान में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं- मरियम नवाज

इस्लामाबाद: पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) की उपाध्यक्ष और पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज शरीफ ने इमरान सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। मरियम ने गुरुवार को आरोप लगाया कि अधिकारियों ने उनके जेल कक्ष और बाथरूम में कैमरे लगाए हैं। हाल ही में एक साक्षात्कार के दौरान मरियम नवाज शरीफ ने कथित तौर पर उन परेशानियों के बारे में बात की, जो पिछले साल चौधरी शुगर मिल्स मामले में गिरफ्तार किए जाने के बाद उन्हें झेलनी पड़ी थीं।

मरियम का खुलासा

मरियम ने कहा, 'मैं दो बार जेल जा चुकी हूं और यदि मैं आपको बताऊं कि जेल में एक महिला के साथ कैसा व्यवहार किया गया तो आपको भी यकीन नहीं होगा। अगर मैं खुलासा करूं तो ये (इमरान खान) अपना चेहरा दिखाने लायक नहीं रहेंगे।' इमरान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सरकार को आड़े हाथों लेते हुए पीएमएल-एन के उपाध्यक्ष ने कहा कि अगर अधिकारी कमरे को तोड़कर मेरे पिता नवाज शरीफ के सामने मुझे गिरफ्तार कर सकते हैं और उन पर निजी हमले कर सकते हैं, तो पाकिस्तान में महिला सुरक्षित नहीं है।

बिस्तर तक पहुंचे

इस इंटरव्यू के दौरान मरियम ने आगे कहा, 'अगर आप मरियम नवाज का दरवाज तोड़कर उसके बिस्तर तक पहुंच सकते हैं, अगर आप मरियम नवाज को उसके वालिद के सामने अरेस्ट कर सकते हैं, अगर आप मरियम नवाज के कमरों और बाथरूम में कैमरे लगा सकते हैं.. ये हुआ है मेरे साथ... अगर आप मरियम नवाज पर हमले करवा सकते हैं तो आप समझिए कि पाकिस्तान में कोई भी औरत सुरक्षित नहीं है।

इमरान सरकार को हटाया जाए

मरियम ने कहा कि एक महिला, चाहे वह पाकिस्तान में हो या कहीं और भी, वो कमजोर नहीं है। जियो न्यूज के अनुसार शरीफ ने कहा था कि उनकी पार्टी संविधान के दायरे में सैन्य प्रतिष्ठानों के साथ बातचीत के लिए तैयार है, बशर्ते कि सत्ता में मौजूद पीटीआई सरकार को हटाया जाए। मरियम ने आगे कहा कि वह राज्य के संस्थानों के खिलाफ नहीं थी लेकिन इस बात पर जोर देती हैं कि गुप्त बातचीत नहीं होगी। उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) के मंच के माध्यम से बातचीत की जा सकती है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर