ब्र‍िटेन पहुंचा कोरोना वायरस का नया स्‍ट्रेन, 2 मरीजों में पुष्टि, 4 और देशों को 'रेड लिस्‍ट' में किया शामिल

दुनिया
भाषा
Updated Nov 27, 2021 | 21:57 IST

कोरोना वायरस के नए स्‍ट्रेन Omicron के दो मामलों की पुष्टि ब्रिटेन में हुई है, जिसके बाद इसने चार और देशों को भी 'रेड लिस्‍ट में शामिल कर दिया है। दोनों मामले एक-दूसरे से जुड़े हैं और दक्षिण अफ्रीका की यात्रा से संबंधित हैं।

ब्र‍िटेन पहुंचा कोरोना वायरस का नया स्‍ट्रेन, 2 मरीजों में पुष्टि, 4 और देशों को 'रेड लिस्‍ट' में किया शामिल
ब्र‍िटेन पहुंचा कोरोना वायरस का नया स्‍ट्रेन, 2 मरीजों में पुष्टि, 4 और देशों को 'रेड लिस्‍ट' में किया शामिल  |  तस्वीर साभार: AP, File Image

लंदन : ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जावेद ने शनिवार को कहा है कि देश में कोरोना वायरस के नए स्वरूप ओमीक्रोन के दो मामलों की पुष्टि हुई है। उन्होंने कहा कि अफ्रीका के चार और देशों को ब्रिटेन की ‘रेड लिस्ट’ में शामिल किया गया है। जावेद ने ट्वीट किया, ‘हमें स्वास्थ्य प्राधिकारों द्वारा अवगत कराया गया है कि ब्रिटेन में ओमीक्रोन के दो मामलों की पुष्टि हुई है। दोनों मामले एक दूसरे से जुड़े हैं दक्षिण अफ्रीका की यात्रा से संबंधित हैं। दोनों मरीज अपने-अपने घरों पर पृथक-वास में हैं और उनके संपर्क में आए लोगों की तलाश की जा रही है।’

स्वास्थ्य मंत्री ने एक और ट्वीट में कहा, ‘एहतियात के तौर पर हम नॉटिंघम और चेम्सफोर्ड में लक्षित इलाकों की जांच करेंगे और संक्रमण की पुष्टि वाले सभी नमूनों का अनुक्रमण कराया जाएगा। हालात तेजी से बदल रहे हैं और हम लोक स्वास्थ्य की रक्षा के लिए निर्णायक कदम उठा रहे हैं।’

इन देशों को रेड लिस्‍ट में जोड़ा

दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना, बेल्जियम, हांगकांग और इजराइल में भी नए स्वरूप की पहचान की गई है। ब्रिटेन ने शुक्रवार को दक्षिण अफ्रीका, नामीबिया, जिम्बाब्वे, बोत्सवाना, लेसोथो और इस्वातिनी को ‘रेड लिस्ट’ में रखा। स्वास्थ्य मंत्री ने शनिवार को कहा कि उस सूची में अंगोला, मोजाम्बिक, मलावी और जाम्बिया को जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा, ‘हम हमेशा निर्णायक कदम उठाते रहे हैं। यदि आवश्यक हो तो हम आगे की कार्रवाई करने में संकोच नहीं करेंगे।’

जावेद ने ट्वीट किया, ‘हम मलावी, मोजाम्बिक, जाम्बिया और अंगोला को भी यात्रा की ‘रेड लिस्ट’ में जोड़ रहे हैं। यह आदेश रविवार सुबह 4 बजे से प्रभावी होगा। अगर आप पिछले 10 दिनों में इन देशों से लौटे हैं तो आपको पृथक-वास में रहने के साथ पीसीआर जांच करवानी होगी। अगर आप अपने बूस्टर खुराक के लिए योग्य हैं तो इसे प्राप्त करने का समय आ गया है।’

WHO ने बताया है 'चिंताजनक'

संभावित रूप से अधिक संक्रामक बी.1.1.529 स्वरूप के बारे में पहली बार 24 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका द्वारा विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) को सूचित किया गया था और इसके बाद बोत्सवाना, बेल्जियम, हांगकांग और इजराइल में भी इसकी पहचान की गई है। डब्ल्यूएचओ ने शुक्रवार को इसे ‘चिंताजनक’ स्वरूप बताते हुए ओमीक्रोन नाम दिया। ‘चिंताजनक स्वरूप’ डब्ल्यूएचओ की कोरोना वायरस के ज्यादा खतरनाक स्वरूपों की शीर्ष श्रेणी है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर