कोरोना वायरस के नए स्‍ट्रेन को WHO ने बताया 'वैर‍िएंट ऑफ कंसर्न', इन देशों ने अफ्रीका से उड़ानों पर लगाया बैन

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट B.1.1.529 ने पूरी दुनिया की नींद उड़ा रखी है। WHO ने इसे 'वैरिएंट ऑफ कंसर्न' बताया है तो दुनिया के कई देशों ने अफ्रीका से उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है।

कोरोना वायरस के नए स्‍ट्रेन को WHO ने बताया 'वैर‍िएंट ऑफ कंसर्न', कई देशों ने अफ्रीका से उड़ानों पर लगाया बैन
कोरोना वायरस के नए स्‍ट्रेन को WHO ने बताया 'वैर‍िएंट ऑफ कंसर्न', कई देशों ने अफ्रीका से उड़ानों पर लगाया बैन  |  तस्वीर साभार: Representative Image

Covid 19 new variant: दक्षिण अफ्रीका के बाद कई देशों में कोरोना वायरस का नया B.1.1.529 वैरिएंट सामने आने के बाद दुनिया में हड़कंप मच गया है। कई देशों ने दक्षिण अफ्रीका के साथ-साथ अन्‍य अफ्रीकी मुल्‍कों से आने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी है। वहीं भारत में भी इस संबंध में अलर्ट जारी किया गया है और प्रभावित देशों से आने वाले यात्रियों की एयरपोर्ट पर कड़ी निगरानी व जांच के लिए कहा है। इस बीच WHO ने इसे 'वैरिएंट ऑफ कंसर्न' बताया है।

जिन देशों ने अफ्रीकी मुल्‍कों से आने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध लगाई है, उनमें पहला नाम ब्रिटेन का है। ब्रिटेन ने दक्षिण अफ्रीका के साथ-साथ बोत्सवाना, लेसोथो, इस्वातिनी, जिम्बाब्वे और नामीबिया से आने वाले लोगों पर प्रतिबंध लागू किए हैं। हालांकि सरकार ने दोहराया कि देश में अब तक वायरस के इस नए वैरिएंट के बारे में पता नहीं चला है। ब्रिटेन ने शुक्रवार को इन देशों को  यात्रा प्रतिबंध की 'रेड लिस्‍ट' में शामिल किया।

प्रतिबंध को राजी यूरोपीय संघ

वहीं, यूरोपीय संघ के सदस्‍य देश भी कोरोना वायरस के नए वैरिएंट के सामने आने के मद्देनजर दक्षिण अफ्रीकी देशों से यात्रा पर प्रतिबंध लगाने को राजी हुए हैं, जबकि जर्मनी, फ्रांस, इटली, नीदरलैंड, ऑस्ट्रिया, बेल्जियम, माल्टा और चेक गणराज्य, यूरोप के उन देशों में शामिल हैं, जिन्होंने पहले ही यात्रा पर कड़े प्रतिबंध लगाए हैं। कोविड केस में चिंताजनक बढ़ोतरी के बीच कई देशों में फिर से लॉकडाउन भी लगाया गया है और प्रतिबंध सख्‍त किए गए हैं।

यहां गौर हो कि कोरोना वायरस के नए वैरिएंट B.1.1.529 के पहले मामले की पहचान इसी सप्‍ताह दक्षिण अफ्रीका में की गई, ज‍िसके बाद देखते ही देखते यह आसपास के कई देशों में फैल गया। दक्षिण अफ्रीका के अतिरिक्‍त बोत्‍सवाना, हॉन्‍कॉन्‍ग, इजरायल में भी इसके मामले सामने आए हैं। दक्षिण अफ्रीका में एक सप्‍ताह के भीतर ऐसे मामलों की संख्‍या 100 हो गई है, जिसने WHO सहित दुनियाभर के विशेषज्ञों को चिंता में डाल दिया है।

WHO ने बताया 'वैर‍िएंट ऑफ कंसर्न'

WHO ने कोरोना वायरस के इस नए स्‍ट्रेन को Omicron नाम दिया है और इसे 'वैरिएंट ऑफ कंसर्न' बताया है। यह वायरस उन लोगों को भी संक्रमित कर रहा है, जिन्‍होंने कोविड रोधी वैक्‍सी की पूरी डोज ले रखी है। विशेषज्ञों के अनुसार, इसमें बड़ी संख्या में स्पाइक प्रोटीन म्यूटेशन के साथ-साथ वायरल जीनोम के अन्य हिस्सों में म्यूटेशन है, जो अधिक संक्रामक होने के साथ-साथ टीके से मिलने वाली इम्‍युनिटी से भी बचकर इंसान के शरीर की कोशिकाओं में प्रवेश कर सकता है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर