कोरोना प्रबंधन पर बाइडेन ने की PM मोदी की तारीफ, चीन की नाकामी का जिक्र किया

PM Modi-Joe Biden meeting : एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक क्वाड सम्मेलन के दौरान अपने तैयार बयानों से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ने बीच में दखल देते हुए कोरोना प्रबंधन सफल तरीके एवं लोकतांत्रिक रूप से करने के लिए पीएम मोदी की तारीफ की।

Biden praised PM Modi for handling pandemic successfully in a democratic manner
अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि कोरोना प्रबंधन में भारत ने दुनिया को राह दिखाई। -MEA Twitter 
मुख्य बातें
  • क्वाड बैठक के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन ने बीच में दखल दिया
  • कोरोना प्रबंधन के लिए पीएम मोदी की तारीफ की और चीन को नाकाम बताया
  • बाइडेन के साथ बातचीत में पीएम ने कहा कि दोनों देशों के बीच साझेदारी विशेष है

PM Modi-Joe Biden meeting : टोक्यो में मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के बीच द्विपक्षीय बातचीत हुई। क्वाड सम्मेलन के दूसरे दिन दोनों देशों के नेताओं ने हिंद-प्रशांत सहित आपसी हितों के मुद्दों पर खुलकर बातचीत की। बैठक के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि भारत और अमेरिका की साझेदारी विशेष है और यह विश्वास पर आधारित है। कई क्षेत्रों में हमारे सहयोग ने इस विश्वास को और मजबूत किया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि दोनों देश हिंद एवं प्रशांत क्षेत्र के लिए समान नजरिया रखते हैं और इस पर समान विचार वाले देशों से भी वह बातचीत करेंगे। वहीं, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कोरोना प्रबंधन के लिए पीएम मोदी की तारीफ की। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट से निटपने में भारत सरकार ने अच्छा काम किया। वह रूस-यूक्रेन युद्ध और कोरोना संकट पर भारत के साथ बातचीत करेंगे। 

बंद कमरे में हुई क्वाड नेताओं की बैठक में बीच में बोले बाइडन
एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक क्वाड सम्मेलन के दौरान अपने तैयार बयानों से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ने बीच में दखल देते हुए कोरोना प्रबंधन सफल तरीके एवं लोकतांत्रिक रूप से करने के लिए पीएम मोदी की तारीफ की। उन्होंने महामारी पर चीन और भारत की तुलना की और इससे निपटने में भारत की सफलता एवं चीन की नाकामी का जिक्र किया। 

भारत ने दुनिया को राह दिखाई-बाइडन
अधिकारी के मुताबिक बाइडेन ने कहा कि पीएम मोदी की सफलता ने दुनिया को यह बताया है कि लोकतांत्रिक देश अच्छे तरीके से काम कर सकते हैं। इससे यह धारणा गलत साबित हुई है कि चीन एवं रूस जैसे तानाशाही सरकारें तेजी से बदल रही दुनिया को बेहतर ढंग से संभाल सकती हैं। ये बात कही जाती है कि तानाशाही सरकारें लंबी लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं को पालन किए बगैर तेजी से फैसले लेती हैं और उन्हें लागू कराती हैं। 



'क्वाड ने कम समय में बनाया महत्वपूर्ण स्थान', पढ़ें- पीएम मोदी के भाषण की बड़ी बातें

ऑस्ट्रेलिया-जापान के पीएम ने भी सराहा
अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रपति का यह बयान उनके लिए पहले से तैयार बयान से पहले आया। बाइडन ने बीच में दखल देते हुए ये बातें कहीं। शायद इसलिए उनके वक्तव्य में इसे जगह नहीं दी गई। बंद कमरे में हुई बैठक में ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथनी अल्बानीस ने कहा कि भारत ने अन्य देशों को जो करोना वैक्सीन की आपूर्ति की उससे जमीन पर फर्क पड़ा। उन्होंने कहा कि यह केवल बात करने से ज्यादा इस तरह से मदद करना ज्यादा मूल्यवान है। जापान के पीएम किशिदा ने भी भारत के कोरोना प्रबंधन की तारीफ की। उन्होंने कहा कि भारत द्वारा तैयार वैक्सीन थाईलैंड और कंबोडिया को हाल ही में मिली है। 
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर