कोविड 19 का कहर: वाराणसी के श्मशान घाटों पर सामान्य दिनों के मुकाबले पहुंच रही हैं दोगुनी लाशें, VIDEO

 उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले के श्मशान घाट में प्रतिदिन सामान्य दिनों के मुकाबले दोगुनी लाशें पहुंच रही हैं। इसलिए दाह संस्कार में लंबा इंतजार करना पड़ता है।

Covid 19 Havoc: number of bodies coming have doubled at Varanasi ghats than normal days
वाराणसी के श्मशान घाटों पर दबाव 

वाराणसी: COVID-19 के कारण मृत्यु दर इजाफा हो गया है। उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले में श्मशान घाट एक दिन में करीब 100-150 शवों के दाह संस्कार का बड़ा प्रेशर हैं।  वाराणसी में मणिकर्णिका और हरिश्चंद्र घाटों पर स्थित श्मशान घाटों में हमेशा से ही लोगों की यह धारणा रही है कि काशी में अंतिम संस्कार करने वालों को मोक्ष की प्राप्ति होती है। इस बीच, कोरोनो वायरस महामारी के कारण घाटों दाह संस्कार के लिए लाए जाने वाले शवों की संख्या में बढ़ोतरी हो गई है। कुछ कहते हैं कि हाल के दिनों में घाटों पर शवों की संख्या दोगुनी हो गई है।

सामान्य दिनों में, घाटों पर 80 शवों का अंतिम संस्कार किया जाता था। लेकिन अब घाटों पर बने श्मशान घाट रोजाना 150 शवों का अंतिम संस्कार किया जा रहा है। इसमें कोरोना पॉजिटिव शवों की संख्या 70-80 हैं। हालांकि जिला प्रशासन शहर में कोविड से होने वाली मौतों की संख्या को केवल एक अंक में जारी करता है।

अपने करीबी का अंतिम संस्कार करने पहुंचे एक व्यक्ति ने कहा कि हम अपने दोस्त की पत्नी का अंतिम संस्कार करने के लिए हरिश्चंद्र घाट पर आए हैं। यह पहली बार है जब हम घाट पर ऐसा भयावह दृश्य देख रहे हैं। यह बहुत दर्दनाक दृश्य है। और एक कमी भी है। शवों का दाह संस्कार करने के लिए घाट पर कोई जगह नहीं है और न ही कोई लकड़ी है। इतनी लाशें हैं कि शवों को जलाने में लंबा इंतजार करना पड़ता है। सामान्य दिनों में, एक बॉडी को जलाने में सिर्फ एक घंटे का समय लगता है, लेकिन आजकल, गीली लकड़ी के कारण कम से कम 10 घंटे लग रहे हैं।
 
उत्तर प्रदेश नए कोविड-19 मामलों में लगातार स्पाइक दर्ज कर रहा है। 20, 510 मामलों की रिकॉर्डिंग के एक दिन बाद, राज्य ने पिछले 24 घंटों में 27,426 नए मामले दर्ज किए। यह राज्य में अब तक का सबसे अधिक मामले हैं।
 

Varanasi News in Hindi (वाराणसी समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर