बच्चे ने लगाई फांसीः सुसाइड नोट बोला- कोई नहीं जिम्मेदार, स्टूडेंट्स ने कहा- जिसने किया परेशान, उस पर हो एक्शन

Student Commits Suicide in Varanasi: वाराणसी में नौवीं के छात्र ने आत्महत्या कर ली है। मृत छात्र के पिता ने इसके लिए स्कूल प्रबंधन को जिम्मेदार ठहराया है। इन्होंने पुलिस से स्कूल प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। फिलहाल आरोपों की जांच करने में जुटी है।

9th student suspended from class commits suicide
क्लास से सस्पेंड 9वीं के छात्र ने की खुदकुशी (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • सीरगोवर्धनपुर के मयंक यादव ने कमरे से सटी सीढ़ी में फांसी लगाकर जान दे दी
  • छात्र के एक कमरे से एक सुसाइड नोट मिला है
  • एक हफ्ते से छात्र स्कूल से था सस्पेंड, मोबाइल ले जाने पर शिक्षक ने की थी कार्रवाई

Suicide in Varanasi: शहर के केंद्रीय विद्यालय की नौवीं कक्षा के छात्र मयंक यादव ने अपने कमरे से सटी सीढ़ी पर फांसी लगाकर जान दे दी है। इसके कमरे से पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें उसने लिखा है कि, उसकी मौत का कोई जिम्मेदार नहीं है। वहीं, उसके पिता ने बेटी की मौत का जिम्मेदार स्कूल प्रबंधन का ठहराया है। पीड़ित पिता ने पुलिस से स्कूल प्रबंधन के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। वहीं, मंगलवार की सुबह स्कूल के बच्चों ने प्रबंधन के खिलाफ गेट पर धरना दिया। छात्रों का कहना है कि, जिस शिक्षक की प्रताड़ना से परेशान होकर मयंक ने आत्महत्या की गई, उन पर सख्त कार्रवाई हो।

दरअसल, स्कूल में मोबाइल ले जाने पर मयंक को शिक्षक ने सस्पेंड कर दिया था। वह पिछले एक हफ्ते से स्कूल नहीं जा रहा था। आरोप है कि, जब उसके पिता स्कूल में माफी मांगने पहुंचे तो उनको जलील किया गया। मयंक के पिता संतोष यादव बीएचयू में कर्मचारी हैं। बीएचयू स्थित केंद्रीय विद्यालय में ही 15 साल का उनका बेटा पढ़ाई करता था। 

पिता की बेइज्जती से था क्षुब्ध

मयंक की बड़ी बहन तनीषा भी केंद्रीय विद्यालय में भी पढ़ती है। वह 10वीं की छात्रा है। इसका कहना है कि मयंक स्कूल के शिक्षकों और वाइस प्रिंसिपल द्वारा पिता की कि गई बेइज्जती से क्षुब्ध था। क्लास में मयंक का कोई दोस्त भी नहीं था। पिता संतोष का कहना है कि मयंक रविवार की देर रात तेल लगाकर उनके पैर दबाए। फिर बड़ी बहन से कहा कि तुम सो जाओ। सभी के सोने के बाद वह सीढ़ी के अगल में छत पर चढ़कर दीवार पर लगे लोहे की रॉड में रस्सी के सहारे फंदा बनाकर झूल गया था। 

तहरीर और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर होगी कार्रवाई

इस बारे में लंका थाना प्रभारी बृजेश कुमार सिंह का कहना है कि बच्चे के पिता और बहन द्वारा स्कूल प्रबंधन पर लगाए गए आरोपों की जांच की जा रही है। अब परिवार की तहरीर और बच्चे की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं, पूरे मामले में स्कूल प्रबंधन की ओर से कोई जवाब नहीं दिया गया है। 

Varanasi News in Hindi (वाराणसी समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर