Varanasi News: वाराणसी में नाविकों को सैलानियों के लिए लाइफ जैकेट रखना अनिवार्य, जानिए नगर निगम का नया नियम

Varanasi Tourism: वाराणसी में अगर आप गंगा में नाव से सैर कर रहे हैं तो आप नाविक से लाइफ जैकेट मांग सकते हैं। वाराणसी नगर निगम ने नाविकों के लिए सख्त आदेश जारी किए हैं। पंजीकरण कराने के साथ-साथ सुरक्षा के सभी उपकरण नाव में होने आवश्यक कर दिए गए हैं। सोमवार से कार्रवाई शुरू की जाएगी।

Varanasi Municipal Corporation
वाराणसी में नाविकों को सैलानियों के लिए लाइफ जैकट रखना अनिवार्य, नगर निगम सख्त   |  तस्वीर साभार: फेसबुक
मुख्य बातें
  • अवैध नाव संचालन पर होगी सख्ती, की जाएगी जांच
  • अगले सप्ताह से नाविकों के नियम पालन को लेकर चलेगा अभियान
  • गंगा में हो रहा 1200 नावों का संचालन, पंजीकरण सिर्फ पांच सौ का

Sailors of Varanasi : वाराणसी में नाव से गंगा नदी में सैर करने वाले पर्यटकों की सुरक्षा के लिए नगर निगम प्रशासन सख्त हो गया है। निगम ने इसके संबंध में आदेश जारी किया है।   साथ ही अवैध नाव संचालन पर सख्ती की जा रही है। घाटों पर सोमवार से इस बाबत अभियान चलेगा और इस मोहलत में दुरुस्त कराने के साथ ही नावों के मानक को लेकर भी निर्देश दिया जा चुका है। सैलानियों के लिए नाविकों को लाइफ जैकेट रखना अनिवार्य कर दिया  है।

बता दें कि नगर निगम ने बिना पंजीयन और सुरक्षा उपकरणों के गंगा में संचालित नावों पर कार्रवाई के लिए आदेश जारी कर दिया है। प्रभारी अधिकारी पीके द्विवेदी ने बताया कि पंजीयन व पहचान पत्र से संबंधित कागजातों की दुरुस्ती के साथ नावों पर सुरक्षा उपकरणों की उपलब्धता शनिवार तक सुनिश्चित कर लें, सोमवार से कार्रवाई शुरू की जाएगी। प्रभारी अधिकारी पीके द्विवेदी का कहना है कि नाविकों की ओर से नियमों की उपेक्षा हो रही है।

गंगा में हो रहे हादसे को देखते हुए नगर निगम सख्त

जानकारी के अनुसार नगर निगम ने कैम्प लगाया था, इसके बाद भी सभी नावों के कागजात दुरुस्त नहीं हुए हैं। नगर निगम ने बीते दिनों सर्वे कराया तो चौकाने वाले तथ्य सामने आए।  वाराणसी में गंगा में 1200 नावों का संचालन हो रहा है जबकि पांच सौ से अधिक नावों के कागजात अभी भी दुरुस्त नहीं हैं। बता दें कि इनमें से कई ऐसी जर्जर नावों का संचालन हो रहा है जिन्हें फिटनेस के आधार पर प्रतिबंधित किया जाता है। गंगा में हो रहे हादसों को देखते हुए नगर निगम ने सख्ती करने का फैसला लिया है। बता दें कि लाइफ जैकेट की अनुपलब्धता को गंभीरता से लिया जा रहा है। इस बारे में पीके द्विवेदी ने कहा कि नाविकों की मनमानी नहीं चलेगी।

सैलानियों की सुरक्षा को प्राथमिकता

प्रभारी अधिकारी पीके द्विवेदी ने बताया कि सैलानियों की सुरक्षा प्राथमिकता है। जुर्माने की कार्रवाई प्रारंभ हो जाएगी तो अवैध नावों के संचालन पर रोक लगेगी। लाइफ जैकेट समेत अन्य सुरक्षा उपकरणों को लेकर सख्ती की जाएगी। बता दें कि पीके द्विवेदी ने नाविक संगठनों से अपील किया कि जिन सैलानियों के दम पर उनके परिवार का भरण-पोषण होता है उनको खुद चिंता करनी चाहिए कि सैलानी सुरक्षित रह कर नौका विहार का आनंद ले सके।

Varanasi News in Hindi (वाराणसी समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर