Varanashi: CM योगी ने काशी विश्वनाथ मंदिर में पुनर्स्थापित की अन्नपूर्णा देवी की मूर्ति

देवी अन्नपूर्णा की 18वीं सदी की मूर्ति चोरी हो गई थी और 100 साल से भी अधिक समय पहले देश से बाहर ले जाया गया था। कुछ समय पहले ही इसे भारत को सौंपा गया था।

Uttar Pradesh: CM Yogi Adityanath installs stolen Goddess Annapurna's idol at Kashi Vishwanath temple
काशी विश्वनाथ मंदिर में पुनर्स्थापित की गई अन्नपूर्णा देवी   |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर में मां अन्नपूर्णा की मूर्ति को पुनर्स्थापित किया गया
  • सीएम योगी ने काशी विश्वनाथ मंदिर में की मां अन्नपूर्णा देवी की प्राण प्रतिष्ठा
  • करीब 100 साल से भी पहले भारत से चोरी होकर कनाडा पहुंचाई गई थी यह मूर्ति

वाराणसी: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में आज वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर में मां अन्नपूर्णा की मूर्ति की पुनर्स्थापना की गई। इस दौरान पूरे विधि-विधान के साथ पूजा हुई और फिर मां अन्नपूर्णा देवी की प्राण प्रतिष्ठा की गई। 100 साल से ज्यादा समय पहले इस मूर्ति को चुरा लिया गया था। एएसआई को 15 अक्टूबर 2017 को देवी अन्नपूर्णा की मूर्ति मिली है। चोरी कर ली गई यह मूर्ति 17 गुणा नौ गुणा चार सेंटिमीटर की है। इसे एक सदी से ज्यादा समय पहले उत्तर प्रदेश में काशी से चुराया गया था और तस्करी करके कनाडा ले जाया गया था।

इन जगहों से होते हुए वाराणसी पहुंची थी मूर्ति

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 29 नवंबर, 2020 को अपने रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' में इस मूर्ति को कनाडा से वापस लाने की घोषणा की थी। 18वीं सदी की यह मूर्ति यूनिवर्सिटी ऑफ़ रेजिना के मैकेंज़ी आर्ट गैलरी के संग्रह में थी, जब इसे विश्वविद्यालय ने पिछले साल कनाडा में भारत के उच्चायुक्त को सौंप दिया था।

Image

अन्नपूर्णा देवी की  मूर्ति को 11 नवंबर को दिल्ली से अलीगढ़ ले जाया गया, वहां से 12 नवंबर को कन्नौज ले जाया गया और 14 नवंबर को अयोध्या पहुंची अंत में, यह 15 नवंबर को वाराणसी पहुंची जहां उचित अनुष्ठान के बाद इसे उत्तर प्रदेश के काशी विश्वनाथ मंदिर, वाराणसी में स्थापित किया किया।

Image

केंद्रीय मंत्री ने कही थी ये बात

कुछ दिन पहले ही केंद्रीय संस्कृति, पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी ने कहा, 'अन्नपूर्णा देवी के आशीर्वाद ने हमारे भारतीय किसानों के लिए अतिरिक्त खाद्यान्न का उत्पादन करना संभव बना दिया है और कोविड-19 महामारी के दौरान प्रधानमंत्री की गरीब अन्न कल्याण योजना का मार्गप्रशस्त किया है।'

Image

उन्होंने कहा कि मुफ्त राशन गरीबों के लिए संकट को कम करेगा, क्योंकि सरकार ने प्रति व्यक्ति प्रति माह अतिरिक्त मात्रा में खाद्यान्न मुफ्त दिया है।

Varanasi News in Hindi (वाराणसी समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर