काशी विश्वनाथ धाम के नए अवतार के बाद श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ने से आय में हुई रिकॉर्ड बढ़ोतरी

काशी विश्वनाथ धाम के नए अवतार के बाद यहां श्रद्धालुओं की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हुई है ।श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ने से आय में भी रिकॉर्ड बढ़ोतरी हुई है।

Kashi Vishwanath, Varanasi, Kashi Vishwanath Corridor, Baba Vishwanath Dham
अप्रैल 2021 में 71 लाख़ चढ़ावा आया था जबकि 2022 के अप्रैल महीने में 5 करोड़ 45 लाख दान आया है। 
मुख्य बातें
  • बाबा विश्वनाथ धाम का नया अवतार सबको लुभा रहा है
  • प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट श्री काशी विश्वनाथ धाम के नव्य और भव्य स्वरूप में आने के बाद काशी में पर्यटकों की आमद में रिकॉर्ड वृद्धि हुई हैट
  • श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ने से आय में हुई रिकॉर्ड बढ़ोतरी

वाराणसी: काशी विश्वनाथ धाम के नए अवतार में आने के बाद देश और दुनिया के शिव भक्तों की संख्या काशी में लगातार बढ़ती ही जा रही है जिसके फलस्वरूप श्रद्धालुओ काशी विश्वनाथ धाम की आय में भी रिकॉर्ड वृद्धि हो रही है। वर्ष 2021 के अप्रैल और मई माह में बाबा की आय लाखो में थी ,वही अब आनंद वन के विस्तारित और सुंदरीकरण के बाद बाबा की आय करोड़ो में पहुँच गई।
 
प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट  काशी विश्वनाथ धाम के नव्य और भव्य स्वरूप में आने के बाद काशी में पर्यटकों की आमद में रिकॉर्ड वृद्धि हुई है। श्रद्धालुओ की भीड़ लगातार बढ़ती रही है। जिससे आस पास के व्यापारी भी लाभान्वित हो रहे है। श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ने से बाबा की तिजोरी में भी धनवर्षा हो रही है। रोजाना लाखो रुपये की आय हो रही है। 

धर्म की नगरी काशी में आने के बाद शिव भक्त खुल कर चढ़ावा व दान कर रहे है। काशी विश्वनाथ ट्रस्ट के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने बताया कि काशी विश्वनाथ धाम के विस्तारीकरण के बाद श्रद्धालुओं की संख्या काफी बढ़ी है। और बाबा के चढ़ावे  में वृद्धि  हुई है। उन्होंने बताया कि अप्रैल 2021 में 71 लाख़ चढ़ावा आया था जबकि 2022 के अप्रैल महीने में 5 करोड़ 45 लाख दान आया है। मई 2021 में 21 लाख की आमदानी हुई थी ,जबकि मई 2022 में 3 करोड़ 24 लाख का चढ़ावा है।

खर्चो की बात करे तो 2021 के अप्रैल व मई  महीने में क्रमशः 38 लाख व 76 लाख हुआ था। जबकि 2022 के अप्रैल व मई माह में क्रमश 31 लाख व 1 करोड़ 25 लाख हुई है। इसमें वेतन ,सामन्य ,  आकस्मिक आदि खर्च भी शामिल है।

Varanasi News in Hindi (वाराणसी समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर