Debit Card Fraud: ATM कार्ड फ्रॉड से अपने आप को बचाएं, फॉलो करें ये टिप्स

ATM Card Fraud:जब आपराधिक किस्म के लोग किसी के डेबिट कार्ड का एक्सेस हासिल कर लेते हैं या फिर उनके एटीएम का पिन किसी तरह हासिल कर उसका मिसयूज करते हैं उनके सारे पैसे हड़प लेते हैं ये डेबिट कार्ड फ्रॉड कहलाता है

debit card fraud
डेबिट कार्ड फ्रॉड (Source: Pixabay) 

मुख्य बातें

  • एटीएम कार्ड या डेबिट कार्ड फ्रॉड आजकल आम हो गया है
  • हैकर्स आपके डेबिट कार्ड का पिन हासिल कर आपके साथ फ्रॉड कर जाते हैं
  • एटीएम फ्रॉड से बचने के लिए कुछ बातों पर ध्यान देना बहुत जरूरी है

एटीएम या फिर डेबिटकार्ड फ्रॉड तब होता है जब आपराधिक किस्म के लोग किसी के डेबिट कार्ड का एक्सेस हासिल कर लेते हैं या फिर उनके एटीएम का पिन किसी तरह हासिल कर उसका मिसयूज करते हैं उनके सारे पैसे हड़प लेते हैं ये डेबिट कार्ड फ्रॉड कहलाता है। डेबिट कार्ड फ्रॉड कई तरह से किया जाता है।

कोई आपका डेबिट कार्ड हैक कर लेता है या फिर किसी ने आपका पर्सनल कंप्यूटर या लैपटॉप हैक कर आपकी सारी पर्सनल से लेकर फायनांशियल डिटेल चोरी कर लेता है और फिर आपके पीठ पीछे बिना आपकी जानकारी के आपके सारे पैसे अकाउंट से गायब कर देता है। दुर्भाग्यवश डेबिट कार्ड फ्रॉड के लिए किसी प्रकार की कोई स्पेशल स्किल की जरूरत नहीं होती है।

डेबिट कार्ड फ्रॉड का पता कैसे लगाएं

जब आप अपने डेबिट कार्ड को एक्सेस करते हैं तो अगर आपको पता चलता है कि आपके अकाउंट से सारे पैसे गायब हैं। जब आपने किसी तरह का पेमेंट्स शिड्यूल किया हो, चेक मेल किया हो और वो बाउंस हो गया हो। या फिर अगर आप अपने डेबिट कार्ड को एक्सेस ही नहीं कर पा रहे हों ऐसे में ये साबित होता है कि आपके डेबिट कार्ड के साथ फ्रॉड हुआ है। 

इसमें चोर आपके डेबिट कार्ड का पिन हासिल कर लेता और उससे अनऑथराइज ट्रांजैक्शन कर लेता है। जब आप अपने ऑनलाइन बैंकिंग पर कोई संदिग्ध गतिविधि पाते हैं तो भी फ्रॉड की आशंका हो सकती है। फ्रॉड से बचने के लिए और इनसे अलर्ट रहने के लिए रोजाना अपना ट्रांजैक्शन करते रहना चाहिए।

डेबिट कार्ड फ्रॉड से बचने के तरीके-

बैंकिंग अलर्ट 

इसके लिए आप बैंकिंग अलर्ट को साइन अप कर लीजिए। ऐसा करने से जब कभी भी आपके अकाउंट या फिर आपके डेबिट कार्ड के साथ किसी भी तरह की गतिविधि या फिर छेड़खानी होगी उसका तुरंत अलर्ट मैसेज बैंक की तरफ से आपके पास आ जाएगा। इससे आपको पता चल जाएगा कि क्या सच्चाई है और आप तुरंत कोई कदम उठा सकते हैं।

पेपरलेस

ऑनलाइन बैंकिंग को तरजीह दें। पेपरलेस बैंकिंग को अपनाएं, इससे फ्रॉड का खतरा कम हो जाता है। जब कभी भी एटीएम से बाहर निकलें तो रिसिप्ट को या तो अपने पास संभाल कर रख लें या फिर उसके छोटे-छोटे टुकड़े कर डस्टबिन में फेंक दें। इससे आपकी बैंकिंग से जुड़ी कोई भी सूचना का कोई बेजा इस्तेमाल नहीं कर पाएगा।

पुराने डेबिट कार्ड नष्ट कर दें

अगर आपके पास पुराने डेबिट कार्ड है जिसका कोई यूज नहीं है तो उसे नष्ट करके फेंक दें। इससे आपके पुरानी सूचनाओं का कोई गलत इस्तेमाल नहीं कर पाएगा। 

बैंक एटीएम का यूज करें

कोशिश करें कि जब भी आपको एटीएम का इस्तेमाल करना हो तो आप सड़क पर कोई भी एटीएम का इस्तेमाल नहीं करें बल्कि बैंक के अंदर लगाए गए एटीएम का इस्तेमाल करें। वह किसी दूसरे एटीएम की अपेक्षा ज्यादा सुरक्षित रहता है। कंप्यूटर और मोबाइल पर अक्सर पासवर्ड प्रोटेक्टर डाल कर रखें। इससे आपके सारे कॉन्फिडेंशियल सूचनाएं सुरक्षित रहती हैं।

क्रेडिट कार्ड से करें खरीदारी

अगर कहीं शॉपिंग पर जाएं तो डेबिट कार्ड की जगह क्रेडिट कार्ड से खरीदारी करें। क्रेडिट कार्ड में डेबिट कार्ड की अपेक्षा ज्यादा सुरक्षा होती है और उसमें फ्रॉड के कम चांसेस रहते हैं।

सुरक्षित नेटवर्क का इस्तेमाल करें

जब आप कहीं पब्लिक प्लेस पर हैं तो वहां पर पब्लिक वाई फाई का इस्तेमाल इंटरनेट बैंकिंग के लिए ना करें ऐसा करना फ्रॉड को न्योता देना हो सकता है। किसी सिक्योर्ड नेटवर्क से ही इंटरनेट बैंकिंग चलाएं।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर