Solar Eclipse 2021: सूर्य ग्रहण के समय क्या करें और क्या ना करें? जानिए सभी जरूरी बातें

Surya Grahan (Solar Eclipse) December 2021: साल 2021 का सूर्य ग्रहण कल यानी 04 दिसंबर, शनिवार को लग रहा है। जानें इस दौरान क्या करें और क्या ना करें।

Solar Eclipse December 2021
Solar Eclipse December 2021 
मुख्य बातें
  • साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 04 दिसंबर, शनिवार को सुबह 10 बजकर 59 मिनट से शुरू होगा।
  • सूर्य ग्रहण के दौरान सोने से बचें और भजन-कीर्तन करें।
  • ग्रहण काल के दौरान बाहर गर्भवती महिलाओं को बाहर नहीं आना चाहिए।

Solar Eclipse or Surya Grahan 2021: साल 2021 का सूर्य ग्रहण कल यानी 04 दिसंबर, शनिवार को लग रहा है। सूर्य ग्रहण से जुड़ी धार्मिक मान्यता अनुसार ग्रहण काल के दौरान कोई शुभ कार्य नहीं किए जाते, साथ ही मंदिरों के कपाट भी बंद रहते हैं। 04 दिसंबर को पड़ने वाला सूर्य ग्रहण भारत में नहीं दिखेगा सूर्य ग्रहण का सूतक काल मान्य नहीं होगा क्योंकि इसका प्रभाव बेहद कम है। 

यह सूर्य ग्रहण शनिवार को सुबह 10 बजकर 59 मिनट से शुरू होगा और दोपहर 3 बजकर 07 मिनट तक रहेगा। इसके मुताबिक ग्रहण की कुल अवधि 4 घंटे 08 मिनट होगी। सूर्य ग्रहण के दौरान कई चीजों का ध्यान रखना जरूरी है। यहां जानें सूर्य ग्रहण पर क्या करें और क्या ना करें।

Surya Grahan 2021 Date, Timings in India

सूर्य ग्रहण में क्या करें

  • विशेष रूप से ग्रहण के काल में अपने ईष्ट देवता का ध्यान और उनके मंत्र का जप सर्वश्रेष्ठ है।
  • ग्रहण के बाद अन्न का दान करना पुण्य प्रदान कर सकता है।
  • ग्रहण से पहले बने भोजन व रखे पानी को हटा कर नया भोजन बना कर ही खाना चाहिए।
  • ग्रहण समाप्ति के बाद गाय को घास, पक्षियों को दाना तथा गरीबों को वस्त्र दान का शुभ फल मिलता है।
  • सूर्य ग्रहण समाप्त होने के बाद स्नान करना आवश्यक है।


सूर्य ग्रहण के दौरान क्या ना करें 

  • सूर्य ग्रहण पर किसी भी प्रकार के शुभ कार्य वर्जित हैं।
  • ग्रहण काल के दौरान बाहर गर्भवती महिलाओं को बाहर नहीं आना चाहिए।
  • सूर्य ग्रहण के समय सोना नहीं चाहिए, इससे सोने वाला व्यक्ति रोगी हो जाता है।
  • इस समयावधि में भोजन बनाना या खाना भी वर्जित बताया गया है।
  • ग्रहण काल के समय फूल और पत्ती तोड़ना वर्जित बताया गया है।
     

नहीं माना जाएगा सूतक काल

बता दें कि 04 दिसंबर को लगने वाला ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा और इस वजह से सूतक के नियम भी यहां नहीं माने जाएंगे। साथ ही ग्रहणकाल के दौरान मांगलिक काम करने पर भी पाबंदी नहीं होगी। इसके अलावा मंदिरों के कपाट भी खुले रहेंगे।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर