Gemology: बुध ग्रह के इस रत्न को धारण करते ही जाग जाएगी सोई किस्मत, नौकरी-व्यापार में होने लगेगी तरक्की

Panna Gemstone: पन्ना रत्न सौभाग्य से जुड़ा होता है। ज्योतिषीय की सलाह से इसे धारण करने पर नौकरी, व्यापार और करियर के क्षेत्र में सफलता मिलती है। कन्या राशि के जातक यदि पन्ना रत्न पहनते हैं तो उन्हें व्यापार और शासकीय कामों में लाभ प्राप्त होता है।

Gemology
पन्ना रत्न  
मुख्य बातें
  • बुध ग्रह का रत्न है पन्ना
  • पन्ना धारण करने से नौकरी-व्यापार में होती है तरक्की
  • कन्या और मिथुन राशि के लिए शुभ है पन्ना रत्न

Panna Gemstone Benefits: ज्योतिष शास्त्र में रत्नों का विशेष महत्व होता है। रत्न शास्त्र में कुल 9 रत्न और 84 उपरत्न बताए गए हैं। सभी रत्नों का संबंध किसी न किसी ग्रह से होता है, जोकि व्यक्ति के जीवन को प्रभावित करता है। इन्हीं रत्नों में एक है पन्ना रत्न। पन्ना का संबंध बुध ग्रह से होता है। आमतौर पर पन्ना 5 रंगों में पाया जाता है। बुध ग्रह जोकि व्यापार-नौकरी और करियर को प्रभावित करता है। बुध ग्रह मिथुन और कन्या का स्वामी भी होता है। कुंडली में ग्रहों की स्थिति कमजोर होने पर नौकरी-व्यापार से जुड़े लोगों को कार्यक्षेत्र में मेहनत करने के बावजूद भी कामयाबी व सफलता हासिल नहीं होती है।

Also Read: Mantra For Student: विद्यार्थियों को रोजाना इस तरह से करना चाहिए गायत्री मंत्र का जाप, पढ़ाई में जगेगी रुचि

ऐसे में कुंडली के निर्बल ग्रह को मजबूत करने के लिए ही ज्योतिष की सलाह पर रत्न धारण करने की सलाह दी जाती है। इस लेख में हम आपको बताएंगे पन्ना रत्न पहनने के फायदे। इस रत्न को धारण करते ही व्यक्ति का भाग्य चमक जाता है।  

पन्ना रत्न पहनने के फायदे

  • पन्ना रत्न धारण करने से व्यक्ति की सभी इच्छाएं और मनोकामनाएं पूरी होती है।
  • पन्ना धारण करने से व्यक्ति की स्मरण शक्ति और बुद्धि तेज होती है।
  • नौकरी, व्यवसाय और करियर में उन्नति के लिए ज्योतिष की सलाह पर पन्ना रत्न धारण करना चाहिए।
  • पारिवारिक कलह-क्लेश को कम करने के लिए मिथुन राशि वाले लोगों को पन्ना  पहनना चाहिए।
  • कन्या राशि के जातक यदि पन्ना रत्न पहनते हैं तो उन्हें व्यापार, पिता पक्ष, नौकरी और शासकीय कामों में लाभ प्राप्त होता है।

इन लोगों को भूलकर भी नहीं पहनना चाहिए पन्ना

  •  ऐसे लोग जिनकी कुंडली में बुध ग्रह जन्मपत्रिका के तीसरे, छठे, आठवें और बारहवें भाव में हो उन्हें पन्ना रत्न नहीं धारण करना चाहिए।
  • अगर किसी जातक की कुंडली में बुध का बुरा प्रभाव पड़ रहा है तो उसे भी पन्ना रत्न नहीं पहनना चाहिए।
  • जिस व्यक्ति की बुद्धि और स्मरण शक्ति पहले से ही तेज है तो उसे भी पन्ना रत्न नहीं पहनना चाहिए।
  • भूलकर भी नकली, अशुद्ध, टूटा-फूटा, दाग-धब्बेदार तरह के पन्ना रत्न को ना पहनें। इससे धन और संतान पक्ष को नाश होता है।

Also Read: Secret Donation Benefits: दान करना चाहते हैं तो इन चीजों का चुपचाप करें दान, बन जाएंगे सारे बिगड़े काम

पन्ना रत्न धारण करने की विधि

इस बात का खास ध्यान रखें कि पन्ना या कोई भी रत्न बिना ज्योतिषीय सलाह के धारण न करें। इससे आपको फायदे के बजाय उल्टा नुकसान होने लगता है। अगर आप पन्ना रत्न धारण कर रहे हैं तो इसे बुधवार के दिन धारण करें। क्योंकि पन्ना बुध ग्रह का रत्न है। इसके अलावा आप आश्लेषा, ज्येष्ठा और रेवती नक्षत्र में भी ज्योतिष के सलाह पर इसे धारण कर सकते हैं। सोने या फिर चांदी की धातु में पन्ना को जड़वाकर अनामिका अंगुली में पहनना चाहिए। बुधवार को पन्ना धारण करने से पहले मंगलवार की रात शहद, मिश्री और दूध में अंगूठी को रातभर के लिए रख दें। इसके बाद बुधवार की सुबह इसे निकाल कर गंगाजल से शुद्ध कर लें और धूप-दीप दिखाकर ‘ओम बुं बुधाय नम:’ मंत्र का 108 बार जाप करने के बाद इसे धारण करना चाहिए।

(डिस्क्लेमर: यह पाठ्य सामग्री आम धारणाओं और इंटरनेट पर मौजूद सामग्री के आधार पर लिखी गई है। टाइम्‍स नाउ नवभारत इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है।)

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर