Lal Kitab ke Upay : बुधवार को नहीं खानी चाह‍िए साबुत मूंग की दाल, जानें वार अनुसार लाल क‍िताब के उपाय

Lal kitab Remedies: परेशानियों का आना-जाना लगा रहता है, लेकिन कई बार ग्रहों के कारण परेशानियां खत्म ही नहीं होती हैं। ऐसे में लाल किताब के उपाय ही काम आते हैं और इन उपायों को वार के अनुसार करना चाहिए।

Lal Kitab Ke Upay, लाल किताब के उपाय
Lal Kitab Ke Upay, लाल किताब के उपाय 

मुख्य बातें

  • चंद्र को मजबूत करने से मानिसक कष्ट दूर होते हैं
  • दांपत्य कष्ट को दूर करने के लिए शुक्र को करना चाहिए मजबूत
  • सुख और समृद्धि के लिए बृहस्पति को मजबूत करें

सामुद्रिक शास्त्र में लाल किताब में मौजूद कई उपायों का जिक्र है और ये ऐसे कारगर उपाय हैं, जिन्हें सही तरीके से किया जाए तो वह जरूर फलीभूत होते है। लाल किताब में हर तरह की समस्या का हल दिया गया है। हालांकि लाल किताब के उपाय करते समय कुछ खास बातों का ध्यान देना जरूरी होता है। यदि सावधानी के साथ ये उपाय न किए जाएं तो वह फलीभूत नहीं होते। ग्रहों के दोष को दूर करने के लिए विशेष रूप से वार के अनुसार उपाय करने चाहिए। तो आइए आज आपको लाल किताब के उपाय वार के अनुसार करने के कुछ अचूक नस्खे बताएं।

लाल किताब के अलग-अलग उपाय जो वार के अनुसार अपनाने होंगे

  1. कुंडली मे चंद्र दोष हो अथवा चंद्र कमजोर हो तो इंसान अंदर से टूटता है। ऐसा इंसान भावुक होने के साथ काल्पनिक दुनिया में रहता है। ऐसे लोगों को मानसिक कष्ट बहुत होता है, इसलिए सोमवार के दिन खीर बनाएं और खुद न खाकर दूसरों को खिलाएं। ऐसा करने से चंद्रमा का नीच प्रभाव आप पर कम होगा और चंद्र मंजबूत होगा। इस दिन आप सफेद कपड़े पहना करें।

  2. मंगलवार का दिन हनुमान जी का होता है और आपका मंगल अगर भारी है तो इस दिन आप हनुमान जी की स्तुति करें और इस दिन लाल चीजों का दान करें। मसूर की दाल का दान करना बेहद ही शुभ माना गया है।

  3. बुधवार के दिन गणपति जी का होता है। अगर आपका बुध कमजोर है तो आपको हरे रंग से नाता जोड़ना होगा। बुधवार को साबूत मूंग की दाल का दान करें, लेकिन याद रखिए उसका सेवन न करें।

  4. विवाह से लेकर सुख-समृद्धि और धन के लिए भगवान बृहस्पति की पूजा करनी चाहिए और इसके लिए गुरुवार का दिन प्रमुख होता है। इस दिन पीले रंग का बहुत महत्व होता है। बृहस्पतिवार को आप किसी ब्राम्हण को पीले रंग के वस्त्र दान करें। कढ़ी-चावल का दान करना चाहिए और बेसन के हलवे का प्रभु को भोग लगाना चाहिए।

  5. दांपत्य जीवन में सुख से लेकर मान-सम्मान और यश-समृद्धी का ग्रह शुक्र होता है, लेकिन शुक्र कमजोर हो तो इनसे जुड़ी समस्याएं भी होती हैं। इसलिए शुक्रवार को सफेद चीजों का दान करें और देवी लक्ष्मी को खीर का भोग लगाएं। दही का सेवन भी करना चाहिए।

  6. शनिवार का दिन शनिदेव का होता है। इस दिन आप पीपल के पेड़ में शाम को जल चढ़ायें और तिल के तेल का चार मुखी दीपक जलाएं। ये उपाय कर शनि के प्रकोप से बचता है और साथ ही राहु और केतु के कष्ट से भी मुक्त करता है। 

  7. रविवार का दिन सूर्य भगवान को समर्पित होता है। सूर्य को जल देना किस्मत के दरवाजे खोलने जैसा होता है। इस दिन जल में गुड़़ डालकर सूर्य को अर्घ्य दें व नदी में भी प्रवाहित कर सकते हैं।

ये उपाय आपके जीवन की हर समस्या को दूर करने में कारगर हैं, क्योंकि ये उपाय ग्रहों को मजबूत कर अनुकूल बनाने का काम करते हैं।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर