Ayodhya Ram Lila:राम की नगरी अयोध्या में 'रामलीला' का वर्चुअल मंचन, जाने-माने फिल्मी कलाकर निभा रहे हैं भूमिका

Ayodhya's Virtual Ramlila:अयोध्या में आज से 9 दिनों तक चलने वाली रामलीला की शुरुआत हो गई है, सरयू किनारे स्थित लक्ष्मण किला मंदिर में भव्य मंच सजाया गया है इसमें तमाम फिल्मी कलाकार अहम भूमिका निभा रहे हैं।

AYODHYA'S RAM LILA
अयोध्या में 17 से शुरू होकर 25 अक्टूबर तक रामलीला का आयोजन किया जाएगा 

करोड़ों भक्तों की आस्था का केंद्र अयोध्या (Ayodhya) भगवान राम (Lord Ram) की नगरी.. जहां भगवान श्रीराम ने जन्म लिया, इस साल यहां होने वाली रामलीला कई मायनों में अनूठी है,दरअसल इस बार इसके मंचन के लिए  सरयू किनारे स्थित लक्ष्मण किला मंदिर में मंच सजाया गया है लेकिन यहां आम लोगों की एंट्री नहीं है और इस बार रामलीला वर्चुअल आयोतिज हो रही है, इसे सोशल मीडिया यानि यू ट्यूब आदि के साथ ही दूरदर्शन से आम लोगों तक पहुंचाया जाएगा, अयोध्या में भव्य मंदिर का निर्माण शुरू होने के साथ ही इस बार यहां रामलीला का उत्साह देखते ही बनता है।

वर्चुअल रामलीला आज से 9 दिनों तक चलेगी यानि 17 से शुरू होकर 25 अक्टूबर तक इसका आयोजन होना है, इस बार इसमें राजनीतिक नेताओं और बॉलीवुड अभिनेताओं का अभिनय देखने को मिलेगा।

बॉलीवुड के कलाकारों के चलते भी रामलीला का आकर्षण बना हुआ है, कोविड-19 के प्रोटोकॉल के चलते रामलीला का ऑनलाइन प्रसारण किया जा रहा है।

भरत की भूमिका निभाने जा रहे सांसद रवि किशन बोले- अयोध्‍या में प्रभु श्रीराम क भव्‍य मंदिर बनत बा,  

रामलीला में भरत की भूमिका निभाने जा रहे गोरखपुर के भाजपा सांसद रवि किशन शुक्‍ल भोजपुरी में कहते हैं कि ''अयोध्‍या में प्रभु श्रीराम क भव्‍य मंदिर बनत बा, अउर एसे सुंदर का होई कि प्रभु श्रीराम के भूमि पर होवे वाली रामलीला में हम भूमिका निभाइब। जीयते जी मोक्ष मिल जाई।'' (अयोध्‍या में प्रभु श्रीराम का भव्‍य मंदिर बन रहा है और इससे सुंदर क्‍या होगा कि प्रभु श्रीराम की भूमि पर होने वाली रामलीला में हम भूमिका निभाएंगे। हमें जीते-जी मोक्ष मिल जाएगा।) रवि किशन ने बताया कि ''बचपन में मैं अपने गांव में रामलीला में सीता और अंगद की भूमिका करता रहा हूं।

यह मां भगवती की कृपा है जो मुझे यह अवसर मिला है।''कुंभकर्ण की भूमिका निभाने जा रहे बागपत से दो बार लोकसभा प्रत्‍याशी रहे भाजपा नेता मुखिया गुर्जर कहते हैं कि आयोजन में स्‍थान विशेष को महत्‍व दिया गया है।

उन्होंने कहा कि वह मेरठ से आते हैं और उनका चयन इसलिए किया गया कि मेरठ रावण की ससुराल है। गुर्जर का कहना है कि इस आयोजन में रामायण के सभी पात्रों से जुड़े स्‍थानों को भी किसी न किसी बहाने एक सूत्र में पिरोया गया है।

सोनू डागर (राम) की भूमिका में नजर आयेंगे 

हापुड के सोनू डागर (राम) की भूमिका में नजर आएंगे वहीं मुखिया गुर्जर के पुत्र परिवंदर सिंह (शत्रुघ्‍न) का अभिनय करेंगे। बॉलीवुड से बिंदु दारा सिंह-हनुमान,असरानी-नारद मुनि, रजा मुराद-अहिरावण, शाहबाज खान-रावण, राकेश वेदी-विभीषण, और रितु‍ शिवपुरी-कैकेयी की भूमिका में नजर आएंगी। राजेश पुरी और अवतार गिल भी इस रामलीला में अभिनय करेंगे।

भगवान राम की शाही पोशाक जनकपुर धाम (नेपाल) से बनकर आई है 

रामलीला के लिए भगवान राम की शाही पोशाक उनकी ससुराल जनकपुर धाम (नेपाल) से बनकर आ रही है जबकि उनका धनुष कुरुक्षेत्र में तैयार हुआ है। सीता मैया की सजावट के सभी सामान अयोध्‍या में ही तैयार किये जा रहे हैं। दिलचस्‍प यह कि रावण के वस्‍त्र और आभूषण श्रीलंका से मंगाए गये हैं। श्रीराम के चरण जिन स्‍थानों पर पड़े उनमें 18 स्‍थानों की मिट़टी को एकत्र कर कलश पूजन किया गया है।

रामलीला आयोजन समिति के मुख्‍य संरक्षक दिल्‍ली के भाजपा सांसद प्रवेश साहिब सिंह वर्मा हैं जबकि रामलीला में दिल्‍ली के ही सांसद मनोज तिवारी (अंगद) और गोरखपुर के सांसद रवि किशन (भरत) की भूमिका में आ रहे हैं। ये दोनों सांसद सिने जगत में भी दखल रखते हैं। आयोजन में पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश और दिल्‍ली की मजबूत भागीदारी है।

सोशल मीडिया और यूटयूब पर इसका प्रसारण 

हिंदी के अलावा अंग्रेजी, भोजपुरी, तमिल, तेलुगू, कन्‍नड़, मराठी, पंजाबी, उर्दू, राजस्‍थानी, हरियाणवी, बांग्‍ला समेत कुल 14 भाषाओं में इसका प्रसारण किया जाएगा, मुख्‍यमंत्री योगी भी रामलीला देखने जाएंगे।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर