Career After B.Tech: बीटेक के बाद सिर्फ एमटेक व कैंपस प्‍लेसमेंट ही करियर विकल्‍प नहीं, मौजूद हैं ढेरों ऑप्‍शन

Career After B.Tech: बीटेक के बाद ज्‍यादातर छात्र एमटेक, एमई जैसे कोर्स करना या फिर कैंपस प्‍लेसमेंट का चुनाव करते हैं, लेकिन इस कोर्स को पूरा करने के बाद करियर बनाने के लिए कई अन्‍य शानदार ऑप्‍शन भी है...

Career After BTech
बीटेक के बाद छात्रों के लिए बेहतर करियर विकल्‍प  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • बीटेक के बाद इंजीनियरिंग सर्विस एग्जाम क्रैक कर बन सकते हैं हाई रैंक ऑफिसर
  • बीटेक के साथ एमबीए कोर्स करना कॉर्पोरेट जगत में आगे बढ़ने का बेहतर विकल्‍प
  • ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट पास कर हासिल कर सकते हैं पीएसयू नौकरियां

Career Option After B.Tech: बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी (Bachelor Of Technology) यानी बीटेक एक ऐसा अंडर ग्रेजुएट पॉपुलर कोर्स है जिसे प्रतिवर्ष लाखों छात्र शानदार करियर का सपना देखते हुए अपनाते हैं। इस कोर्स को इंजीनियरिंग के क्षेत्र का प्रवेश द्वार माना जाता है। हालांकि कई छात्र बीटेक पूरा करने के बाद यह तय नहीं कर पाते कि वे आगे क्‍या करें। ऐसे में छात्रों का मार्गदर्शन बेहद जरूरी हो जाता है। इस आर्टिकल के माध्‍यम से हम आपको उन क्षेत्रों के बारे में विस्‍तार से बताएंगे, जिन्‍हें बीटेक पास युवाओं के लिए बेहतर ऑप्‍शन माना जाता है।

एम.टेक या एमई करना

बीटेक पास छात्रों के लिए यह सबसे आसान और कॉमन रास्‍ता है। ज्‍यादातर छात्र बीटेक के बाद एम.टेक या फिर एमई का कोर्स करना पसंद करते हैं। देश के कई इंजीनियरिंग कॉलेजों में ये दोनों कोर्स कराए जाते हैं। देश के टॉप इंजीनियरिंग कॉलेजों जैसे आईआईटी और एनआईटी से कोर्स करने के लिए छात्रों को ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट पास करना पड़ता है।

एमबीए करना

आज के समय में एमबीए करना बीटेक के बाद छात्रों का पसंदीदा कोर्स बनता जा रहा है। इंजीनियरिंग ग्रेजुएट युवा कार्य अनुभव हासिल करने के लिए कैंपस प्लेसमेंट के माध्यम से जॉब करने का विकल्प चुनते हैं। जिसके बाद वे एमबीए प्रोग्राम को अपना लेते हैं। देश के टॉप एमबीए कॉलेजों में दाखिले के लिए छात्रों को कैट और सीएमएटी जैसे एमबीए एंट्रेंस एग्जाम को क्रैक करना पड़ता है।

Read More - अगर बनना चाहते हैं मार्कोस कमांडो तो पहले देखें इनकी ट्रेनिंग, जानें कौन कर सकता है आवेदन

कैंपस प्लेसमेंट

ज्‍यादातर कॉलेजों में जॉब के लिए छात्रों का चयन प्लेसमेंट के जरिए होता है। देश व विदेश की सैकड़ों कंपनियां प्रतिवर्ष कॉलेजों में जाकर छात्रों का चुनाव करती हैं। ये कंपनियां चुने गए छात्रों को टेक्‍नोलॉजी के फील्‍ड में एंट्री लेवल की जॉब ऑफर करती हैं। आमतौर पर छात्र कैंपस प्‍लेसमेंट का चुनाव इसलिए करते हैं, जिससे उन्‍हें अपने फील्ड का अनुभव मिल सके।

प्राइवेट कंपनियां में डायरेक्‍ट अप्‍लाई

अगर आप कैंपस प्लेसमेंट का विकल्प नहीं चुनना चाहते हैं, तो बीटेक कोर्स पूरा करने के बाद प्राइवेट कंपनियों में डायरेक्‍ट अप्‍लाई कर सकते हैं। यहां छात्रों को एंट्री लेवल की जॉब आसानी से मिल जाती है। जॉब में नॉलेज बढ़ने के साथ आगे बढ़ने की भी पूरी संभावना रहती है।

इंजीनियरिंग सर्विस एग्जाम

जो छज्ञत्र बीटेक के बाद हाई रैंक सरकारी नौकरी हासिल करना चाहते हैं, वे यूपीएससी द्वारा आयोजित इंजीनियरिंग सर्विस एग्जाम में बैठते हैं। इसे क्रैक करने के बाद छात्रों को रेलवे, डिफेंस, पीडब्ल्यूडी व निर्माण व उत्‍पादन से जुड़ी अन्‍य सरकारी विभागों में हाई रैंक पोस्टिंग मिलती है। इस एग्‍जाम को कै्रक करने के लिए छात्र सालों तक मेहनत करते हैं।

पीएसयू नौकरियां

अच्‍छी सरकारी जॉब हासिल करने का एक और बेहतर तरीका है। बीटेक के बाद छात्र गेट यानी ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट में बैठ सकते हैं। इस एग्‍जाम को पास करने के बाद छात्र सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों में जॉब हासिल कर सकते हैं। कई पीएसयू बीटेक के छात्रों को उनके गेट स्‍कोर के आधार पर ही जॉब ऑफर करती हैं। देश की कुछ पीएसयू जैसे सीआईआई, इसरो और बीएआरसी भी गेट स्‍कोर के आधार पर एंट्री लेवल की जॉब ऑफर करती है।

Read More - इन टिप्स की मदद से अपनी तैयारी को बनाएं बेहतर, परीक्षा में अच्छे अंक पक्‍के

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर