Career in Biochemistry: बायोकेमिस्ट्री में है करियर की अपार संभावनाएं, जानें कैसे और कहां से करें कोर्स

सरकारी नौकरी
Updated Jun 21, 2022 | 16:02 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Career in Biochemistry: रिसर्च में रुचि रखने वाले साइंस के छात्रों के लिए बायोकेमिस्ट्री बेस्‍ट करियर ऑप्‍शन बनकर उभरा है। इस फील्‍ड में बहुत सारे यूनिवर्सिटीज कोर्स करा रहे हैं। कोर्स के बाद छात्र आसानी से रिसर्च के फील्‍ड में जाकर शानदार करियर बना सकते हैं...

Career in Biochemistry
बायोकमिस्‍ट्री में कोर्स और करियर ऑप्‍शन   |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • बायोकमिस्‍ट्री कोर्स के बाद आसानी से मिल सकता है लाखों का पैकेज
  • देश के कई यूनिवर्सिटीज में कराए जाते हैं बायोकेमिस्ट्री से संबंधित कोर्स
  • रिसर्च के क्षेत्र में जाने के लिए बेस्‍ट माना जाता है बायोकमिस्‍ट्री को

Career in Biochemistry: रिसर्च में रुचि रखने वाले साइंस के छात्रों के लिए बायोकेमिस्ट्री में करियर बनाने की अपार संभावनाएं हैं। इस कोर्स की सबसे अच्‍छी बात यह है कि बायोटेक्नोलॉजी या माइक्रोबायोलॉजी जैसे सब्जेक्ट की तरह इसका कोर्स करने के लिए आपको ज्यादा भटकना नहीं पड़ेगा। आज के समय में लगभग सभी बड़ी यूनिवर्सिटीज मे बायोकेमिस्ट्री का कोर्स उपलब्ध है।

बायोकेमिस्ट्री में इस समय करियर की संभावनाएं तेजी से बढ़ रही हैं, इसकी वजह इसका रिसर्च का फील्ड है। कोविड वायरस के बाद से इस फील्‍ड में बूस्‍ट आया हुआ है। इसके दायरे में मेडिसिन, मेडिकल साइंस, ऐग्रिकल्चर, फॉरेंसिक साइंस जैसे सब्जेक्ट आते हैं। बायोकेमिस्ट्री दरअसल बायोलॉजिकल प्रोसेस के दौरान होने वाले केमिकल कॉम्बिनेशन और रिएक्शन का अध्ययन है। रिसर्च में रुचि रखने वालों के लिए इस फील्ड में अपार संभावनाएं हैं।

कोर्स के लिए क्वॉलिफिकेशन

बायोकेमिस्ट्री में मास्‍टर डिग्री करने के लिए कम से कम केमेस्ट्री के साथ साइंस में ग्रैजुएशन की डिग्री जरूरी है। कई संस्थानों में पीजी करने के लिए ग्रैजुएशन भी बायोकेमेस्ट्री में होना चाहिए। जिन छात्रों ने इंडस्ट्रियल माइक्रोबायोलॉजी, बॉटनी, फिजियोलॉजी जैसे विषय से ग्रैजुएशन किया हो और ग्रैजुएशन में केमेस्ट्री की पढ़ाई की हो, ऐसे छात्रों को भी कई यूनिवर्सिटियां एमएससी बायोकेमेस्ट्री में ऐडमिशन के योग्य मानती हैं।

Read More - एक लाख से ज्यादा BSF,CRPF आदि में पद खाली,जानें अग्निवीर को कितने मिलेंगे मौके

कोर्स व संबंधित यूनिवर्सिटी

कोर्स: एम एस सी अडवांस बायोकेमेस्ट्री, एमएससी मेडिकल बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: मद्रास यूनिवर्सिटी

कोर्स: एम. एससी बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: दिल्ली यूनिवर्सिटी

कोर्स: एम. एससी मेडिकल बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: जिपमेर, पुडुचेरी

कोर्स: एम. एससी बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: प्रवरा रूरल यूनिवर्सिटी, अहमदनगर (महाराष्ट्र)

कोर्स: एम. एससी बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: साइंस कॉलेज, पटना

कोर्स: एम. एससी बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: हैदराबाद यूनिवर्सिटी

कोर्स: एम. एससी मेडिकल बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: एम्स, नई दिल्ली

कोर्स: एम. एससी बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: कालीकट यूनिवर्सिटी

कोर्स: एम. एससी बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: जीवाजी यूनिवर्सिटी, ग्वालियर

कोर्स: एम. एससी बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी, झांसी

कोर्स: एम. एससी बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: चौधरी चरण सिंह हरियाणा एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी, हिसार

कोर्स: एम. एससी बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी, इंदौर

कोर्स: एम. एससी बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: गोवा यूनिवर्सिटी

कोर्स: एम. एससी बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: आंध्रा यूनिवर्सिटी

कोर्स: एम. एससी बायोकेमेस्ट्री

संस्थान: अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी

बायोकेमिस्ट्री में करियर स्कोप (careers after biochemistry degree)

छात्र बायोकेमिस्ट्री में मास्टर्स डिग्री हासिल कर बतौर ड्रग रिसर्चर, फॉरेंसिक साइंटिस्ट, बायोटेक्नोलॉजिस्ट, फूड टेक्नोलॉजिस्ट, रिसर्च फील्ड और अन्य फील्‍ड में आसानी से जॉब हासिल कर सकते हैं। जो छात्र रिसर्च फील्ड में जाना चाहते हैं वे इस कोर्स में पीएचडी की डिग्री हासिल कर अपना बेहतरीन करियर बना सकते हैं। आज के समय में ड्रग पर रिसर्च करने वाली कंपनियों में इनकी भारी डिमांड है। ये डिग्री हासिल करने वाले लोगों को सैलरी भी अच्छी खासी मिल जाती है। करियर के शुरुआत में ही युवा 40 से 50 हजार प्रति माह की नौकरी हासिल कर सकते हैं। हालांकि सैलरी जॉब देने वाली कंपनी पर निर्भर करती है। कई बार अच्‍छे यूनिवर्सिटी से पढ़े छात्रों को शुरुआती दौर में ही लाखों का पैकेज मिल जाता है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर