Basant Panchami Recipes: मां सरस्वती को अर्पित करें ये तीन भोग, बसंत पंचमी पर घर पर ऐसे करें तैयार

बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा की जाती है और उन्हें पीले भोग अर्पित किए जाते हैं। जानें इस दिन मां सरस्वती को क्या

Representative Image (Image- iStock)
Representative Image (Image- iStock) 
मुख्य बातें
  • 16 फरवरी को मनाया जा रहा है बसंत पंचमी का त्योहार।
  • इस दिन होती है मां सरस्वती की पूजा, मान्यताओं के अनुसार इस दिन हुआ था मां सरस्वती का जन्म।
  • बसंत पंचमी पर मां सरस्वती को पीले रंग के भोग अर्पित किए जाते हैं।

बसंत पंचमी का पर्व ज्ञान, बुद्धि और कला की देवी मां सरस्वती को समर्पित है। इस दिन बंगाल, उत्तर प्रदेश और पंजाब समेत भारत के कई प्रांतों में मां सरस्वती की पूजा की जाती है। बसंत पंचमी का पर्व हर वर्ष माघ महीने में मनाया जाता है और मां सरस्वती को उनके पसंदीदा भोग अर्पित करके प्रसन्न किया जाता है। इस दिन पतंग उड़ाई जाती है। तो वहीं इस दिन घरों में पीले पकवान बनाए जाते हैं। ‌मान्यताओं के अनुसार मां सरस्वती को पीला रंग बेहद पसंद है। अगर आप भी अपने घर में मां सरस्वती की पूजा कर रहे हैं तो इस दिन यह तीन डिश जरूर बनाएं और मां सरस्वती को भोग लगाएं।

बसंत पंचमी के दिन बनाइए यह खास व्यंजन

मूंग की दाल का हलवा

मूंग की दाल का हलवा बनाने के लिए 1 कप मूंग के दाल को धो कर साफ कर लीजिए। मूंग की दाल को सुखाकर उसे पीस दीजिए। अब कढ़ाई में आधा कप घी डालिए और पीसे हुए मूंग की दाल को 7 से 8 मिनट के लिए भून लीजिए। भून जाने के बाद पानी डालिए और गलने के लिए छोड़ दीजिए। जब पानी सूख जाए तब उसमें दूध डालिए और 20 मिनट तक इस मिश्रण को पकने दीजिए। दूध के अच्छी तरह से पकने के बाद चीनी डालिए और मिला लीजिए। सर्व करते समय मूंग दाल के हलवे को बदाम और केसर से गार्निश कीजिए।

केसरी भात

बसंत पंचमी के दिन केसरी भात सबसे प्रसिद्ध व्यंजन है। केसरी भात बनाने के लिए सबसे पहले 1 कप चावल को आधे घंटे के लिए भिगोकर रख दीजिए। अब आधा कप दूध लीजिए और इसमें थोड़ा सा पीला रंग डाल दीजिए फिर केसर डालकर आधे घंटे के लिए रख दीजिए। इतने देर में इलायची के दानों को पीस लीजिए और काजू बदाम को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लीजिए। आधे घंटे बाद चावल के अंदर पानी डालकर उबाल लीजिए। जब चावल पक जाएं तब पानी छानकर अलग रख दीजिए। अब किसी बर्तन में काजू को हल्का गुलाबी होने तक पकाइए। अब एक बर्तन लीजिए फिर उसमें घी डालकर गर्म कीजिए, घी के गर्म होने के बाद उसमें तेजपत्ता, लौंग और इलायची डालिए। जब इनका रंग थोड़ा गाढ़ा हो जाए तब चावल और तीन चौथाई कप चीनी डाल दीजिए। जब चीनी अच्छी तरह से चावल के साथ मिल जाए तब इसमें केसर और पीले रंग का मिश्रण डालिए और अच्छे से मिलाइए। जब सारी सामग्री आपस में मिल जाए तब इलायची, काजू और बादाम डालिए और सर्व कीजिए। 

राजभोग

1/8 चम्मच केसर को इलायची पाउडर, बादाम और पिस्ता के साथ मिलाकर मिक्स कर दीजिए। अब चीनी की चाशनी तैयार कर लीजिए। फिर 2 कप पनीर और 1 चम्मच मैदा को अच्छी तरह से मिला लीजिए और मसल कर मुलायम बना लीजिए। अब इस मिक्सचर को 6 से 8 टुकड़ों में काट दीजिए। अब एक टुकड़ा लीजिए और इसको अपनी हथेली के बीच में दबा कर उसमें पिस्ता और बादाम का मिक्सचर डाल दीजिए और हाथों से बंद करके गेंद की तरह गोल कर लीजिए। ठीक इसी तरह सारे टुकड़ों का गोला बना लीजिए। जब सारे टुकड़े अच्छी तरह से गोल हो जाएं तब उबलती हुई चाशनी में इन्हें डाल दीजिए। ध्यान रखें की गैस का आंच तेज होना चाहिए और चाशनी अच्छी तरह से राजभोग में मिल जानी चाहिए। 15 से 20 मिनट तक पकाने के बाद गैस बंद कर दीजिए और राजभोग ठंडे होने के बाद एक चौथाई चम्मच फूड कलर को पानी में मिक्स करके चाशनी में मिला दीजिए। 
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर