Bihar Chunav: बीजेपी के इन प्रमुख दिग्गजों की किस्मत दांव पर, कई मंत्री भी चुनावी मैदान में

Bihar Election 2020: बिहार विधानसभा चुनाव के लिए पहले चरण के मतदान में महज कुछ ही घंटे बचे हैं। मुख्य मुकाबला एनडीए और महागठबंधन के बीच है।

Bihar Assembly Election 2020 Key Constituencies and Key Candidates of BJP
Bihar Chunav: बीजेपी के इन प्रमुख दिग्गजों की किस्मत दांव पर 

मुख्य बातें

  • बीजेपी के कई दिग्गज उम्मीदवार हैं चुनावी मैदान में
  • नेशनल शूटर श्रेयासी सिंह भी जमुई से हैं बीजेपी के टिकट पर मैदान में
  • बिहार में तीन चरणों में होना है मतदान, 10 नवंबर को घोषित होंगे नतीजे

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए मतदान बुधवार सुबह होने वाला है और इसके लिए तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। मुख्य मुकाबला बीजेपी-जेडीयू गठबंधन वाले एनडीए और महागठबंधन के बीच है। इस बार चुनाव प्रचार में जिस तरह से विपक्ष और सत्ताधारी नेताओं के स्टार प्रचारकों की जनसभाओं में भीड़ जुट रही है, उससे संभावित परिणामों को लेकर कुछ भी कहना जल्दबाजी होगा। पक्ष हो या विपक्ष दोनों ही तरफ कई प्रमुख चेहरे चुनावी मैदान में हैं। तो आईए एन नजर डालते हैं बीजेपी के प्रमुख चेहरों पर-

श्रेयसी सिंह

गोल्डन गर्ल के नाम से मशहूर रही ने बिहार चुनाव की घोषणा से कुछ समय पहले ही बीजेपी का दामन थामा था।  राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय मैदानों में शूटिंग में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुकी श्रेयासी सिंह को सियासत विरासत में मिली है। उनके पिता दिग्गविजय सिंह सांसद रह चुके हैं जबकि मां पुतुल कुमारी भी राजनीति में सक्रिय हैं। बीजेपी ने इश बार उन्हें जमुई विधानसभा सीट से मैदान में उतारा है। श्रेयसी का मुकाबला आरजेडी के मौजूदा विधायक और पूर्व मंत्री विजय प्रकाश से है। श्रेयसी के मैदान में उतरने से जमुई सीट हॉट सीट बन गई है।

नंदकिशोर यादव

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और बिहार सरकार में कैबिनेट मंत्री नंदकिशोर यादव पटना साहिब सीट से मैदान में हैं। उनका मुकाबला कांग्रेस के प्रवीण सिंह से हैं। पिछली बार उन्होंने इस सीट पर 88 हजार से अधिक मतों से जीत दर्ज की थी।  राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सक्रिय स्वयंसेवक के रूप में समाज की सेवा-यात्रा शुरू करने वाले नंदकिशोर यादव इस सीट से लगातार 6 बार विधायक रह चुके हैं। जब वह नेता प्रतिपक्ष रहे तो उनका भाषण काफी वायरल हुआ था और यह इतना लोकप्रिय हुआ  कि बीजेपी को इसे बुकलेट के रूप में प्रकाशित कर बांटना पड़ा।

प्रेम कुमार

बिहार बीजेपी के प्रमुख नेताओं में शुमार प्रेम कुमार सिंह एक बार फिर गया शहरी विधानसभा सीट से मैदान में हैं। 2015 के चुनाव में प्रेम कुमार ने इसी सीट से कांग्रेस के प्रेमरंजन डिंपल को शिकस्त दी थी। डॉ. प्रेम कुमार 1990 के चुनाव से विधायक बनते आ रहे हैं और लगातार सात बार विधायक रह चुके हैं। इस बार उनका मुख्य मुकाबला कांग्रेस के ओंकार नाथ उर्फ मोहन श्रीवास्तव से है। वहीं आरएलएसपी से रणधीर कुमार मैदान में हैं।

रामनारायण मंडल

बिहार सरकार में राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामनारायण सिंह एक बार फिर बांका विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में हैं जहां उनका मुकाबला आरजेडी के डॉ. जावेद इकबाल अंसारी से है। रामनारायण यहां से पांच बार विधायक रह चुक हैं और इस बार उनकी राह आसान नहीं दिख रही है। पिछली बार रामनारायण ने इस सीट पर 3 हजार वोटों के नजदीकी अंतर से जीत दर्ज की थी।

मिथिलेश तिवारी

बिहार भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष मिथिलेश तिवारी को बीजेपी ने एक बार फिर से बैकंठपुर सीट से अपना उम्मीदवार बनाया है। मिथिलेश कुमार का मुकाबला राजद के प्रेम शंकर प्रसाद से है। अगर पिछले चुनाव की बात करें तो यहां बीजेपी ने अपना कब्जा किया था। मिथिलेश तिवारी को 2015 के चुनाव में जीत मिली थी और उन्होंने जदयू के उम्मीदवार मंजीत कुमार सिंह को 14,115 वोटों के अंतर से हराया था।

विजय कुमार सिन्हा

लखीसराय विधानसभा सीट पर सोमवार को पहले चरण के तहत मतदान होना है। बीजेपी ने इस सीट पर एक बार फिर से विजय कुमार सिन्हा पर दांव लगाया है जो पिछले 10 साल से यहां से विधायक रहे हैं। वहीं राजद ने यहां जदयू छोड़कर आए नए चेहरे अमरेश कुमार को चुनावी मैदान में उतारा है।  विजय कुमार सिन्हा बिहार सरकार में श्रम मंत्री रहे हैं।

Bihar Vidhan Sabha Chunav के सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर