Showik Chakraborty NCB Investigation: शोविक चक्रवर्ती-सैमुअल मिरांडा NCB के घेरे में, खुल रहे हैं राज

Showik Chakraborty and Samuel Miranda: सुशांत सिंह राजपूत केस में जांच जैसे जैसे आगे बढ़ रही है वैसे वैसे ड्रग्स माफिया और बॉलीवुड के बीच कनेक्शन की तस्वीर साफ हो रही है।

SSR Death Case: शोविक चक्रवर्ती और सैमुअल मिरांडा को एनसीबी का समन, ड्रग्स मामले की हो रही है जांच
ड्रग्स एंगल की जांच कर रही है एनसीबी 

मुख्य बातें

  • सुशांत सिंह राजपूत केस में सीबीआई के साथ साथ ईडी और एनसीबी भी कर रही हैं जांच
  • जांच में ड्रग्स माफिया और बॉलीवुड कनेक्शन की खबर
  • रिया चक्रवर्ती के भाई शोविक औक सुशांत के हाउस मैनेजर रहे सैमुअल मिरांडा पर कसा शिकंजा

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच में मोटे तौर पर दो जानकारी जो सामने आ रही है वो यह है कि सीबीआई को अब तक मर्डर के कोई सबूत नहीं मिले हैं। इसके साथ ड्रग्स का एंगल सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण विषय हो चुका है। सीबीआई के साथ साथ ईडी और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो भी जांच में शामिल है। एनसीबी की टीम रिया चक्रवर्ती के घर पर छापा मारा। इसके साथ रिया के भाई शोविक चक्रवर्ती और सुशांत के मैनेजर रहे सैमुअल मिरांडा को समन कर जांच में सहयोग करने के लिए कहा है। अभी तक जो जानकारी सामने आ रही है उसके मुताबिक रिया के घर से ड्रग्स की बरामदगी नहीं हुई है।

एक एक कर खुल रहे हैं राज
सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामले में नए चेहरे बेनकाब हो रहे हैं। इस तरह के आरोप हैं कि उन्होंने सुशांत को ड्रग्स का ओवरडोज दिया और उन्हें कंट्रोल में रखने की कोशिश की। इसमें एक नया नाम कैज इब्राहिम का सामने आ रहा है। बताया जा रहा है कि कैज इब्राहिम की उम्र 23 साल की है. उसने एकाउंटिंग और फाइनेंस से बैचलर डिग्री हासिल की है। इसके साथ ही वो रियल एस्टेट ब्रोकर है। इस तरह की जानकारी है कि  कैज ही रिया के भाई शोविक और उसके फ्रेंड सर्किल को ड्रग्स सप्लाई करता था। हालांकि इसके बारे में पुख्ता तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता है। 

सुशांत केस में ड्रग्स एंगल
सुशांत केस में जब जांच आगे बढ़ी तो ड्र्ग्स का इशू बड़ी तेजी से सामने आया और शुरूआती जांच में पता चला कि कहीं न कहीं बॉलीवुड का एक बड़ा तबका इस तरह के जाल में फंसा हुआ है। बीजेपी के एक बड़े नेता राम कदम ने खत्री नाम के एक व्यक्ति पर सवाल उठाते हुए कहा था कि बेहतर है कि एनसीबी अपनी जांच का दायरा बढ़ाए ताकि यह मामला पारदर्शी तरह से सामने आ सके। 

Mumbai News in Hindi (मुंबई समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर