'मेंटल वूमन' है कंगना रनौत, शिवसेना का अभिनेत्री पर तीखा हमला

Kangana Ranaut: शिवसेना ने अपने मुख पत्र 'सामना' के जरिए अभिनेत्री कंगना रनौत पर फिर हमला बोला है। शिवसेना ने अभिनेत्री को 'मेंटल वूमन' करार दिया है। समझा जाता है कि कंगना इस पर पलटवार करेंगी।

Shivsena attacks on Kangana Ranaut terms her as Mental Woman
शिवसेना ने कंगना रनौत पर बोला तीखा हमला।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • पिछले कुछ दिनों से कंगना रानौत और संजय राउत के बीच जारी है निजी हमले
  • संजय राउत ने अभिनेत्री पर उठाए हैं सवाल, मुंबई न आने की दी है चेतावनी
  • अभिनेत्री का कहना है कि वह नौ सितंबर को मुंबई आएंगी, हिमाचल प्रदेश सरकार देगी सुरक्षा

मुंबई : अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में शिवसेना ने अभिनेत्री कंगना रनौत पर अपना हमला और तेज कर दिया है। शिवसेना के मुख पत्र 'सामना' में कंगना को 'मेंटल वूमन' बताया गया है। संपादकीय में शिवसेना ने कहा है कि 'मेंटल वूमन' कंगना को महाराष्ट्र में रहने का अधिकार नहीं है क्योंकि उन्होंने मुंबई और यहां की पुलिस का अपमान किया है। सोमवार के 'सामना' के संपादकीय में  विधानसभा के सत्र के बारे में जानकारी देते हुए पार्टी ने भाजपा पर भी हमला बोला है। सुशांत केस में शिवसेना नेता संजय राउत और कंगना के बीच जुबानी जंग देखने को मिली है। दोनों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला अब व्यक्तिगत हमले तक पहुंच गया है।

अपने संपादकीय से शिवसेना का अभिनेत्री पर हमला
सामना के संपादकीय में लिखा गया है, 'मेंटल वूमन ने मुंबई और मुंबई पुलिस का अपमान किया है। ऐसे में उसे महाराष्ट्र में रहने का अधिकार नहीं है। इस बारे में महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने पहले ही बेबाकी से बयान दे दिया है। इसका पालन कराया जाएगा।' संपादकीय में भाजपा पर हमला करते हुए कहा गया है कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील के मुताबिक उनकी पार्टी पुलिस अधिकारियों के तबादले पर सरकार से सवाल करेगी। 

कंगना के बयान को 'अपमानजनक' बताया
विपक्षी पार्टी की तरफ से सुशांत सिंह राजपूत और कंगना रनौत जैसे तथाकथित राष्ट्रीय हित के मुद्दे उठाए जाएंगे। सही मायनों में विपक्षी पार्टी को महाराष्ट्र के बारे में इस तरह का बयान देने वाले बाहरी लोगों के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए क्योंकि इन लोगों ने 'मुंबई को पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर की तरह' बताया है। इस तरह का बयान मराठी लोगों एवं मुंबई की सुरक्षा में शहीद होने वाले 106 सैनिकों का अपमान है। 

कंगना के बयान की निंदा की मांग
संपादकीय में आगे कहा गया है, 'एक बाहरी अभिनेत्री जिसने मुंबई में सब कुछ हासिल किया, वह अगर इस तरह का बयान देती है तो उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। अभिनेत्री ने मुंबई के बारे में गलत बातें कही हैं। विधानसभा के सत्र के दौरान अभिनेत्री के इस बयान की जरूर निंदा होनी चाहिए।' शिवसेना ने कहा है कि विपक्षी पार्टियों को अनिल देशमुख, मुंबई के कमिश्नर और राज्य की पुलिस में भरोसा जताना चाहिए।   

हिमाचल प्रदेश सरकार अभिनेत्री को देगी सुरक्षा
सुशांत सिंह मौत मामले में मुंबई पुलिस पर सवाल उठाने वाली अभिनेत्री और संजय राउत के बीच आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला तेज हुआ है। अभिनेत्री ने कहा है कि राउत पूरे महाराष्ट्र का नेतृत्व नहीं करते और वह नौ सितंबर को मुंबई लौट रही हैं। इस बीच, राउत के साथ जारी विवाद को देखते हुए अभिनेत्री के पिता ने अपनी बेटी की सुरक्षा को लेकर हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को पत्र लिखा है और उनसे सुरक्षा देने की मांग की है। मुख्यमंत्री ने रविवार को कहा, 'कंगना रनौत के पिता ने सुरक्षा की मांग करते हुए पत्र लिखा है। मैंने भी कंगना से बात की है। इस बारे में पुलिस महानिदेशक को निर्देश दे दिया गया है।'

Mumbai News in Hindi (मुंबई समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर