मुंबई लोकल ट्रेन में 14 साल पहले गायब हो गया था बटुआ, पुलिस ढूंढकर मालिक को सौंपा

मुंबई समाचार
भाषा
Updated Aug 09, 2020 | 15:49 IST

मुंबई पुलिस ने एक ऐसा केल सुलझाया जो सुर्खियों में है। दरअसल 14 साल पहले एक शख्स को जो बटुआ मुंबई की लोकल में गुम हुआ था उसे पुलिस ने ढूंढ निकाला है।

Man's wallet lost in Mumbai local train found by cops after 14 years
मुंबई: ट्रेन में 14 साल पहले गायब हुए पर्स को पुलिस ने ढूंढा  |  तस्वीर साभार: Getty Images

मुख्य बातें

  • लोकल ट्रेन में गायब हुआ बटुआ पुलिस को 14 साल बाद मिला
  • पर्स में थे 900 रुपये, पुलिस ने मालिक को खोजकर उसे सौंपा
  • 900 रुपये में एक 500 का पुराना नोट भी, जो चलन से हो चुका है बंद

मुंबई: मुंबई की लोकल ट्रेन में 14 साल पहले चोरी हुए बटुए को पुलिस ने ढूंढकर उसे उसके मालिक को सौंप दिया है। बटुए में 900 रुपये थे। रेलवे पुलिस (जीआरपी) के एक अधिकारी ने कहा कि 2006 में छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल-पनवेल लोकल ट्रेन में यात्रा करते समय हेमंत पेडलकर का बटुआ खो गया था। इस साल अप्रैल में जीआरपी वाशी ने उन्हें फोन कर बताया कि उनका बटुआ मिल गया है।

हालांकि, तब लागू लॉकडाउन के कारण वह अपना बटु लेने नहीं जा सके। प्रतिबंध हटने के बाद पनवेल निवासी पेडलकर वाशी में जीआरपी कार्यालय गए और उसमें रखी राशि सहित अपना बटुआ लिया।

पेडलकर ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘उस समय मेरे बटुए में 900 रुपये थे जिसमें 500 रुपये का पुराना नोट भी था जो बाद में विमुद्रीकरण के बाद बंद हो गया। वाशी जीआरपी ने मुझे 300 रुपये वापस कर दिए। उन्होंने स्टाम्प पेपर के काम के लिए 100 रुपये काट लिए और कहा कि बाकी के 500 रुपये नोट बदलने के बाद मिल जाएंगे।’ जीआरपी के एक अधिकारी ने कहा कि पेडलकर का बटुआ चुराने वालों को कुछ समय पहले गिरफ्तार किया गया था।

Mumbai News in Hindi (मुंबई समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर