Maharashtra: 'ट्रांसफर रैकेट' पर उद्धव ने नहीं की कार्रवाई, 6.3 जीबी का डेटा गृह सचिव को सौंपूंगा: फड़णवीस

Maharashtra Transfer racket: एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए फड़णवीस ने कहा कि चिट्ठी मामले में पवार को ठीक ढंग से ब्रीफ नहीं किया गया था और इससे राष्ट्रीय कद के नेता की 'खराब तस्वीर पेश हुई।'

Maharashtra Transfer racket: Fadnavis to give sensitive information to Home Secretary
देवेंद्र फड़णवीस ने उद्धव सरकार पर निशाना साधा। 

मुख्य बातें

  • महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस का दावा 'ट्रांसफर रैकेट' पर उद्धव सरकार ने नहीं की कार्रवाई
  • भाजपा नेता का कहना है कि कि जिस अधिकारी ने यह रिपोर्ट तैयार की पहले उसका प्रमोशन रोका गया
  • फड़णवीस ने कहा कि वह संवेदनशील जानकारियों एवं डेटा को दिल्ली में गृह सचिव से मिलकर उन्हें देंगे

मुंबई : महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर की ओर से लिखी गई चिट्ठी पर भाजपा आक्रामक हो गई है। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने मंगलवार को उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली सरकार पर जमकर हमला बोला। फड़णवीस ने दावा किया कि उद्धव सरकार अपने गृह मंत्री को बचाने की प्रयास कर रही है लेकिन उसका पर्दाफाश हो गया है। महाविकास अघाडी सरकार पर हमला बोलते हुए भाजपा नेता ने शरद पवार की प्रेस कॉन्फ्रेंस की उन बातों में खामियां बताईं जिनका उल्लेख देशमुख के बचाव में राकांपा प्रमुख ने किया।  इसके अलावा फड़णवीस ने दावा किया है कि राज्य में 'ट्रांसफर रैकेट' सक्रिय है और इससे जुड़ी संवदेनशील रिपोर्ट उनके पास आई है। 

फड़णवीस ने 'ट्रांसफर रैकेट' का जिक्र किया
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि 'ट्रांसफर रैकेट' से जुड़ी संवदेनशील जानकारी वह दिल्ली जाकर गृह सचिव को सौंपेंगे। उन्होंने कहा, '6.3 जीबी की डेटा रिपोर्ट सीएम को भेजे गया था लेकिन इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। यह रिपोर्ट बाद में गृह मंत्री के पास आई। लेकिन दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होने के बजाय कमिश्नर इंटेलिजेंस का प्रमोशन रोक दिया गया। बाद में उनको प्रमोशन सिविल डिफेंस दिया। उन्हें रिपोर्ट तैयार करने की सजा दी गई।'

चिट्ठी मामले में पवार को ठीक से ब्रीफ नहीं किया गया
एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए फड़णवीस ने कहा कि चिट्ठी मामले में पवार को ठीक ढंग से ब्रीफ नहीं किया गया था और इससे राष्ट्रीय कद के नेता की 'खराब तस्वीर पेश हुई।' उन्होंने कहा, 'शरद पवार ने सोमवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अनिल देशमुख अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद क्वरंटाइन में थे। गत 15 फरवीर को देशमुख एक प्राइवेट प्लेन से मुंबई आए। जबकि यह कहा जा रहा है कि वह घर में क्वरंटाइन थे।'

'ट्रांसफर रैकेट' की सीबीआई जांच की मांग
राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, 'मेरे पास उनकी यात्रा के दो शेड्युल हैं। गत 17 फरवरी को देशमुख दोपहर तीन बजे सहयाद्रि गेस्ट हाउस में थे और 24 फरवरी को वह अपने आवास से मंत्रालय गए। इस दौरान वह कई लोगों एवं अधिकारियों से मिले। यह जानकारी आसानी से प्राप्त की जा सकती है।' फड़णवीस ने एक बार फिर देशमुख का इस्तीफा मांगा। भाजपा नेता ने इस पूरे कथित 'ट्रांसफर रैकेट' मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है।

Mumbai News in Hindi (मुंबई समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर